Sunday, January 23, 2022
Homeभारतअफगानी छात्रों के लिए भारत से वीजा मांग रहा तालिबान, जानें क्या...

अफगानी छात्रों के लिए भारत से वीजा मांग रहा तालिबान, जानें क्या है पूरा मामला


नई दिल्ली. तालिबान सरकार (Taliban Government) चाहती है कि अफगानिस्तान में फंसे छात्रों (Afghan Students) को भारत सरकार वीजा (VISA) दे. इसके लिए तालिबान की तरफ से भारत सरकार तक अपनी बात पहुंचाई गई है. दरअसल ये छात्र भारत में विभिन्न संस्थानों में पढ़ाई कर रहे हैं. अगस्त महीने में अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद भारत सरकार ने इन छात्रों का वीजा कैंसिल कर दिया था. इसके बाद ये छात्र अफगानिस्तान में ही फंसे हुए हैं. इससे पहले तालिबान सरकार ने दोनों देशों के बीच फ्लाइट शुरू करने के लिए भी नई दिल्ली से संपर्क साधा था.

नूर जाहिद पैमान (Noor Zahid Paiman) भी ऐसे ही छात्रों में हैं जो इस वक्त वक्त अफगानिस्तान में हैं. वो शारदा यूनिवर्सिटी में बीएससी कंप्यूटर साइंस के छात्र हैं. उन्होंने न्यूज़18 को फोन पर बताया कि वो करीब 6 महीने से फंसे हुए हैं. उन्होंने कहा-‘हमने विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी से दो बार मुलाकात कर मुद्दा उठाया है. उन्होंने कहा कि सरकार ने इसके लिए नई दिल्ली से संपर्क साधा है.’

करीब 2500 अफगानी छात्रों का मामला
बीते जून महीने में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान नूर काबुल गए थे. उस वक्त भारत में सभी शैक्षणिक संस्थाओं को बंद कर दिया गया था. ऑनलाइन माध्यम से क्लास चल रही थीं. लेकिन महज दो महीने के भीतर अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा हो गया और फिर स्थितियां बिल्कुल बदल गईं. अब जब हालात बदल रहे हैं तो क्लासेज ऑनलाइन के बजाए ऑफलाइन मोड में लौट रही हैं. नूर उन 2500 अफगानी छात्रों में से हैं जो इस वक्त भारत से वीजा मिलने का इंतजार कर रहे हैं. साथ ही दोनों देशों के बीच कोई उड़ान भी नहीं है.

अफगानी छात्रों ने की ईरान स्थित भारतीय दूतावास की यात्रा
इसी तरह पुणे युनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहे वारिस हिम्मत भी भारत नहीं आ पा रहे हैं. उनका कहना है कि काबुल में भारतीय दूतावास काम नहीं कर रहा है. वारिस ने 200 अन्य छात्रों के साथ ईरान की यात्रा कर वहां स्थित भारतीय दूतावास से संपर्क साधा था. लेकिन उन्हें बताया गया कि अब नए सिरे से वीजा के लिए अप्लाई करना होगा. वारिस ने भारतीय दूतावास से निवेदन किया था कि उन्हें वीजा दिया जाए जिससे वो पढ़ाई पूरी कर सकें.

क्या बोला ICCR
इस बीच अफगान छात्रों को वीजा देने वाले इंडियन काउंसिल ऑफ कल्चरल रिलेशंस (ICCR) ने कहा है-अगर यूनिवर्सिटी/इंस्टिट्यूट फिजिकल क्लास शुरू कर रहे हैं तो उन्हें (छात्रों) ई-वीजा के लिए अप्लाई करना चाहिए. ICCR स्कॉलरशिप के जरिए मिलने वाली सुविधाएं इंस्टिट्यूट ज्वाइन करने पर पूर्ववत मिलने लगेंगी.

(पूरी स्टोरी यहां क्लिक कर पढ़ी जा सकती है.)

Tags: Afghanistan, Taliban





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular