Monday, June 27, 2022
Homeशिक्षाअब रोबोट देंगे बच्चों को जन्म! वैज्ञानिकों के नए आविष्कार से क्रांति

अब रोबोट देंगे बच्चों को जन्म! वैज्ञानिकों के नए आविष्कार से क्रांति


नई दिल्ली: ऐसे Robots जो ना सिर्फ बच्चों को जन्म दे सकता है बल्कि चोट लगने पर और बीमारी होने पर खुद को ठीक भी कर सकता है. यानी अब विज्ञान ने इतनी तरक्की कर ली है कि एक दिन इंसान शायद अपना ही एक कृत्रिम रूप बनाने में सक्षम हो जाएगा.

बच्चों को जन्म देंगे रोबोट

अमेरिका के वैज्ञानिकों ने अफ्रीका में पाए जाने वाले एक मेंढक की Stem cells की मदद से ऐसे जीवित Robots तैयार किए हैं. इन Robots को Xeno Bots कहा जा रहा है. आकार में एक मिलीमीटर से भी छोटे इन Robots को पिछले वर्ष विकसित किया गया था. तब वैज्ञानिकों ने इनमें चलने की क्षमता विकसित की थी, ये समूहों में काम भी कर सकते थे और ये अपना उपचार खुद करने में भी सक्षम थे. लेकिन इस साल इन्हें संतान को भी जन्म देने के योग्य बना दिया गया है.

कैसे बनाया गया ये खास रोबोट?

इस प्रयोग को करने वाले वैज्ञानिकों का कहना है कि उन्होंने पहले मेंढक के भ्रूण से कुछ विशेष कोशिकाओं को अलग किया और फिर ये देखा कि वो अपने आस-पास के वातावरण में खुद को कैसे ढालती हैं? इस दौरान वैज्ञानिकों ने पाया कि ये कोशिकाएं ना सिर्फ नए वातावरण में ढल गईं बल्कि इन्होंने चलना भी शुरू कर दिया और ये Reproduction यानी प्रजनन में भी सक्षम हो गईं.

ये भी पढ़ें- भारत पर ओमिक्रॉन का वार, देश कितना तैयार? वेश बदलकर आया कोरोना

रोबोट में विकिसत हुई प्रजनन की क्षमता

इस दौरान मेंढकों की Stem कोशिकाओं में कोई Genetic बदलाव नहीं किया गया क्योंकि Stem कोशिकाएं खुद को दूसरी कोशिकाओं में बदलने में सक्षम होती हैं. इस प्रयोग के लिए वैज्ञानिकों ने Artificial Intelligence और Super Computer की भी मदद ली. AI और Super Computer ने इन कोशिकाओं को एक ऐसा आकार दिया जिससे ये Reproduction में सक्षम हो गईं.

वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि ये Living Robots भविष्य में समुद्र में Micro Plastic की सफाई और इंसानों में कैंसर जैसी बीमारियों को रोकने के भी काम आएंगे. इन्हीं की मदद से लोगों की बढ़ती उम्र को भी रोका जा सकेगा क्योंकि जब किसी व्यक्ति की उम्र बढ़ती है तो उसके शरीर की कोशिकाएं मरने लगती हैं लेकिन भविष्य में ये कोशिकाओं जैसे Robots उनकी जगह ले पाएंगे और इंसानों की बढ़ती उम्र को रोकना संभव हो जाएगा.

ये भी पढ़ें- Omicron वैरिएंट में अब तक हो चुके हैं 50 म्यूटेशन, वैक्सीन की 2 डोज पर भी है भारी

लेकिन पूरी दुनिया में इस तरह के प्रयोगों पर सवाल भी उठ रहे हैं क्योंकि कई लोगों का मानना है कि ये प्रकृति से छेड़छाड़ है. पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस के बदलते रूप से परेशान है ऐसे में अगर इंसानों ने वो Robots बना लिए जो चलने-फिरने में और बच्चे पैदा करने में सक्षम होंगे तो ना जाने दुनिया को कौन सी नई मुसीबत का सामना करना पड़ जाए.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular