Friday, January 28, 2022
Homeभारतअभी तक भारत में क्‍यों नहीं आई टेस्‍ला की कार? एलन मस्‍क...

अभी तक भारत में क्‍यों नहीं आई टेस्‍ला की कार? एलन मस्‍क बोले- चुनौतियों से निपटने में लगे हैं हम


नई दिल्‍ली. भारत में टेस्‍ला (Tesla) की कार की लॉन्चिंग को लेकर कंपनी भारत सरकार के साथ लगातार बातचीत कर रही है. टेस्‍ला के सीईओ एलन मस्‍क (Elon Musk) ने भारतीय बाजार में अपनी इलेक्ट्रिक कार उतारने के बारे में कहा है कि भारत में कपंनी के लिए अभी बहुत सी चुनौतियां हैं. वहीं, नीति आयोग का कहना है कि टेस्‍ला की इम्‍पोर्ट ड्यूटी कम करने की मांग पर सरकार जल्‍द फैसला ले सकती है.

एक ट्वीटर यूजर ने एलन मस्‍क (Elon Musk) से पूछा था, ‘टेस्‍ला को भारत में लॉन्च करने के बारे में अपडेट क्‍या है? ये लाजवाब हैं और इनको विश्‍व के हर कोने में होना चाहिए.’ मस्‍क ने जवाब दिया कि अभी कंपनी के सामने भारत में कई चुनौतियां हैं. टेस्‍ला इनसे निपटने में लगी है.

ये भी पढ़ें :  बजट 2022 : इनकम टैक्स देने वाले लोग इसे जरूर पढें, आपके दिल की बात है इसमें

इम्‍पोर्ट ड्यूटी बनी बाधा
गौरतलब है कि पिछले साल जुलाई में टेस्‍ला ने प्रधानमंत्री कार्यालय से इलेक्ट्रिक व्हिकल (electric vehicles-EV) पर इम्‍पोर्ट टैक्‍स कम करने को कहा था. टेस्‍ला भारत में अपनी इलेक्ट्रिक कारें बाहर से इम्‍पोर्ट (imported cars) करके बेचना चाहती है, परंतु भारत में ज्‍यादा इम्‍पोर्ट टैक्‍स उसकी राह में बाधा बने हुए हैं. टेस्‍ला की इम्‍पोर्ट टैक्‍स कम करने की गुजारिश का घरेलू इलेक्ट्रिक वाहन निर्माताओं ने विरोध किया था. उनका कहना था कि इम्‍पोर्ट ड्यूटी कम करने से घरेलू मैन्‍यूफैक्‍चरिंग सेक्‍टर में निवेश (investment in domestic manufacturing) को बुरी तरह प्रभावित करेगा.

टैक्‍स पर जल्‍द फैसला संभव
सरकार जल्‍द ही टेस्‍ला के टैक्‍स कम करने के आग्रह पर विचार कर सकती है. सरकार टेस्‍ला की मांग पर भारत में मैन्‍यूफैक्‍चरिंग प्‍लांट लगाने की शर्त पर मान सकती है. नीति आयोग (NITI Aayog) के सीईओ अमिताभ कांत ने इकोनॉमिक टाइम्‍स को बताया कि टेस्‍ला के प्रपोजल का मूल्‍यांकन किया जा रहा है और इस पर जल्‍द फैसला हो सकता है. नीति आयोग सरकार का प्रमुख थिंक टैंक है जो प्रशासन को नीति निर्माण के संबंध में राय देता है.

ये भी पढ़ें : Tax standard deduction : जानिए क्‍या है यह छूट और क्‍यों इसमें बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं कर्मचारी

एलन मस्‍क भारत में निर्माण संयंत्र स्‍थापित करने के इच्‍छुक भी हैं, पर वो चाहते हैं कि पहले भारत में टेस्‍ला की कारों की एंट्री हो जाए. मस्‍क वर्तमान 60 फीसदी इम्‍पोर्ट ड्यूटी को 40 फीसदी करने की मांग कर रहे हैं.

गडकरी कह चुके हैं, चीन की बनी कार नहीं चलेगी
बिजनेस टुडे की एक खबर के मुताबिक 2021 में हुई इंडिया टुडे कॉन्‍कलेव में केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था कि टेस्‍ला भारत में जल्‍द आने को उत्‍सुक है. गडकरी ने कहा, “ मैंने टेस्‍ला के अधिकारियों को कहा था कि चीन में कार बनाकर भारत में मत बेचिए. मेरे जो दिमाग में था, मैंने उन्‍हें कह दिया. भारत आओ, यहीं कार बनाओ, बेचो और निर्यात करो. सरकार आपकी हर संभव मदद करेगी.” तब गडकरी ने कहा था कि टेस्‍ला जल्‍द ही भारत आएगी और उसने मार्केटिंग शुरू कर दी है.

Tags: Electric Car, Elon Musk, Tesla car



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular