Wednesday, September 22, 2021
Home राजनीति अलीगढ़ में बच्चा चोर गैंग का बड़ा खुलासा: गिरोह के सदस्यों ने...

अलीगढ़ में बच्चा चोर गैंग का बड़ा खुलासा: गिरोह के सदस्यों ने तैयार कराया था फर्जी गोदनामा, चोरी किए हुए बच्चों को अपना बताकर दूसरों से मोटी रकम लेकर बेचते थे


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Aligarh
  • Big Disclosure Of Child Thief Gang In Aligarh; Gang Members Had Prepared Fake Papers, Used To Sell Stolen Children To Others By Pretending To Be Their Own

अलीगढ़17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
अलीगढ़ पुलिस ने ऑपरेशन खुशी के तहत रविवार रात छापेमारी करके बच्चा चोरी का पर्दाफाश किया था। - Dainik Bhaskar

अलीगढ़ पुलिस ने ऑपरेशन खुशी के तहत रविवार रात छापेमारी करके बच्चा चोरी का पर्दाफाश किया था।

अलीगढ़ से पकड़े गए बच्चा चोरी गैंग को लेकर रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं। पुलिस को गिरोह के सदस्यों के पास से गोदनामे के फर्जी दस्तावेज बरामद हुए हैं। इसे आरोपियों ने चोरी किए हुए बच्चों को अपनी संतान बता कर दूसरे को गोद देने के लिए तैयार कराया था। यह गोदनामा बिल्कुल फर्जी तरीके से तैयार किया गया था।

पैसे के लिए चोरी किए हुए बच्चों को बेचते थे
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपियों से की जा रही पूछताछ के दौरान फर्जी गोदनामे का पता चला। जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों द्वारा बताई गई जगह से ये दस्तावेज बरामद किए। गोदनामे में बबली नाम की महिला ने ने कार्तिक नाम के बच्चे को अपना बेटा बताते हुए उसे मनीषा देवी को गोद देने की बात कही है। इसमें दोनों पक्षों के लोगों की फोटो भी नहीं लगाई गई है। केवल दो नाम ही लिखे हुए हैं। पुलिस ने बताया कि मनीषा देवी को दिया गया बच्चा चोरी किया हुआ था और गोदनामे के दस्तावेज भी बिल्कुल फर्जी तरीके से तैयार किए गए थे।बच्चे को पैसे के लिए मनीषा को बेच दिया गया था।

फर्जी गोदनामा मिलने के बाद पुलिस ने बढ़ाई धाराएं
आरोपियों से पूछताछ के बाद फर्जी गोदनामा व अन्य दस्तावेज मिलने के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ दर्ज मुकदमें में धाराएं बढ़ाई हैं। इसमें फर्जी गोदनामा तैयार करने, चोरी किए हुए बच्चे को अपना बच्चा बताने के अपराध की धारा भी शामिल है। इसके साथ ही पुलिस लगातार आरोपियों से पूछताछ जारी है।

पुलिस कर रही मामले की जांच
एसपी सिटी कुलदीप गुणावत ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ में फर्जी गोदनामा व फर्जी दस्तावेज बरामद हुए हैं। यह सभी चोरी किए हुए बच्चे को अपना बच्चा बता कर लोगों को बेचते थे। पुलिस अभी इस मामले की जांच रही है, इसके साथ ही मुकदमे की धाराओं में भी बढ़ोतरी की गई है।

पुलिस ने 16 आरोपियों को किया था गिरफ्तार
अलीगढ़ पुलिस ने ऑपरेशन खुशी के तहत रविवार रात छापेमारी करके बच्चा चोरी का पर्दाफाश किया था। जिसमें 16 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। वहीं इनकी गिरफ्त से 5 बच्चों को मुक्त कराया था। पुलिस ने सभी बच्चों को उनके परिजनों के हवाले किया गया था। इसके बाद आरोपियों से लगातार पूछताछ जारी थी। पुलिस के अनुसार आरोपियों ने 6 बच्चे चोरी करने की बात कबूली है। इसमें 5 बच्चे बरामद हो चुके हैं। जबकि एक बच्चे को आरोपियों ने मुंबई में बेचने की बात बताई है। इस बच्चे को गैंग ने गाजियाबाद से चुराया था और इसके बाद अपने सर्किल के जरिए मुंबई में भेजा है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular