Tuesday, August 3, 2021
Home भारत आज कश्मीरी पार्टियों संग PM मोदी की अहम बैठक, क्या फिर मिलेगा...

आज कश्मीरी पार्टियों संग PM मोदी की अहम बैठक, क्या फिर मिलेगा राज्य का दर्जा?


नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) से आर्टिकल 370 (Article 370) को हटे हुए तकरीबन दो साल होने वाले हैं. आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) जम्मू-कश्मीर के क्षेत्रीय दलों के साथ बैठक करेंगे. कयास लगाए जा रहे हैं कि केंद्र राज्य का दर्जा बहाल करने को लेकर चर्चा कर सकता है. दरअसल, 5 अगस्त 2019 में केंद्र ने जब यहां राष्ट्रपति शासन लागू किया था तो उस वक्त भी केंद्रीय नेतृत्व ने वादा किया था कि घाटी में स्थिति ठीक होते ही राज्य का दर्जा दोबारा बहाल कर दिया जाएगा.

बैठक में जम्मू-कश्मीर का राज्य का दर्जा बहाल करने, परिसीमन और चुनाव कराने को लेकर गंभीर चर्चा हो सकती है. केंद्र 5 अगस्त 2019 को किए अपने वादे पर कायम रहते हुए राज्य का दर्जा बहाल करने को लेकर स्थानीय पार्टियों को भरोसा दे सकता है. तो दूसरी तरफ जम्मू-कश्मीर की 83 सीटों का परिसीमन कर उन्हें 90 सीटों तक लाया जा सकता है. हालांकि अभी यह साफ नहीं है कि परिसीमन के लिए तय हुई 7 सीटों में से कितनी सीटें जम्मू और कितनी कश्मीर को दी जाएंगी. लेकिन यह तय है कि यह सीटें आरक्षित वर्ग वाले क्षेत्रों में ही बढ़ाई जाएंगी. दूसरी तरफ राज्य की राजनीतिक पार्टियों ने यह साफ कर दिया है कि विशेष दर्जा दोबारा देने का अपना एजेंडा केंद्र के सामने रखेंगी. केंद्र राज्य का दर्जा बहाल करने को लेकर चर्चा कर सकता है.

जम्मू कश्मीर के 8 दल के नेता लेंगे बैठक में हिस्सा

22 जून को पिपुल्स अलाइंस फॉर गुप्कर डिक्लेरेशन में शामिल सभी पार्टियों ने केंद्र से मिले बैठक में शामिल होने के इनविटेशन के बाद एक बैठक की थी. इस अलायंस में राज्य की पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस समेत कई पार्टियां शामिल हैं. इस बैठक में यह निर्णय लिया गया कि दिल्ली में 24 जून को केंद्रीय नेतृत्व में होने वाली बैठक में सभी दल शामिल होंगे. लेकिन वे अपना एजेंडा भी वहां रखेंगे.

महबूबा ने कहा खुले दिमाग से लेंगी बैठक में हिस्सा लेकिन इससे पहले ‘पाक’ प्रेम भी जागा

दिल्ली में 24 जून को होने वाली बैठक से ठीक पहले पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती का ‘पाक प्रेम’ जाग उठा. जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती ने 22 जून को श्रीनगर में गुपकार गठबंधन के नेताओं की मुलाकात के बाद कहा, ‘सरकार दोहा में तालिबान के साथ बातचीत कर रही है. मुद्दों के समाधान के लिए पाकिस्तान से भी बातचीत करनी चाहिए.’ हालांकि दिल्ली रवाना होने से पहले महबूबा ने यह भी कहा कि वे केंद्र के साथ खुले दिमाग से बात करेंगी.

पीएम के अलावा ये लोग बैठक में निभाएंगे हिस्सेदारी

प्रधानमंत्री के अलावा इस बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह के शामिल होने की संभावना है. इसके अलावा एनएसए अजीत डोभाल और होम सेक्रेटरी अजय भल्ला भी बैठक में सभी नेताओं से बातचीत करेंगे.

जम्मू-कश्मीर के चार पूर्व मुख्यमंत्री समेत सभी स्थानीय पार्टियों को दिया गया न्यौता

नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीपुल्स डेमॉक्रेटिक पार्टी, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस, जेकेएपी, कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधि बैठक में हिस्सा लेंगे. बैठक में जम्मू-कश्मीर के चार पूर्व मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे. इसमें फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, उमर अब्दुल्ला और गुलाम नबी आजाद के नाम शामिल हैं. इसके अलावा सज्जाद लोन, अल्ताफ बुखारी, मोहम्मद युसूफ तारिगामी, निर्मल सिंह, कविंद्र गुप्ता सरीखे नेताओं को भी बुलाया गया है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular