Tuesday, November 30, 2021
Homeराजनीतिआर्यन के मामले में होना चाहिए सॉफ्ट कार्नर: अलीगढ़ आए कॉमेडियन सुनील...

आर्यन के मामले में होना चाहिए सॉफ्ट कार्नर: अलीगढ़ आए कॉमेडियन सुनील पाल ने शाहरुख के बेटे आर्यन के मामले में की बातचीत, बोले युवाओं से हो जाती है गलती


अलीगढ़11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
अलीगढ़ में सामाजिक कार्यक्रम में शामिल होने आए कॉमेडियन सुनील पाल - Dainik Bhaskar

अलीगढ़ में सामाजिक कार्यक्रम में शामिल होने आए कॉमेडियन सुनील पाल

युवाओं से अक्सर गल्तियां हो जाती हैं और वह नासमझी में गल्तियां कर देते हैं। लेकिन उन्हें सुधरने का एक मौका मिलना चाहिए। बच्चे ने अगर गलत कदम उठाया है तो उसे समझाना कर सुधरने का मौका देना चाहिए और थोड़ी नर्मी बरतनी चाहिए। यह बात अलीगढ़ आए जाने माने कॉमेडियन सुनील पाल ने मंगलवार को कही। वह बॉलीवुड स्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन के मामले में बात कर रहे थे और अपनी राय दे रहे थे। उन्होंने कहा कि यह मामला कोई गंभीर अपराधिक मामला नहीं है, इसलिए अगर आर्यन को सुधरने का एक मौका मिलेगा तो वह ज्यादा बेहतर होगा।

बच्चे की गलती में माता पिता का दोष नहीं

वहीं आर्यन के ड्रग्स केस में बोलते हुए उन्होंने कहा कि आज इस घटना के बाद से शाहरुख खान और उनके परिवार को लगातार ट्रोल किया जा रहा है। लगातार लोग शाहरुख खान को इस बारे में जिम्मेदार ठहरा रहे हैं, लेकिन कोर्इ भी माता पिता अपने बच्चे की गलती के लिए जिम्मेदार नहीं होता है। उन्होंने कहा कि यह बच्चे के ऊपर निर्भर करता है कि वह अपने माता पिता की दी हुई छूट का किस तरह से इस्तेमाल करता है। उन्होंने अपना उदाहरण देते हुए कहा कि उनके पिता भी शराब का सेवन करते थे, लेकिन उन्होंने कभी शराब को हाथ तक नहीं लगाया।

अलीगढ़ शहर की करी जमकर तारीफ

कार्यक्रम के दौरान कॉमेडियन सुनील पाल ने अलीगढ़ शहर और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि जिस शहर की शुरूआत अली के नाम से हो, वह शहर सबसे निराला है। इसके साथ यहां की एएमयू अपनी शिक्षा के लिए देश विदेश में जानी जाती है। इस दौरान उन्होंने अलीगढ़ शहर का नाम हरिगढ़ किए जाने पर बहुत ही खूबसूरती से जवाब दिया और कहा कि अली और हरी में कोर्इ फर्क नहीं है। दोनों ही एक हैं बस दोनों के नाम अलग हैं।

लोगों की पसंद के अनुसार बन रही वेब सीरीज

ओटीटी प्लेटफार्म और वेब सीरीज पर बात करते हुए वह बोले कि आज वेब सीरीज पर गाली गलौज और अपशब्दों का प्रयोग इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि लोग इसे पसंद कर रहे हैं। जिन सीरीज में ऐसा कुछ होता है, वह ज्यादा चलती है। इसलिए लोगों को अपनी सोच बदलनी होगी, तभी इसका ट्रेंड बदलेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इनके लिए भी सेंसर बोर्ड होना चाहिए, जिससे फिल्टर का काम किया जा सके।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular