Thursday, September 23, 2021
Home राजनीति इलाहाबाद विश्वविद्यालय : अंतिम वर्ष 10591 छात्र-छात्राएं प्रमोट, रिजल्ट जारी

इलाहाबाद विश्वविद्यालय : अंतिम वर्ष 10591 छात्र-छात्राएं प्रमोट, रिजल्ट जारी


prayagraj news : इलाहाबाद विश्वविद्यालय।
– फोटो : prayagraj

ख़बर सुनें

इलाहाबाद विश्वविद्यालय (इविवि) एवं संघटक महाविद्यालयों के स्नातक तृतीय यानी अंतिम वर्ष के 10591 छात्र-छात्राओं के बिना परीक्षा प्रमोट कर दिया गया है। इविवि प्रशासन ने शनिवार को स्नातक अंतिम वर्ष का रिजल्ट भी जारी कर दिया। सभी विद्यार्थियों के अंकों का विवरण मार्कशीट के रूप में इविवि की वेबसाइट पर उपलब्ध है। विद्यार्थी अंकों का विवरण वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं और संबंधित इकाई से मार्कशीट की मूल प्रति भी प्राप्त कर सकते हैं।

इविवि के परीक्षा नियंत्रक प्रो. रमेंद्र कुमार सिंह की ओर से जारी परिणाम के अनुसार स्नातक तृतीय वर्ष के शतप्रतिशत छात्र-छात्राओं को प्रमोट किया गया है। स्नातक तृतीय वर्ष के प्रमोट किए गए कुल 10591 छात्र-छात्राओं में सर्वाधिक 5449 यानी 51.54 फीसदी विद्यार्थी द्वितीय श्रेणी में प्रमोट हुए हैं। वहीं, प्रथम श्रेणी में 3975 विद्यार्थियों (37.53 फीसदी) और तृतीय श्रेणी में सबसे कम 1167 विद्यार्थियों (11 फीसदी) को प्रमोशन दिया गया है। 

बीए तृतीय वर्ष के 7089, बीएससी तृतीय वर्ष के 1520 और बीकॉम तृतीय वर्ष के 1982 छत्र-छात्राओं को प्रमोशन मिला है। सबसे बेहतर परिणाम बीएससी तृतीय वर्ष का रहा, जिसमें सर्वाधिक 56.44 फीसदी विद्यार्थी प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुए हैं। बीएससी तृतीय वर्ष में 858 विद्यार्थी प्रथम श्रेणी, 566 विद्यार्थी (37.23 फीसदी) द्वितीय श्रेणी और 96 विद्यार्थी (6.31 फीसदी) तृतीय श्रेणी में प्रमोट किए गए हैं।

वहीं, बीए तृतीय वर्ष के 2553 छात्र (36 फीसदी) प्रथम श्रेणी, 3718 छात्र (52.44 फीसदी) द्वितीय श्रेणी और 818 विद्यार्थी (11.53 फीसदी) तृतीय श्रेणी में प्रमोट किए गए हैं। इसके अलावा बीकॉम तृतीय वर्ष के 564 विद्यार्थी (28.54 फीसदी), 1165 विद्यार्थी (58.77 फीसदी) और 253 छात्र (12.76 फीसदी) छात्र तृतीय श्रेणी में प्रमोट किए गए हैं। 

एक परीक्षा से पूरा हुआ तीन साल का स्नातक पाठ्यक्रम

इविवि में पिछले साल स्नातक प्रथम वर्ष के छात्रों को द्वितीय वर्ष और द्वितीय वर्ष के छात्रों को तृतीय वर्ष में प्रमोट किया गया था और इस बार तृतीय वर्ष के छात्रों को दोबारा प्रमोशन मिला। इन छात्रों को प्रथम वर्ष की परीक्षा के आधार पर प्रमोशन दिया गया है। यानी छात्रों ने प्रथम वर्ष की परीक्षा देकर तीन वर्ष का स्नातक पाठ्यक्रम पूरा कर लिया।

इस फार्मूले के तहत दिया गया प्रमोशन

तृतीय वर्ष के छात्रों को द्वितीय वर्ष में भी कोविड के मद्देनजर प्रमोशन मिला था, जबकि इससे पहले उन्होंने पहले वर्ष की परीक्षा दी थी। प्रथम वर्ष की परीक्षा में मिले अंकों में दस फीसदी का इंक्रीमेंट देकर द्वितीय वर्ष का रिजल्ट तैयार किया गया और द्वितीय वर्ष में इंक्रीमेंट समेत मिले कुल अंकों पर सात फीसदी का इंक्रीमेंट देकर तृतीय वर्ष का रिजल्ट जारी किया गया। यानी छात्रों को इंक्रीमेंट पर इंक्रीमेंट दिया गया।

अपडेड किया गया रिजल्ट

इविवि प्रशासन ने शनिवार को जारी स्नातक तृतीय वर्ष के रिजल्ट को देर शाम अपडेट किया। परीक्षा नियंत्रक प्रो. रमेंद्र कुमार सिंह के अनुसार सभी छात्र वेबसाइट पर अपडेट किए गए रिजल्ट को भी एक बार देख लें। अगर उनके रिजल्ट में कोई संशोधन हुआ है तो संशोधित मार्कशीट को ही डाउनलोड करें।

दरोगा भर्ती के अभ्यर्थियों को मिली बड़ी राहत

स्नातक तृतीय वर्ष का रिजल्ट जारी होने से दरोगा भर्ती के अभ्यर्थियों को भी बड़ी राहत मिली है। दरअसल, दरोगा भर्ती के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 15 जून निर्धारित है और नियमत: आवेदन की अंतिम तिथि तक अर्हता पूरी होने पर ही आवेदन मान्य होता है। तृतीय वर्ष के छात्र लगातार मांग कर रहे थे कि उन्हें 15 जून से पहले प्रमोट करते हुए रिजल्ट जारी कर दिया जाए। 12 जून को रिजल्ट आने से छात्रों को राहत मिलेगी।

विस्तार

इलाहाबाद विश्वविद्यालय (इविवि) एवं संघटक महाविद्यालयों के स्नातक तृतीय यानी अंतिम वर्ष के 10591 छात्र-छात्राओं के बिना परीक्षा प्रमोट कर दिया गया है। इविवि प्रशासन ने शनिवार को स्नातक अंतिम वर्ष का रिजल्ट भी जारी कर दिया। सभी विद्यार्थियों के अंकों का विवरण मार्कशीट के रूप में इविवि की वेबसाइट पर उपलब्ध है। विद्यार्थी अंकों का विवरण वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं और संबंधित इकाई से मार्कशीट की मूल प्रति भी प्राप्त कर सकते हैं।

इविवि के परीक्षा नियंत्रक प्रो. रमेंद्र कुमार सिंह की ओर से जारी परिणाम के अनुसार स्नातक तृतीय वर्ष के शतप्रतिशत छात्र-छात्राओं को प्रमोट किया गया है। स्नातक तृतीय वर्ष के प्रमोट किए गए कुल 10591 छात्र-छात्राओं में सर्वाधिक 5449 यानी 51.54 फीसदी विद्यार्थी द्वितीय श्रेणी में प्रमोट हुए हैं। वहीं, प्रथम श्रेणी में 3975 विद्यार्थियों (37.53 फीसदी) और तृतीय श्रेणी में सबसे कम 1167 विद्यार्थियों (11 फीसदी) को प्रमोशन दिया गया है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular