Sunday, June 26, 2022
Homeखेलइस विस्फोटक खिलाड़ी का करियर पूरी तरह से हुआ तबाह! भारत को...

इस विस्फोटक खिलाड़ी का करियर पूरी तरह से हुआ तबाह! भारत को जिताई थी चैंपियंस ट्रॉफी


नई दिल्ली: भारत टीम पूरी दुनिया में अपनी मजबूत बल्लेबाजी के लिए फेमस है, लेकिन पिछले कुछ सालों में टीम इंडिया की तेज गेंदबाजी बहुत ही मजबूत हुई है. इन गेंदबाजों के दम पर ही भारत ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में धमाकेदार जीत हासिल की है. सेलेक्टर्स टीम इंडिया के एक स्टार क्रिकेटर को खेलने का मौका नहीं दे रहे हैं, जिससे उसका करियर खतरे में नजर आ रहा है. इस प्लेयर ने अपने दम पर भारत को चैंपियंस ट्रॉफी दिलाई थी. 

खतरे में इस स्टार प्लेयर का करियर 

भारत की टेस्ट टीम में भुवनेश्वर कुमार को काफी दिनों से मौका नहीं मिला है. जबकि उनकी गेंदों में खेलना किसी के लिए भी आसान नहीं है. जब गेंद उनके हाथ में हो तो ऐसा लगता है कि वह आग का गोला फेंक रहे हों. फिर भी इतने खतरनाक गेंदबाज को सेलेक्टर्स टीम में मौका नहीं दे रहे हैं. ऐसे में भुवनेश्वर कुमार के करियर पर पावरब्रेक लगते हुए दिखाई दे रहे हैं. 

भारत को जिताई थी चैंपियंस ट्रॉफी 

भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) ने अपने दम भारत को 2013 चैंपियंस ट्रॉफी का दिलाई थी. उस समय उन्होंने खतरनाक गेंदबाजी का नजारा पेश किया था, लेकिन धीरे-धीरे उनकी गेंदों की चमक फीकी पड़ने लगी और सेलेक्टर्स ने उन्हें मौका देना बंद कर दिया. वह साउथ अफ्रीका दौरे पर टीम के हार के कारणों में से एक थे. उनकी गेंदों में वह धार नजर नहीं आ रही थी, जिसके लिए वो जाने जाते हैं. वह विकेट झटकने के लिए तरस गए हैं. साउथ अफ्रीका में जहां जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) और शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) रन बचाने की कोशिश कर रहे थे. वहीं भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) खूब रन लुटा रहे थे. इसलिए अफ्रीका के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया गया था. किसी समय वह भारतीय गेंदबाजी आक्रामण के अगुवा थे, लेकिन अपने खराब प्रदर्शन के कारण वह इस स्थिती में पहुंच गए हैं कि उन्हें टीम में जगह नहीं मिल रही है. 

खराब फॉर्म से जूझ रहा ये खिलाड़ी

श्रीलंका के खिलाफ तीसरे टी20 से भी भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) को बाहर का रास्ता दिखाया गया था. वह टीम इंडिया के ऊपर सबसे बड़ा बोझ बन गए थे. उनकी गेंदों पर विपक्षी बल्लेबाज जमकर रन बना रहे हैं. वह टीम इंडिया (Team India) के लिए सबसे बड़ा सिरदर्द बन गए हैं. उनकी गेंदों में वह लय नजर नहीं आ रही है, जिसके लिए वो जाने जाते हैं. वह बहुत ही महंगे भी साबित हो रहे हैं. भुवनेश्वर कुमार को हमेशा ही स्विंग गेंदबाजी के लिए जाना जाता है, लेकिन वह इसमें अब बिल्कुल ही फेल नजर आ रहे हैं. वह विकेट झटकने के लिए तरस रहे हैं. नकी गेंदों की चमक फीकी पड़ने लगी और सेलेक्टर्स ने उन्हें मौका देना बंद कर दिया. वह साउथ अफ्रीका (South Africa) दौरे पर टीम के हार के कारणों में से एक थे.

तीन साल से चल रहे टीम इंडिया से बाहर 

भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) टीम इंडिया की टेस्ट टीम (Test Team) से पिछले तीन साल से बाहर चल रहे हैं. उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच 2018 में खेला था. उन्होंने भारत के लिए अपना टेस्ट डेब्यू 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था. उन्होंने भारत के लिए 21 टेस्ट मैचों में 63 विकेट लिए हैं. अब उनकी टेस्ट मैचों में वापसी नामुमकिन नजर आ रही है. उनकी वापसी सभी रास्ते बंद हो गए हैं. उनकी जगह मोहम्मद सिराज और उमेश यादव शानदार प्रदर्शन का नजारा पेश कर रहे हैं. 

टीम इंडिया को जिताए कई मैच 

किसी समय भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) भारतीय टीम के नंबर एक गेंदबाज थे. उनकी गेंदों से विपक्षी बल्लेबाज खौफ खाते थे, लेकिन धीरे-धीरे कहानी बदल गई और वह सेलेक्टर्स की निगाह में वह हाशिए पर चले गए. भुवनेश्वर कुमार ने भारत के लिए तीनों ही फॉर्मेट में खेला है. उन्होंने भारत के लिए 21 टेस्ट मैचों में 63 विकेट, 121 वनडे मैचों में 141 विकेट और 55 टी20 मैचों में 53 विकेट चटकाए हैं.

यह भी पढ़े: खत्म नहीं हो रही धोनी की मुश्किलें, KKR के खिलाफ पहले मैच में नहीं खेलेगा ये खिलाड़ी





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular