Wednesday, October 27, 2021
Home राजनीति एसएसपी ने जांच का निर्देश दिया: हबीबपुर थानेदार की मनमर्जी की खुली...

एसएसपी ने जांच का निर्देश दिया: हबीबपुर थानेदार की मनमर्जी की खुली पोल, पथराव व तोड़फोड़ में लगाई थी डकैती की धारा, एसएसपी ने कहा- इस धारा का औचित्य नहीं


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • The Section Of Robbery Was Imposed In Open Pole, Stone Pelting And Sabotage At The Discretion Of Habibpur Police Station, SSP Said This Section Is Not Justified

भागलपुर15 मिनट पहलेलेखक: राकेश पुरोहितवार

  • कॉपी लिंक
  • तोड़फोड़, पथराव में 32 से अधिक लोगों पर पुलिस ने किया था डकैती का केस, हबीबपुर में पुलिस पर हुआ था पथराव, राइफल छीनने की हुई थी कोशिश

6 मार्च 2021 को शाहजंगी नवटोलिया में 2 पक्षों के विवाद की जांच को गई हबीबपुर थाने की पुलिस पर पथराव हो गया था। इसमें एक जवान का सिर फूट गया था और थाने की गाड़ी का शीशा टूट गया था। हबीबपुर थानेदार कृपा सागर की ओर से दर्ज कराई गई प्राथमिकी में 32 नामजद और 50 अज्ञात को आरोपी बनाया गया था।

थानेदार ने बस्तीवालों पर राइफल छीनने का प्रयास का आरोप लगाया था और केस में आरोपियों पर पुलिस पर हमला, पथराव, सरकारी काम में बाधा पहुंचाने, थाने की गाड़ी में तोड़फोड़ समेत डकैती (भादवि 395) की भी धारा भी लगाई थी। लेकिन एसएसपी ने जांच में डकैती की धारा को हटा दिया है। जांच रिपोर्ट में एसएसपी ने जिक्र किया है कि केस में डकैती की धारा का औचित्य नहीं है।

32 में 26 आरोपियों पर केस पाया गया सत्य, 6 पर जांच जारी
मामले में आरोपी बनाए गए 32 महिला-पुरूषों में 26 पर केस सत्य पाया गया है। बाकी 6 की संलिप्तता के बिंदु पर एसएसपी ने जांच का निर्देश दिया है। जिन आरोपियों पर केस सत्य पाया गया है, उसमें रूचि देवी, तेतर यादव, अभय यादव, अनंत यादव, आनंदी यादव, राजा यादव, शबनम कुमारी, शंकर यादव, अनिल यादव, नीलम देवी, नागो यादव, संतोष यादव, नवीन यादव, कामो यादव, आडवाणी यादव, कृष्णा यादव, गिरधारी यादव,

महेश यादव, ओम प्रकाश मंडल, शत्रुघ्न यादव, राजेंद्र यादव, सुरेंद्र यादव, वीरेंद्र यादव, मुंदर यादव, हरिनारायण यादव, गोपाल यादव शामिल हैं। जबकि नीतू कुमारी, शिवन यादव उर्फ शुभम यादव, विपिन यादव, राजू यादव उर्फ राजेश, विनोद यादव और सनोज यादव की घटना में संलिप्तता के बिंदु पर जांच के बाद निर्णय लेने का निर्देश जांच अधिकारी को दिया गया है। सभी आरोपी शाहजंगी नवटोलिया के रहने वाले हैं।

घटना के समय ओडिशा में थे, पुलिस ने बना दिया था आरोपी
इस मामले में हबीबपुर थानेदार ने आंख मूंद कर प्राथमिकी दर्ज की गई थी। आरोपी सनोज यादव घटना के पहले 3 फरवरी से ओडिशा में है। पुलिस ने उसे भी आरोपी बना दिया था। सनोज की पत्नी ने अपने पति का मोबाइल नंबर देकर मामले की जांच की मांग की है। उसी तरह राम प्यारी देवी ने अपने पति राजेश कुमार यादव, पुत्र शिवन यादव उर्फ शुभम ने भी दोनों को घटना के समय अन्य होने का दावा किया है। पुलिस ने बीए की

छात्रा नीतु कुमारी को भी अारोपी बनाया है। उसकी दादी जगनी देवी ने पोती को निर्दोष बता कर केस से नाम हटाने की मांग की है। एसएसपी ने आदेश दिया है कि जिन लोगों ने निर्दोष होने का सबूत दिया है, उसकी गहराई से जांच के बाद ही घटना में संलिप्तता के बिंदु पर निर्णय ले।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular