Tuesday, January 18, 2022
Homeविश्वकोरोना के बढ़ते खतरे के बीच फीका रहा क्रिसमस का जश्न, पोप...

कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच फीका रहा क्रिसमस का जश्न, पोप ने मांगी ये दुआ


रोम: कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट की दहशत के बीच दुनिया ने शनिवार को क्रिसमस (Christmas 2021) का त्योहार मनाया. हालांकि उसमें लोगों की भीड़ काफी कम रही और कोरोना (Corona) प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया गया. 

गरीब देशों के लिए पोप ने मांगी दुआ

पोप फ्रांसिस (Pope Francis) ने कहा कि गरीब देशों के लोगों तक कोरोना वैक्सीन पहुंचने की दुआ की जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि अमीर देशों में जहां 90 प्रतिशत तक लोगों को कोरोना वैक्सीन लग चुकी हैं. वहीं अफ्रीका में अब तक केवल 8.9 प्रतिशत लोगों को ही टीके की दोनों डोज मिली हैं. जिसके चलते अफ्रीका महाद्वीप सबसे कम टीकाकरण वाला देश बन गया है. 

इटली में इसी हफ्ते कोरोना के 50 हजार मामले

इटली में इस हफ्ते इटली में एक दिन में 50,000 से ज्यादा मामले आए. हालांकि सरकार ने अबतक लॉकडाउन लगाने के आदेश नहीं दिए हैं. इसी माहौल में मने क्रिसमस में पोप ने कहा, ‘हम इन संघर्षों के इतने आदी हो गए हैं कि इतनी त्रादसी के होने के बावजूद, इस पर कोई बात नहीं की जाती है. हम अपने इतने सारे भाइयों और बहनों के दर्द और संकट को सुनने का जोखिम नहीं उठाते हैं.’ क्रिसमस पर होने वाला पोप (Pope Francis) का वार्षिक ‘उरबी एत ओरबी’संबोधन बंद हॉल में आयोजित किया गया. 

दक्षिण कोरिया में कोरोना (Corona) प्रोटोकॉल की वजह से चर्चों की कुल क्षमता के मुकाबले 70 प्रतिशत कम श्रद्धालु ही प्रार्थना में शामिल हो सके. चर्च में भी उन्हीं लोगों को एंट्री दी गई, जो कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके थे. दक्षिण कोरिया में कोरोना संक्रमण और मौतों के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. जिसके बाद वहां पर कड़े प्रतिबंध लगाने पड़े हैं.

ऑस्ट्रेलिया में भी बढ़ाई गई सख्ती

ऑस्ट्रेलिया में भी कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर राज्यों को मास्क और अन्य उपायों को अनिवार्य करना पड़ा है. वहां चर्च में क्रिसमस पर प्रार्थना सभाएं आयोजित हुई लेकिन उनमें लोगों की भागीदारी काफी कम रही. 

भारत में भी सादे तरीके से क्रिसमस (Christmas 2021) मनाया गया और भीड़ से ज्यादा सजावट को प्रमुखता से की गई. अधिकारियों ने दिल्ली- मुंबई सहित पांच बड़े शहरों में रात का कर्फ्यू और अन्य पाबंदियां लगाई है. मुंबई में लोगों ने मध्य रात्रि की प्रार्थना में हिस्सा लिया लेकिन उनकी संख्या सीमित रही.

ये भी पढ़ें- ओमिक्रॉन के खतरे के बीच बूस्टर डोज पर सरकार का बड़ा फैसला, जानें कब और किसे लगेगा टीका

फिलीपींस में परेशानी के बीच मना क्रिसमस

वही एशिया में कैथोलिक ईसाई की सबसे बड़ी आबादी वाले देश फिलीपीन में हजारों लोगों ने बिना आवास, बिजली या पर्याप्त भोजन के क्रिसमस (Christmas 2021) मनाया. वहां पर पिछले हफ्ते आए शक्तिशाली तूफान ने मध्य प्रांत में भारी तबाही मचाई है. जिसमें 375 लोगों की इसमें जान चली गई है.

LIVE TV





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular