Saturday, December 4, 2021
Homeभारतकोविन पोर्टल पर नया अपडेट, सरकार की इस सुविधा के बाद अब...

कोविन पोर्टल पर नया अपडेट, सरकार की इस सुविधा के बाद अब नहीं लेना पड़ेगा वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट


नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ वैक्सीनेशन (Covid-19 Vaccination) के लिए स्लॉट बुक करने की सुविधा में हमें कोविन पोर्टल (COWIN Portal) पर मिलती है. बुकिंग के बाद निर्धारित तारीख पर हमें वैक्सीनेशन कराना होता है. केंद्र सरकार के इस पोर्टल पर अब एक नई सुविधा को लागू किया गया है. इस सुविधा के बाद कोविन पोर्टल का सर्विस प्रवाइडर (Service Provider) टीका लेने वाले व्यक्ति की सहमति से उसके टीकाकरण का स्टेटस चेक कर सकता है. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.

टीकाकरण के स्टेटस को चेक करने के लिए cowin.gov.in पर जाना होगा. इसके बाद मेन पेज पर शेयर टीकाकरण स्थिति या फिर अपनी टीकाकरण स्थिति देखे करके बटन मिलेगा. इस बटन में क्लिक करना होगा. बटन में क्लिक करने के बाद एक नया पेज ओपने होगा और यहां पर टीका लेने वाले को अपना मोबाइल नंबर और पूरा नाम दर्ज करना होगा.

रजिस्टर्ड नंबर पर आएगा ओटीपी
इस स्टेप्स को पूरा करने के बाद सबमिट का बटन क्लिक करना होगा और फिर 180 सेकेंड के अंदर एक ओटीपी रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आएगा. इस 6 अंकों के ओटीपी को अपने कोविन पोर्टल पर दर्ज करना होगा. ओटीपी डालते ही लाभार्थी की पूरी डिटेल ओपेन हो जाएगी. इसमें वैक्सीनेशन स्टेटस की जगह पर पूरी तरह से टीकाकरण या फिर आंशिक रूप से टीकाकरण लिखा होगा.

लाभार्थी अपने स्टेटस को अपने फ्रैंड्स और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर डायरेक्ट सोशल मीडिाय प्लेटफॉर्म पर शेयर भी कर सकता है. यहां गौर करने वाली बात यह है कि जब कोई व्यक्ति अपने पोर्टल पर लॉगिन करेगा तो उसे एक शील्ड भी नजर आएगी.

ऊपर बताए गए स्टेप्स को फॉलो करके सर्विस प्रवाइडर किसी भी व्यक्ति का टीकाकरण की स्थिति को चेक कर सकता है, हालांकि इसके लिए उसे उस शख्स की मंजूरी और उसके मोबाइल नंबर और उसके पूरे नाम की जरूरत पड़ेगी. सरकार की तरफ से शुरू की गई उन लोगों के लिए ज्यादा फायदेमंद हो सकती है जिनके पास डिजिटल या फिर जिन्हें पेपर में टीटाकरण की स्थिति का प्रमाण पत्र नहीं मिल सकता.

16 जनवरी 2021 को एक्टिव हुआ था पोर्टल
गौरतलब है कि सरकार ने 16 जनवरी से कोविन पोर्टल को एक्टिव किया था और इसी दिन से सरकार ने कोरोना महामारी के खिलाफ एक राष्ट्रव्यापी अभियान की शुरुआत की थी. यहां पर सरकार की तरफ से इसे सुविधाजनक बनाने के लिए अंग्रेजी, हिंदी, मराठी, मलयालम, बंगाली, कन्नड़, तेलुगु, तमिल, पंजाबी, असमिया, गुजराती और उड़िया भाषा में उपलब्ध कराया गया है.

Tags: CoWIN, Vaccination certificate





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular