Saturday, May 28, 2022
Homeराजनीतिगाजियाबाद में कैबिनेट मंत्री ने कराई गोदभराई: आंगनबाड़ी केंद्र पर गोदभराई और...

गाजियाबाद में कैबिनेट मंत्री ने कराई गोदभराई: आंगनबाड़ी केंद्र पर गोदभराई और अन्न प्राशन रस्म में शामिल हुईं बेबी रानी मौर्य


गाजियाबाद43 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद के गांव सारा स्थित आंगनबाड़ी केंद्र पर पहुंचीं कैबिनेट मंत्री बेबी रानी मौर्य ने नवजात शिशुओं को अन्न प्राशन कराया। - Dainik Bhaskar

गाजियाबाद के गांव सारा स्थित आंगनबाड़ी केंद्र पर पहुंचीं कैबिनेट मंत्री बेबी रानी मौर्य ने नवजात शिशुओं को अन्न प्राशन कराया।

गाजियाबाद की मोदीनगर तहसील के सारा गांव स्थित आंगनबाड़ी केंद्र पर गुरुवार को महिला एवं बाल विकास मंत्री बेबी रानी मौर्य की मौजूदगी में पांच गर्भवती महिलाओं की गोदभराई और छह माह की आयु पूरी कर चुके पांच बच्चों का अन्न प्राशन कराया गया। कैबिनेट मंत्री ने गर्भवती महिलाओं को पोषण पोटली भेंट की। उन्हें अपने आहार पर विशेष ध्यान देने की सलाह दी। कैबिनेट मंत्री बेबी रानी मौर्य ने कहा कि गर्भवती को अतिरिक्त पोषण की जरूरत इसलिए होती है क्योंकि उसके गर्भ में पल रहे बच्चे को भी उसी के भोजन से आहार प्राप्त होता है। जरूरी है कि महिलाएं गर्भकाल में मौसमी फल, मौसमी सब्जी और प्रोटीन के लिए दाल और सूखे मेवे नियमित रूप से लें, ताकि उनकी आने वाली संतान स्वस्थ हो। कैबिनेट मंत्री ने छह माह की आयु पूरी कर चुके पांच बच्चों का अन्न प्राशन कराया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि छह माह की आयु तक बच्चे को केवल स्तनपान ही कराएं। इस अवधि तक मां का दूध शिशु के लिए पूर्ण आहार होता है। छह माह आयु पूरी करने पर शिशु के मानसिक और शारीरिक विकास के लिए अतिरिक्त पोषण की जरूरत होती है। अन्न प्राशन की परिकल्पना इसी उद्देश्य से की गई है। यानी छह माह की आयु पर ही बच्चे को मां के दूध के साथ अन्न की जरूरत होती है। इस मौके पर जिला कार्यक्रम अधिकारी शशि वार्ष्णेय, बाल विकास परियोजना अधिकारी सुमन शर्मा, सुपरवाइजर आरती राठी, सुनीता सैनी और बृजेश रानी उपस्थित रहीं।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular