Saturday, May 28, 2022
Homeभारतगृह मंत्रालय ने मुश्ताक अहमद जरगर को घोषित किया 'नामित आतंकवादी', कंधार...

गृह मंत्रालय ने मुश्ताक अहमद जरगर को घोषित किया ‘नामित आतंकवादी’, कंधार प्लेन हाईजैक के दौरान हुआ था रिहा


नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आतंकवादी संगठन अलउमर-मुजाहिदीन के संस्थापक और मुख्य कमांडर मुश्ताक अहमद जरगर को गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम, 1967 (UAPA) के तहत नामित आतंकवादी घोषित किया है. मुश्ताक अहमद जरगर उन आतंकवादियों में से एक था, जिन्हें 1999 में इंडियन एयरलाइंस की फ्लाइट हाईजैक मामले में यात्रियों की सुरक्षित वापसी के लिए भारत सरकार को रिहा करना पड़ा था. कुछ दिन पहले ही केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मुंबई 26/11 बम ब्लास्ट के मास्टरमाइंड और लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद के बेटे ​तल्हा हाफिज सईद को नामित आतंकवादी घोषित किया था.

गौरतलब है कि 24 दिसंबर 1999 को नेपाल की राजधानी काठमांडू से दिल्ली के लिए उड़ान भरने वाली इंडियन एयरलाइंस की फ्लाइट IC-814 को अपहरणकर्ताओं ने कब्जे में ले लिया था, और इसकी लैंडिंग अफगानिस्तान के कंधार में कराई थी. उस वक्त भी अफगानिस्तान में तालिबानी शासन था. इस विमान की कंधार में लैंडिंग कराने से पहले अपहरणकर्ता इसे लाहौर और फिर दुबई भी ले गए थे. एक हफ्ते से अधिक समय तक चले इस बंधक संकट में, यात्रियों की सुरक्षित वापसी के लिए उस वक्त की अटल बिहारी वाजपेयी सरकार को मसूद अजहर, अहमद ओमर सईद शेख, मुश्ताक अहमद जरगर जैसे आतंकवादियों को रिहा करने के लिए मजबूर होना पड़ा था. इस पूरे संकट के दौरान 1 यात्री की मौत हो गई थी, जबकि 170 यात्री सुरक्षित लौटे थे.

इस आधार पर गृह मंत्रालय ने आतंकी घोषित किया
टीओआई की एक रिपोर्ट में गृह मंत्रालय का उल्लेख करते हुए कहा गया है कि जरगर जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान से अभियान चला रहा है. गृह मंत्रालय ने कहा कि हत्या, हत्या का प्रयास, अपहरण, आतंकवादी हमलों की योजना बनाने और उसे अंजाम देने और आतंकी फंडिंग सहित कई आतंकी अपराधों में भी उसकी प्रमुख भूमिका थी.

जहूर मिस्त्री की पिछले महीने कराची में हुई थी हत्या
इंडियन एयरलाइंस की फ्लाइट IC-814 की हाईजैकिंग में शामिल जहूर मिस्त्री उर्फ ​​जाहिद अखुंद की पिछले महीने पाकिस्तान के कराची में हत्या हो गई थी. जहूर मिस्त्री उर्फ जाहिद अखुंद दिसंबर 1999 में कंधार विमान अपहरण के पांच अपहरणकर्ताओं में से एक था. मिस्त्री कई सालों से फर्जी पहचान के साथ कराची में रह रहा था और यहां की अख्तर कॉलोनी में फर्नीचर का करता था.

Tags: Home Minister Amit Shah, MHA, Terrorism In India





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular