Monday, April 12, 2021
Home राजनीति जाते-जाते दर्द दे गया 2020: आगरा में तालाब की खुदाई के दौरान...

जाते-जाते दर्द दे गया 2020: आगरा में तालाब की खुदाई के दौरान मिट्टी धंसने से आठ बच्चे दबे, तीन ने दम तोड़ा


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आगराएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

यह हादसा आगरा के रूनकता इलाके में हुआ। इसमें एक बच्चे की मौके पर और दो की इलाज के दौरान मौत हो गई।

उत्तर प्रदेश में आगरा के रूनकता इलाके में गुरुवार शाम बड़ा हादसा हो गया। यहां मिट्टी धंसने से आठ बच्चे दब गई। चीख-पुकार मची तो लोगों ने पहले खुद मिट्टी हटाकर बच्चों को निकालना शुरू किया। इसके बाद जेसीबी से खुदाई कराई गई। कुछ देर में सभी बच्चों को निकाल लिया गया। एक बच्चे की मौके पर और दो की अस्पताल में मौत हो गई।

गांव में तीन दिन से तालाब की खुदाई चल रही थी। ग्राम प्रधान ने यह काम शुरू कराया था। गुरुवार को खुदाई का काम बंद था। गांव के कई बच्चे तालाब वाली जगह पर खेल रहे थे। अचानक तालाब की मिट्टी भरभराकर उनके ऊपर गिर गई।

वहीं मौजूद मोहल्ले की एक महिला ने यह हादसा देख लिया। उसने शोर मचाया। देखते ही देखते बड़ी संख्या में लोग वहां पहुंच गए। पुलिस को भी सूचना दी गई। इसके बाद कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची। एक के बाद आठ बच्चे मिट्टी से निकाले गए। इनमें से एक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। बाकी को तुरंत अस्पताल भेजा गया। वहां इलाज के दौरान एक बच्ची समेत दो की मौत हो गई।

एंबुलेंस पहुंची लेकिन उसमें ऑक्सीजन की सुविधा नहीं थी

मिट्टी के नीचे दबने से बच्चों का ऑक्सीजन लेवल बहुत कम हो गया था। मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि जो एंबुलेंस वहां पहुंची थी, उसमें ऑक्सीजन की सुविधा नहीं थी। इसलिए बच्चों को तुरंत ऑक्सीजन नहीं मिल पाई।

एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि हादसे में 10 साल की राधा, छह साल की सोनल और पांच साल के दक्ष की मौत हुई है। अनिकेत, देव,सारिक का इलाज चल रहा है। अंशु की हालत ठीक थी। उसे इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular