Friday, July 30, 2021
Home राजनीति जौनपुर: डॉक्टर से रंगदारी मांगने वाला बदमाश हिरासत से भागा तो पुलिस...

जौनपुर: डॉक्टर से रंगदारी मांगने वाला बदमाश हिरासत से भागा तो पुलिस ने मारी गोली, सब इंस्पेक्टर की बाल-बाल बची जान


सार

जौनपुर जिले में बृहस्पतिवार तड़के पुलिस ने डॉक्टर से तीन लाख रुपये रंगदारी मांगने वाले बदमाश को गोली मार दी। गोली बदमाश के पैर में लगी है। पुलिस के हत्थे चढ़ने के बाद वह एसआई की  पिस्टल छीन कर भागने की कोशिश कर रहा था। मुठभेड़ में सब इंस्पेक्टर की  जान बाल-बाल बची।

अस्पताल में चल रहा घायल बदमाश का इलाज
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के बदलापुर थाना क्षेत्र में बृहस्पतिवार तड़के हुई मुठभेड़ में रंगदारी मांगने का आरोपी पुलिस की गोली से घायल हो गया। घायल बदमाश को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। पुलिस के हत्थे चढ़ने के बाद वह एसआई की पिस्टल छीन कर भागने की कोशिश कर रहा था। भागने के क्रम में उसने गोली चला दी, जो एसओ सिंगरामऊ के हाथ को छूती हुई निकल गई। वहीं, पुलिस की जवाबी कार्रवाई में बदमाश के पैर में गोली लगी। गोली लगने से घायल बदमाश ने बदलापुर कस्बे के एक डॉक्टर से तीन लाख रुपये की रंगदारी की मांग की थी।

बदलापुर थाना क्षेत्र के पूरामुकुंद गांव निवासी सचिन कुमार मित्रा का नर्सिंग होम घनश्यामपुर रोड पर स्थित है। 20 जून की शाम  डॉक्टर से बदमाशों ने फोन कर तीन लाख रुपये की रंगदारी मांगी। साथ ही धमकी भी दी है कि अगर पैसा नहीं मिला तो जान से मार देगें। धमकी मिलते ही डॉक्टर का पूरा परिवार सहम गया। अगले दिन फिर से धमकी मिलने के बाद हिम्मत जुटाते हुए डॉक्टर ने तहरीर कोतवाली पुलिस को दी।  

प्रभारी निरीक्षक पवन कुमार उपाध्याय ने मोबाइल नंबर के आधार पर अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर किया। साथ ही सर्विलांस के माध्यम से नंबर ट्रेस किया जाने लगा। मामले को लेकर एसपी ग्रामीण त्रिभुवन सिंह ने  मीडिया से बातचीत में दावा किया था कि रंगदारी के आरोपी को पुलिस ने चिन्हित कर लिया है। जल्द ही उसकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी। 

इधर, बुधवार की देर रात एसओ बदलापुर पवन कुमार उपाध्याय, एसओ  सिंगरामऊ विनोद मिश्रा और एसओजी प्रभारी आदेश त्यागी बदलापुर चौक पर खड़े थे। तभी मुखबिर से सूचना मिली की दो लोग  जौनपुर-सुल्तानपुर हाईवे के किनारे सरोखनपुर के पास खड़े हैं। वो किसी  घटना को अंजाम देने के फिराक में है।

इस सूचना के बाद हरकत में आई पुलिस ने घेराबंदी कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए  आरोपी अंकित यादव निवारी नकहरा खानदेव थाना सिंगरामऊ और शैलेंद्र यादव  निवासी बर्रैया गांव है। दोनों से पूछताछ के लिए पुलिस बदलापुर थाने ले गई। जहां दोनों ने चिकित्सक से रंगदारी मांगने की बात स्वीकार ली।  साथ  ही शैलेंद्र ने बताया कि जिस मोबाइल से वह रंगदारी मांग रहा था उसे खजुरन मोड़ के पास छिपाया है।

इस जानकारी के बाद पुलिस बृहस्पतिवार तड़के करीब चार बजे दोनों को लेकर मोबाइल बरामद करने के लिए रवाना हुई। पुलिस के मुताबिक, उक्त स्थान पर  बदमाश ने कहा कि वह मोबाइल लेने के लिए जा रहा है, तभी बदलापुर थाने में तैनात एसआई राजेश यादव की सरकारी पिस्टल छीन लिया।

इसके बाद भागते हुए  गोली चला दी, जो एसओ सिंगरामऊ विनोद मिश्रा के बायें हाथ को छूती हुई निकल गई। इस पर पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए गोली चलाई, जो बदमाश शैलेंद्र के दायें पैर में लगी है। पुलिस आनन-फानन घायल एसओ और बदमाश को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बदलापुर ले गई। जहां से चिकित्सकों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

विस्तार

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के बदलापुर थाना क्षेत्र में बृहस्पतिवार तड़के हुई मुठभेड़ में रंगदारी मांगने का आरोपी पुलिस की गोली से घायल हो गया। घायल बदमाश को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। पुलिस के हत्थे चढ़ने के बाद वह एसआई की पिस्टल छीन कर भागने की कोशिश कर रहा था। भागने के क्रम में उसने गोली चला दी, जो एसओ सिंगरामऊ के हाथ को छूती हुई निकल गई। वहीं, पुलिस की जवाबी कार्रवाई में बदमाश के पैर में गोली लगी। गोली लगने से घायल बदमाश ने बदलापुर कस्बे के एक डॉक्टर से तीन लाख रुपये की रंगदारी की मांग की थी।

बदलापुर थाना क्षेत्र के पूरामुकुंद गांव निवासी सचिन कुमार मित्रा का नर्सिंग होम घनश्यामपुर रोड पर स्थित है। 20 जून की शाम  डॉक्टर से बदमाशों ने फोन कर तीन लाख रुपये की रंगदारी मांगी। साथ ही धमकी भी दी है कि अगर पैसा नहीं मिला तो जान से मार देगें। धमकी मिलते ही डॉक्टर का पूरा परिवार सहम गया। अगले दिन फिर से धमकी मिलने के बाद हिम्मत जुटाते हुए डॉक्टर ने तहरीर कोतवाली पुलिस को दी।  

प्रभारी निरीक्षक पवन कुमार उपाध्याय ने मोबाइल नंबर के आधार पर अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर किया। साथ ही सर्विलांस के माध्यम से नंबर ट्रेस किया जाने लगा। मामले को लेकर एसपी ग्रामीण त्रिभुवन सिंह ने  मीडिया से बातचीत में दावा किया था कि रंगदारी के आरोपी को पुलिस ने चिन्हित कर लिया है। जल्द ही उसकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular