Sunday, May 9, 2021
Home मनोरंजन ट्विटर यूजर ने महिलाओं के खिलाफ हिंसा के लिए Mallika Sherawat की...

ट्विटर यूजर ने महिलाओं के खिलाफ हिंसा के लिए Mallika Sherawat की फिल्मों पर मढ़ा दोष


नई दिल्लीः अभिनेत्री मल्लिका शेरावत (Mallika Sherawat) कहने से खुद को रोक नहीं पाईं, जब एक ट्विटर यूजर ने उनकी फिल्मों को महिलाओं के खिलाफ होने वाली हिंसा की वजह बताया. मल्लिका ने इस टिप्पणी पर नाराजगी जाहिर की और कहा कि इस तरह की मानसिकता को बदलने की जरूरत है. हाथरस बलात्कार मामले पर मल्लिका के ट्वीट के जवाब में ट्विटर यूजर ने यह टिप्पणी की थी. मल्लिका ने ट्वीट में लिखा था, ‘जब तक भारत में महिलाओं के प्रति मानसिकता में सुधार नहीं होता, तब तक कुछ भी नहीं बदलेगा # हाथरस हॉरर #NirbhayaCase.’

मल्लिका के इस ट्वीट का जवाब देते हुए, एक ट्विटर यूजर ने लिखा, ‘लेकिन बॉलीवुड फिल्मों में आपने जिस तरह की भूमिकाएं निभाई हैं, वह आपकी बातों से बिलकुल अलग है. क्या आप को नहीं लगता कि आपकी फिल्मों के जरिये जिस तरह का संदेश जाता है, वह भी इसे बढ़ावा देते हैं. व्यक्ति जो बोलता है, उसे पहले खुद पर लागू करना चाहिए.’

ये भी पढ़ेंः Bigg Boss 14: Sidharth को क्यों याद आईं Shehnaaz, खोले कई राज

इस पर मल्लिका का जवाब आया, ‘यानी मैं जिन फिल्मों में अभिनय करती हूं, वह रेप के लिए निमंत्रण है!!! आपके जैसी मानसिकता ने भारतीय समाज को महिलाओं के प्रति कुंठित बना दिया है! अगर आपको मेरी फिल्मों से दिक्कत है, तो उन्हें न देखें. #nocountenforwomen’

शारीरिक संबंध बनाने से किया था मना
इससे पहले 2018 में एक इंटरव्यू में मल्लिका ने कहा था कि उन्हें इसलिए कई फिल्मों से निकाल दिया गया था, क्योंकि उन्होंने को-स्टार के साथ शारीरिक संबंध बनाने से मना कर दिया था.
एक बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि मुझ पर कई सारे आरोप लगे हैं. अगर आप शॉर्ट स्कर्ट पहनती हैं, स्क्रीन पर किस सीन देती हैं, तो आप गिरी हुई औरत हैं. पुरुष इस बात का फायदा उठाना चाहते हैं. ऐसा मेरे साथ हुआ है.
वह आगे बताती हैं, ‘मुझे फिल्मों से इसलिए निकाल दिया गया था, क्योंकि मैंने को-स्टार के साथ संबंध बनाने से मना कर दिया था. हीरो कहेंगे कि आप मेरे साथ इंटिमेट क्यों नहीं हो सकतीं? अगर आप इसे स्क्रीन पर कर सकती हैं, तो निजी तौर पर मेरे साथ करने में क्या समस्या है? मैंने इसके चलते कई सारी फिल्में गंवाई हैं. यह हमारे समाज का प्रतिबिंब है, जिसका सामना हमारे देश की महिलाओं को करना पड़ता हैं.’

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular