Saturday, November 27, 2021
Homeराजनीतिदेव दीपावली के लिए पुलिस ने कसी कमर: वाराणसी के 84 गंगा...

देव दीपावली के लिए पुलिस ने कसी कमर: वाराणसी के 84 गंगा घाटों पर आएंगे 2 लाख से ज्यादा लोग, बन रहा कंट्रोल रूम और गठित की जाएगी ORT


वाराणसी33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
देव दीपावली के मद्देनजर गंगा घाटों का निरीक्षण करती पुलिस अफसरों की टीम। - Dainik Bhaskar

देव दीपावली के मद्देनजर गंगा घाटों का निरीक्षण करती पुलिस अफसरों की टीम।

काशी की जग विख्यात देव दीपावली 19 नवंबर को हैं। इस दिन संत रविदास घाट से लेकर राजघाट तक लगभग 2 लाख से ज्यादा लोगों की भीड़ उमड़ती है। इसे देखते हुए वाराणसी कमिश्नरेट की पुलिस ने कमर कस ली है और सुरक्षा व्यवस्था का खाका खींच कर उसे अंतिम रूप दिया जा रहा है। इस क्रम में मंगलवार की सुबह पुलिस अफसरों की टीम ने संत रविदास घाट से राजघाट तक स्टीमर से गंगा के सभी घाटों का निरीक्षण किया। पुलिस अफसरों ने बताया कि कल तक पार्किंग, रूट डायवर्जन, VVIP रूट, कंट्रोल रूम की स्थापना, रिवर रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए क्विक रिस्पांस टीम (ORT) के गठन और रिवर पेट्रोलिंग टीम की कार्ययोजना को अंतिम रूप दे दिया जाएगा।

5 अफसरों ने किया निरीक्षण

डीसीपी ट्रैफिक रामसेवक गौतम के नेतृत्व में मंगलवार की सुबह एडीसीपी काशी जोन राजेश पांडेय, एसीपी कोतवाली त्रिलोचन त्रिपाठी, एसीपी दशाश्वमेध अवधेश पांडेय और एसीपी भेलूपुर प्रवीण कुमार सिंह ने गंगा घाटों का निरीक्षण किया। अफसरों ने बताया कि ट्रैफिक, पार्किंग, घाटों और गंगा में सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर निरीक्षण किया गया है। निरीक्षण की रिपोर्ट अपर पुलिस आयुक्त (मुख्यालय एवं अपराध) सुभाष चंद्र दुबे को सौंपी जाएगी। उसके बाद नाविक समाज के प्रतिनिधियों से बातचीत कर सुरक्षा सहित अन्य कार्ययोजनाओं को अंतिम रूप दिया जाएगा।

सुभाष चंद्र दुबे, अपर पुलिस आयुक्त (मुख्यालय एवं अपराध)।

सुभाष चंद्र दुबे, अपर पुलिस आयुक्त (मुख्यालय एवं अपराध)।

IPS सुभाष दुबे पूरी व्यवस्था के प्रभारी

पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने देव दीपावली के मद्देनजर पुलिस प्रबंध से जुड़ी पूरी व्यवस्था का प्रभारी अपर पुलिस आयुक्त (मुख्यालय एवं अपराध) सुभाष चंद्र दुबे को बनाया है। पुलिस कमिश्नर ने कहा है कि गंगा घाटों पर भीड़ प्रबंधन, ट्रैफिक, पार्किंग और गंगा में सुरक्षा की ठोस कार्ययोजना बनाई जाए। घाटों पर तैनात होने वाले पुलिसकर्मियों को यह समझाया जाए कि वह सुरक्षा व्यवस्था की आड़ में किसी के साथ दुर्व्यवहार नहीं करेंगे। सोशल मीडिया के साथ ही गंगा घाटों के किनारे लगे सीसीटीवी कैमरों की मॉनिटरिंग में पुलिस से किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं होनी चाहिए।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular