Wednesday, October 27, 2021
Home मनोरंजन नरगिस की शादी के बाद खुद को सिगरेट से जलाने लगे थे...

नरगिस की शादी के बाद खुद को सिगरेट से जलाने लगे थे राज कपूर, ऐसी थी इनकी अधूरी प्रेम कहानी


नई दिल्ली: नरगिस (Nargis) को भारतीय सिनेमा की एक महान अदाकारा माना जाता है. इन्होंने अपने फिल्मी करियर में कई बेहतरीन फिल्में दी हैं, जो बॉलीवुड में मील का पत्थर साबित हुईं. नरगिस (Nargis) अपनी अदाकारी के अलावा राज कपूर (Raj Kapoor) के साथ रिश्ते को लेकर भी काफी सुर्खियों में आई थीं.

नरगिस एक बेहतरीन एक्ट्रेस
नरगिस दत्त (Nargis Dutt) का असली नाम फातिमा राशिद (Fatima Rashid) था. एक जून 1929 को जन्मीं नरगिस ने मात्र पांच साल की उम्र में बाल कलाकार के तौर पर फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था. नरगिस (Nargis) ने अपने शानदार अभिनय के दम पर लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाई. लेकिन साल 1957 में रिलीज हुई उनकी फिल्म ‘मदर इंडिया’ (Mother India) में उन्होंने एक गरीब महिला राधा का किरदार निभाया था. जिसे दर्शकों ने तो पसंद किया ही इसके अलावा ये फिल्म ऑस्कर्स में भी गई थी.

आज नरगिस (Nargis) के जन्मदिन के खास मौके पर हम आपको नरगिस (Nargis) और सुनील दत्त (Sunil Dutt) की खास प्रेम कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं. साथ ही राज कपूर (Raj Kapoor) और नरगिस (Nargis) के अधूरी प्रेम कहानी के बारे में भी बताएंगे.

नरगिस और राज कपूर की मुलाकात
1948 में राज कपूर (Raj Kapoor) की नरगिस से पहली मुलाकात हुई तब वो 20 साल की थीं और तब तक वो 8 फिल्मों में काम कर चुकी थीं. राज कपूर को अपनी पहली फिल्म के लिए एक स्टूडियो की तलाश थी. उन्हें पता लगा कि नरगिस (Nargis) की मां जद्दन बाई फेमस स्टूडियो में रोमियो एंड जूलिएट की शूटिंग कर रही हैं. वो जानना चाहते थे कि वहां किस तरह की सुविधाएं हैं? जब राज कपूर उनके घर पहुंचे तो नरगिस (Nargis) ने खुद दरवाजा खोला. वो रसोई से दौड़ती हुई आईं थीं, जहां वो पकौड़े तल रही थीं. बेख्याली में उनका हाथ उनके बालों से छू गया और उसमें लगा बेसन उनके बालों में लग गया. नरगिस की इस अदा पर राज कपूर उन पर मर मिटे.

राज कपूर को बेतहाशा चाहती थीं नरगिस
अभिनेता राज कपूर और नरगिस (Nargis) ने ‘आवारा’, ‘श्री 420’ और ‘बरसात’ जैसी करीब 16 फिल्मों में साथ काम किया और उनकी जोड़ी को दर्शकों ने काफी पसंद किया. राज कपूर पहली ही नजर में नरगिस (Nargis) को दिल दे बैठे थे और अभिनेत्री भी उन्हें चाहने लगी थीं. मधु जैन अपनी किताब, ‘फर्स्ट फैमिली ऑफ इंडियन सिनेमा- द कपूर्स’ में लिखा हैं, ‘नरगिस ने अपना दिल, अपनी आत्मा और यहां तक कि अपना पैसा भी राज कपूर की फिल्मों में लगाना शुरू कर दिया. जब आर के स्टूडियो के पास पैसों की कमी हुई तो नरगिस (Nargis) ने अपने सोने के कड़े तक बेच डाले.’

सुनील दत्त के प्यार ने जीता दिल
दोनों की प्रेम कहानी के बीच एंट्री हुई सुनील दत्त (Sunil Dutt) की. सुनील दत्त (Sunil Dutt) सीलोन रेडियो में बतौर रेडियो जॉकी काम किया करते थे. यही पहली बार सुनील और नरगिस की मुलाकात हुई थी. दरअसल, नरगिस यहां पर इंटरव्यू देने आई थीं. इसके बाद दोनों दूसरी बार फिल्म ‘दो बीघा जमीन’ के सेट पर मिले. नरगिस (Nargis) वहां बिमल रॉय से मिलने आई थीं और सुनील दत्त (Sunil Dutt) वहां काम की तलाश में पहुंचे थे. सुनील को देखते ही नरगिस को पिछला वाकया याद आ गया. वो उन्हें देखकर मुस्कुराते हुए आगे बढ़ गईं. इसके बाद महबूब खान की फिल्म ‘मदर इंडिया’ में सुनील दत्त (Sunil Dutt) को नरगिस के बेटे का रोल मिला. धीरे-धीरे दोनों की प्रेम कहानी आगे बढ़ने लगी.

सिगरेट की बट से खुद को जलाने लगे थे राज कपूर
राज कपूर (Raj Kapoor) के साथ 9 साल लंबे रिश्ते के बाद नरगिस को जब ये लगने लगा था कि अब राज उनकी तरफ ध्यान नहीं दे रहे और राज कपूर न तो अपनी शादी तोड़ सकते थे न ही अपने पिता से बगावत कर सकते थे. ऐसे में नरगिस ने उनके साथ अपने रिश्ते खत्म कर लिए. कहते हैं कि जब राज कपूर ने सुनील दत्त के साथ नरगिस की शादी की खबर सुनी तो वो अपने आप को सिगरेट की बड्स से जलाते थे, ये देखने के लिए कि कहीं वो सपना तो नहीं देख रहे. नरगिस के जीवनीकार टीजेएस जॉर्ज लिखते हैं, ‘इसके बाद से ही राज कपूर ने बेइंतहा शराब पीनी शुरू कर दी.’

ये भी पढ़ें

बॉक्सिंग मैच में होगी सीरत की मौत! देखता रह जाएगा कार्तिक

एंटरटेनमेंट की लेटेस्ट और इंटरेस्टिंग खबरों के लिए यहां क्लिक कर Zee News के Entertainment Facebook Page को लाइक करें





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular