Saturday, May 28, 2022
Homeभारतपशु तस्करी का सिंडिकेट चलाने वाला अकबर बंजारा अपने दो साथियों के...

पशु तस्करी का सिंडिकेट चलाने वाला अकबर बंजारा अपने दो साथियों के साथ अरेस्‍ट, ऐसे बांग्लादेश भेजते थे गोवंश


मेरठ. यूपी के मेरठ में गोवंश की तस्करी का सिंडिकेट चलाने वाले माफिया की गिरफ्तारी का मामला सामने आया है. दरअसल अकबर बंजारा पर असम पुलिस की तरफ से 2 लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था. वहीं, मेरठ एसओजी और फलावदा थाना पुलिस ने अकबर समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. यह लोग देश के अलग-अलग राज्यों से असम और मेघालय के रास्ते गोवंश को बांग्लादेश भेजते थे. यही नहीं, तस्करी के इस काले कारोबार से यह सिंडिकेट रोजाना करोड़ों रुपये कमाता है.

बहरहाल, गोवंश की तस्‍करी को लेकर असम में अकबर और उसके साथियों पर कई मुकदमे दर्ज हैं. इस दौरान अकबर पर 200000 का इनाम भी घोषित किया गया. यही नहीं, पिछले काफी समय से असम पुलिस अकबर और उसके साथियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही थी. बता दें कि आरोपी मूल रूप से मेरठ के फलावदा के इलाके के रहने वाले हैं.

अकबर बंजारा अपने दो भाइयों के साथ मिलकर पशु तस्‍करी करता था.

ऐसे गिरफ्त में आए आरोपी
मेरठ पुलिस की एसओजी टीम पिछले काफी समय से इस कुख्यात तस्‍कर को ट्रैस कर रही थी. इस बीच आज उसके हाथ सफलता लगी है. असम से दो लाख रुपये का इनामी होने के बाद अकबर बंजारा मेरठ के फलावदा से ही गोवंश तस्करी का सिंडिकेट चला रहा था. पुलिस ने उसके साथ सलमान और समीम को भी गिरफ्तार किया है. हैरानी की बात है कि यह दोनों तस्‍कर अकबर के भाई हैं.

बता दें कि असम पुलिस ने पहले भी इन लोगों की गिरफ्तारी के लिए कई बार मेरठ में दबिश दी थी, लेकिन उसके हाथ कोई सफलता नहीं लगी थी. इस बीच मेरठ पुलिस को मिली कामयाबी के बाद जब इनका आपराधिक इतिहास खंगाला गया तो असम पुलिस ने भी मेरठ पुलिस से संपर्क किया. इसके बाद असम पुलिस अब बी-वारंट पर अकबर और गिरोह के सदस्यों को अपने साथ ले गई है. वहीं, मेरठ एसएसपी प्रभाकर चौधरी को असम पुलिस ने इनाम की धनराशि भी सौंपी है.

आपके शहर से (मेरठ)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

Tags: Meerut news, Meerut police



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular