Tuesday, April 13, 2021
Home भारत पश्चिम बंगाल: शुभेंदु अधिकारी को सियासी रैलियों में हमले का डर! हाईकोर्ट...

पश्चिम बंगाल: शुभेंदु अधिकारी को सियासी रैलियों में हमले का डर! हाईकोर्ट से मांगी सुरक्षा


शुभेंदु अधिकारी. (File Pic)

West Bengal Election: यह पहली बार नहीं है, जब शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) अपनी सुरक्षा को लेकर परेशान नजर आ रहे हैं. बीजेपी में शामिल होने के कुछ दिनों बाद ही उन्होंने राज्यपाल जगदीप धनखड़ से भी सुरक्षा की मांग की थी.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 13, 2021, 6:12 PM IST

कोलकाता. भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी अपनी सुरक्षा को लेकर खासे चिंतित हैं. उन्होंने इसके संबंध में हाल ही में कलकत्ता हाईकोर्ट (Calcutta High Court) में याचिका दायर की है. उन्होंने अदालत से रैलियों में सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की है. कुछ दिनों पहले नंदीग्राम स्थित अधिकारी के दफ्तर में तोड़फोड़ हो गई थी, जिसका आरोप बीजेपी ने तृणमूल कांग्रेस (TMC) पर लगाया था. हालांकि, टीएमसी ने इसका दोष बीजेपी के सर मढ़ा है.

बुधवार को शुभेंदु अधिकारी ने कलकत्ता हाईकोर्ट में सुरक्षा को लेकर अर्जी दी है. उन्होंने अदालत में दायर याचिका के जरि अपनी राजनीतिक रैलियों में पर्याप्त पुलिस सुरक्षा की मांग की है. हालांकि, यह पहली बार नहीं है, जब अधिकारी अपनी सुरक्षा को लेकर परेशान नजर आ रहे हैं. बीजेपी में शामिल होने के कुछ दिनों बाद ही उन्होंने राज्यपाल जगदीप धनखड़ से भी सुरक्षा की मांग की थी.

इधर, अधिकारी के पिता और सांसद शिशिर अधिकारी को भी सत्तारूढ़ टीएमसी ने दीघा शंकरपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया है. अधिकारी परिवार के आलोचक माने जाने वाले टीएमसी विधायक अखिल गिरी ने शिशिर अधिकारी की जगह दूसरे व्यक्ति को नियुक्त करने का फैसला किया है. डीएसडीए पूर्व मेदिनिपुर के तटीय शहर के रखराव का काम करती है.

गिरी ने कहा ‘उन्होंने चेयरमैन होने के नाते कुछ भी नहीं किया इसलिए उन्हें हटा दिया गया है.’ वहीं, टीएमसी के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि सांसद एजेंसी के अध्यक्ष के रूप में वो काम करने में सक्षम नहीं थे. उन्होंने कहा ‘शिशिर दा वरिष्ठ नेता हैं. शायद वे अस्वस्थ हैं. हमें बुरा लगा, जब उन्होंने अपने बेटों शुभेंदु और सोमैंदु के खिलाफ कुछ नहीं बोला, जब वे बीजेपी में जाने के बाद टीएमसी पर लगातार हमले कर रहे थे.’ गौरतलब है कि शुभेंदु के बाद उनके भाई सोमैंदु ने भी बीजेपी का दामन थाम लिया था.


<!–

–>

<!–

–>


! function(f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function() {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
};
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
}(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular