Thursday, September 23, 2021
Home बिजनेस पेट्रोल, डीजल, LPG के बाद अब टेलीकॉम सेवाएं होंगी महंगी! सुनील मित्तल...

पेट्रोल, डीजल, LPG के बाद अब टेलीकॉम सेवाएं होंगी महंगी! सुनील मित्तल ने दिए संकेत, ‘टैरिफ बढ़ाने में कोई हिचक नहीं’


नई दिल्ली: Telecom Services Tariff: पेट्रोल, महंगा, डीजल महंगा, रसोई गैस महंगी, खाने पीने का हर सामान महंगा, अब टेलीकॉम सेवाएं भी महंगी होने वाली है. दरअसल ये आशंका Bharti Airtel के चेयरमैन सुनील मित्तल के एक बयान के बाद जताई जा रही है. 

टेलीकॉम सेक्टर जबर्दस्त दबाव में है: मित्तल

सुनील भारती मित्तल ने कहा है कि टेलीकॉम सेक्टर इस समय जबर्दस्त दबाव में है, मुझे उम्मीद है कि केंद्र सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि भारत का डिजिटल सपना बरकरार रहे और यह देश में कम से कम तीन टेलीकॉम ऑपरेटर्स का अस्तित्व बना रहे. सुनील भारती मित्तल का ये बयान Vodafone Idea के बेहद खराब नतीजों के ठीक एक दिन बाद आया है, जिसमें कंपनी को चौथी तिमाही में 7,023 करोड़ रुपये का भारी भरकम नुकसान हुआ है. 

ये भी पढ़ें- Bank Holiday: July में आधे महीने बंद रहेंगे बैंक, ब्रांच जाने से पहले चेक कर लें छुट्टियों की पूरी लिस्ट

टैरिफ बढ़ाने में हिचकिचाएंगे नहीं: मित्तल

सुनील भारती मित्तल ने जोर देकर कहा कि टेलीकॉम इंडस्ट्री को अब अपने टैरिफ बढ़ाने चाहिए, उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो एयरटेल टैरिफ बढ़ाने में हिचकिचाएगा नहीं. मित्तल ने कहा कि हालांकि टैरिफ को एकतरफा नहीं बढ़ाया जा सकता है. मित्तल ने कहा कि अगर ये कहा जाए कि टेलीकॉम इंडस्ट्री थोड़ी मुश्किल में है तो ये चुप्पी साधना हुआ, बल्कि ये एक बेहद जबर्दस्त तनाव की स्थिति है.

‘कम से कम 3 टेलीकॉम कंपनियां तो रहें’

उन्होंने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि सरकार, अथॉरिटीज और टेलीकॉम डिपार्टमेंट यह सुनिश्चित करेंगी कि भारत का डिजिटल सपना बरकरार रहे और यह देश में कम से कम तीन टेलीकॉम ऑपरेटर्स का अस्तित्व बना रहे. सुनील मित्तल ने ये सारी बातें  OneWeb के वर्चुअल इवेंट के दौरान रिपोर्टर्स से कहा. OneWeb एक सैटेलाइट कम्यूनिकेशंस कंपनी है, जिसको Bharti Global और यूके सरकार मैनेज करती है. 

‘पुराने टैरिफ पर लौटना चाहिए’

सुनील मित्तल ने कहा कि बीते 5-6 साल इंडस्ट्री के लिए बेहद खराब रहे हैं, और नतीजा सबके सामने है. 10 टेलीकॉम ऑपरेटर अपना बिजनेस बंद करके जा चुके हैं, दो ऑपरेटर्स ने आपस में विलय कर लिया है और इस वक्त किसी तरह सांस लेने की कोशिश कर रहे हैं. आप कब तक एक-दूसरे को मारते रह सकते हैं, मुद्दा ये है कि जब आपके पास पूंजी पर रिटर्न हो, यहां तक ​​कि सबसे अच्छे ऑपरेटर द्वारा भी, सिंगल डिजिट पर और उनमें से भी ज्यादातर सिर्फ संघर्ष कर रहे हों. मैं यह नहीं कह रहा हूं कि टैरिफ बढ़ाना हमेशा बुरा होता है. लेकिन इसे उस जगह पर लेकर आओ जहां पर ये पहले था. 15 गुना खपत का मजा उठाओ, लेकिन कम से कम पुराने टैरिफ पर वापस आओ. 

ये भी पढ़ें- Bajaj Electric Chetak की डिलिवरी सितंबर से होगी शुरू, फुल चार्ज में चलेगी 95 KM

LIVE TV





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular