Sunday, April 11, 2021
Home राजनीति फतेहपुर: लापता युवक जंगल में मिला मरणासन्न, हैलट अस्पताल में हुई मौत,...

फतेहपुर: लापता युवक जंगल में मिला मरणासन्न, हैलट अस्पताल में हुई मौत, परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

फतेहपुर जिले के किशनपुर थाना क्षेत्र के एकडला छिपाटी के जंगल में तीन दिन से लापता युवक मरणासन्न की स्थिति में मिला। घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन युवक की हालत गंभीर होने से हैलट अस्पताल कानपुर रेफर कर दिया गया।

इधर, इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई। किशनपुर थाना क्षेत्र के निवासी स्वर्गीय हेमराज का बेटा अनिल (20) अपने दो साथियों के साथ 21 नवंबर को घर से निकला था। इसके बाद बाद से उसका कोई सुराग नहीं लगा।

परिजन इधर उधर उसकी खोजबीन करते रहे लेकिन कुछ पता नहीं चला। परिजनों ने अपहरण की आशंका जताकर पुलिस से शिकायत करने की बात कही। इसके बाद पुलिस सक्रिय हुई। मंगलवार को अनिल एकडला छिपाटी के जंगल में मरणासन्न की हालत में मिला।

परिजनों का आरोप है कि अनिल की बाइक से एक महिला का एक्सीडेंट हो गया था। इसके बाद ही लेन देने के विवाद में अनिल का अपहरण किया गया। इधर, ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने घायल युवक को सीएचसी में भर्ती कराया।

सीएचसी से जिला अस्पताल लाया गया था। हालत गंभीर देखकर हैलट कानपुर रेफर किया। शरीर पर चोटों के निशान देखकर परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि पिटाई के बाद मरा जानकर जंगल में फेंका है। थानाध्यक्ष पंधारी सरोज ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

फतेहपुर जिले के किशनपुर थाना क्षेत्र के एकडला छिपाटी के जंगल में तीन दिन से लापता युवक मरणासन्न की स्थिति में मिला। घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन युवक की हालत गंभीर होने से हैलट अस्पताल कानपुर रेफर कर दिया गया।

इधर, इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई। किशनपुर थाना क्षेत्र के निवासी स्वर्गीय हेमराज का बेटा अनिल (20) अपने दो साथियों के साथ 21 नवंबर को घर से निकला था। इसके बाद बाद से उसका कोई सुराग नहीं लगा।

परिजन इधर उधर उसकी खोजबीन करते रहे लेकिन कुछ पता नहीं चला। परिजनों ने अपहरण की आशंका जताकर पुलिस से शिकायत करने की बात कही। इसके बाद पुलिस सक्रिय हुई। मंगलवार को अनिल एकडला छिपाटी के जंगल में मरणासन्न की हालत में मिला।

परिजनों का आरोप है कि अनिल की बाइक से एक महिला का एक्सीडेंट हो गया था। इसके बाद ही लेन देने के विवाद में अनिल का अपहरण किया गया। इधर, ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने घायल युवक को सीएचसी में भर्ती कराया।

सीएचसी से जिला अस्पताल लाया गया था। हालत गंभीर देखकर हैलट कानपुर रेफर किया। शरीर पर चोटों के निशान देखकर परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि पिटाई के बाद मरा जानकर जंगल में फेंका है। थानाध्यक्ष पंधारी सरोज ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular