Tuesday, August 9, 2022
Homeराजनीतिफर्रुखाबाद में अभियान चला बनाए जा रहे गोल्डन कार्ड: शहर से लेकर...

फर्रुखाबाद में अभियान चला बनाए जा रहे गोल्डन कार्ड: शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र तक लग रहे शिविर, 18 मई तक चलेगा विशेष अभियान


फर्रुखाबाद39 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

फर्रुखाबाद में शासन के निर्देश के क्रम में आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री जन आरोग्य एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना अभियान से आच्छादित आयुष्मान कार्ड विहीन लाभार्थियों का आयुष्मान कार्ड बनाया जाना है। आयुष्मान भारत स्वास्थ्य बीमा योजना में चिन्हित लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बनाने के लिए अभियान शुरू हो चुका है।

इस अवधि में जन सेवा केंद्र संचालकों द्वारा ग्राम वार कैंप लगाकर गोल्डन कार्ड बनाए जाएंगे और संबंधित सूची बद्ध चिकित्सालयों में भी आयुष्मान कार्ड बनाए जाएंगे, जो कि पूर्णतया निःशुल्क होंगे। यह अभियान 18 मई तक चलेगा। यह कहना है मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सतीश चंद्रा का।

सीएमओ ने कहा, सभी लोग अभियान के दौरान अपना गोल्डन कार्ड बनवा लें, देरी न करें और इस योजना का लाभ उठाएं। उन्होंने कहा, कार्ड के तहत लाभार्थी को 5 लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज मिलता है।

योजना से जुड़े अंत्योदय कार्ड धारक
कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ. दीपक कटारिया ने बताया, सभी अंत्योदय राशन कार्ड धारक इस योजना में जोड़े गए हैं। इनके अतिरिक्त पूर्व में चिन्हित लाभार्थी अपना आधार कार्ड, राशन कार्ड इत्यादि ले जाकर किसी भी जन सेवा केंद्र संचालक और आयुष्मान योजना से सूची बद्ध चिकित्सालयों में आयुष्मान मित्रों के पास जाकर निशुल्क गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं।

गोल्डन कार्ड के माध्यम से लाभार्थी को सभी सूची बद्ध निजी अथवा राजकीय चिकित्सालयों में भर्ती होने की दशा में 5 लाख रुपए तक का निःशुल्क उपचार प्रति परिवार प्रति वर्ष प्रदान किया जाता है। अभियान के दौरान प्रतिदिन उपलब्धियों की समीक्षा की जाएगी और विभिन्न विभागों के फील्ड कार्मिकों द्वारा क्षेत्रीय आशा के साथ समन्वय स्थापित करते हुए लक्षित लाभार्थियों को कैंप की नियत तारीख और स्थान पर आयुष्मान कार्ड कैंप में जाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

1450 बीमारियों का मिलेगा इलाज
नोडल अधिकारी ने बताया, योजना के अंतर्गत कुल 1450 बीमारियों को सम्मिलित किया गया है, जिसमें डायरिया, मलेरिया आदि से लेकर कैंसर तक के निःशुल्क उपचार की सुविधा प्रदेश के विभिन्न आयुष्मान सूची बद्ध चिकित्सालयों में उपलब्ध है।

एक दिन पहले से बनने शुरू हुए कार्ड
डीपीसी डॉ. अमित मिश्र ने बताया, दिनांक 4 मई से जिले में आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाने का कार्य शुरू हो चुका है। जिसमें स्वास्थ्य महकमे के साथ अन्य विभाग भी समन्वय स्थापित करते हुए आयुष्मान कार्ड बनवाने में सहयोग कर रहे हैं। इनमें ग्राम प्रधान, कोटेदार, पंचायत सहायक, आंगनबाड़ी एवं शहरी क्षेत्र में वार्ड मेंबर, आंगनबाड़ी आदि सहयोग कर रहे हैं। उन्होंने बताया, जिले में 7,80,629 लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाए जाने हैं, जिसके सापेक्ष अभी तक 1,95,725 लोग अपना गोल्डन कार्ड बनवा चुके हैंl अभियान के पहले दिन शिविर लगाकर 76 लोगों के गोल्डन कार्ड बनाए जा चुके हैं l

7493 लोगों ने उठाया योजना का लाभ
डॉ. अमित ने बताया, अभी तक 7,493 लोग इस योजना के तहत लाभ उठा चुके हैं। जिसके तहत लगभग 6,59,24,038 रुपए का भुगतान सरकार द्वारा किया जा चुका है। जनपद के समस्त अंत्योदय राशन कार्ड धारक परिवार एवं उनके सदस्य अपना आयुष्मान कार्ड नजदीक के किसी भी कॉमन सर्विस सेंटर अथवा पंजीकृत चिकित्सालय में अपना आधार कार्ड एवं राशन कार्ड ले जाकर शीघ्र ही बनवा लें, जिससे आवश्यकता पड़ने पर उन्हें 5 लाख रुपए तक की निशुल्क उपचार की सुविधा पंजीकृत चिकित्सालय में प्राप्त हो सके।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular