Home राजनीति फिरोजाबाद…चूड़ी उद्योग पर एक बार फिर हड़ताल का संकट: पकाई भट्ठियों से...

फिरोजाबाद…चूड़ी उद्योग पर एक बार फिर हड़ताल का संकट: पकाई भट्ठियों से 2 लाख से अधिक मजदूरों को मिलता है रोजगार, रेट बढ़ोतरी न होने से हैं नाराज

0
18
Quiz banner


फिरोजाबादएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

फिरोजाबाद में अभी माउथ ब्लोइंग कारखानों की हड़ताल ठीक से समाप्त भी नहीं हुई कि अब चूड़ी उद्योग पर एक बार हड़ताल के संकट गहराने लगे हैं। चूड़ी उद्योग से जुड़े मजदूरों ने मजदूरी बढ़ाने जाने की मांग को लेकर 20 अप्रैल से हड़ताल करने का एलान किया है।

फिरोजाबाद में 100 से अधिक हैं पकाई भट्ठी
शहर में एक सैकड़ा से अधिक पकाई भट्ठियां संचालित हैं। डेकोरेशन के बाद चूड़ियां भट्ठी में पकती हैं। इसमें एक कारखाने के अंदर तीन शिफ्टों में दो हजार से अधिक मजदूर चूड़ी पकाई का काम करते हैं। सेवायोजकों द्वारा पिछले कई साल से मजदूरों का मेहनताना नहीं बढ़ाया गया है, जिससे मजदूरों में काफी आक्रोश पनप रहा है।

यूनियन अध्यक्ष नेमीचंद्र प्रजापति ने कहा है कि चूड़ी पकाई मजदूरों की समस्या को लेकर श्रम विभाग को कई बार मांग पत्र दिए जा चुके हैं। सितंबर- 2021 में सहायक श्रमायुक्त के समक्ष त्रिपक्षीय वार्ता में रेट बढ़ोतरी को सहमति बन गई थी। इसके बाद भी भट्ठी मालिक मजदूरी बढ़ाने को तैयार नहीं है। श्रमिक नेताओं ने 20 अप्रैल से कार्य बहिष्कार का निर्णय लिया है।

मुश्किल के दौर से गुजर रहा है चूड़ी उद्योग
फिरोजाबाद का चूड़ी उद्योग इन दिनों मुश्किल भरे दौर से गुजर रहा है। नेचुरल गैस और केमिकल महंगे होने के बाद चूड़ियों पर महंगाई की मार है। शहर भर के करीब 30 से अधिक कारखाने महंगाई के चलते पहले से बंद हैं। श्रमिक नेता भूरी सिंह यादव ने बताया कि चूड़ी पकाई मजदूरों की समस्या को लेकर श्रम विभाग को मांग पत्र दिया गया है। मजदूरों की रेट बढ़ोतरी को लेकर सहायक श्रमायुक्त द्वारा शनिवार को वार्ता बुलाई जा रही है। उसके बाद आगे का निर्णय लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here