Sunday, September 26, 2021
Home विश्व बच्चों को अकेला छोड़कर मां 4 दिन तक करती रही 'दारू पार्टी',...

बच्चों को अकेला छोड़कर मां 4 दिन तक करती रही ‘दारू पार्टी’, भूख से बिलखकर मर गया बेटा


मॉस्को: दुनिया में मां का रिश्ता सबसे ऊपर माना जाता है. बच्चों और परिवार के लिए वह सब कुछ बलिदान करने से भी पीछे नहीं हटती. ऐसे में अगर मां ही अपने बच्चों की मौत का कारण बन जाए तो उससे बुरा क्या होगा.

पति से अलग रह रही थी

द मिरर के मुताबिक रूस (Russia) के Zlatoust शहर में रहने वाली 25 साल की Olga Bazarova की पहली शादी टूट चुकी है. उस शादी से उसे 7 साल का एक बेटा है. दूसरी शादी से उसे 2 बच्चे पैदा हुए. जिनमें बेटी की उम्र 3 साल और बेटे की 11 महीने थी. दूसरे पति से भी अनबन होने के कारण इन दिनों वह अलग रह रही थी. 

बच्चों को अकेला छोड़ दिया

Olga Bazarova ने अपने दोस्तों के साथ दारू पार्टी करने का प्लान बनाया. बाहर जाने से पहले उसने बड़े बेटे को पार्टी से 4 दिन पहले एक दोस्त के यहां छोड़ दिया. वहीं दोनों छोटे बच्चों की देखभाल करने के लिए उसने चाचा से संपर्क किया लेकिन उन्होंने असमर्थता जता दी. इसके बाद ओल्गा ने अपनी सास को कॉल कर अपने बाहर जाने और बच्चों की देखभाल करने के लिए कहा. कॉल करके वह बाहर निकल गई.

भूख से बिलखकर मर गया बेटा

मुख्य अभियोजक व्लादिमीर किस्लित्सिन के मुताबिक मां ने दोनों बच्चों को एक खाली फ्रिज के साथ छोड़ दिया था. अपार्टमेंट में कोई बेबी फ़ूड नहीं मिला. कॉल मिलने के 3 दिन बाद जब ओल्गा की सास उसके घर पहुंची, तब तक 11 महीने का छोटा बेटा (Son) भूख और प्यास से दम तोड़ चुका था. वहीं 3 साल की बेटी भी मरने की कगार पर थी. इसके बाद सास ने पुलिस को कॉल किया, जिसने बच्ची को अस्पताल में भर्ती करवाया.

कोर्ट ने दी 14 साल जेल की सजा

पुलिस ने कॉल करके Olga Bazarova को बुलाया और फिर उसे गिरफ्तार कर लिया. अदालत ने इस मामले में ओल्गा बजरोवा को अत्यधिक क्रूरता के साथ नाबालिग की हत्या (Murder) का दोषी पाया है. साथ ही अपनी बेटी को अत्यधिक खतरे में छोड़कर मां के कर्तव्यों को पूरा करने में विफलता का भी दोषी करार देते हुए 14 साल की सजा सुनाई है.  

ये भी पढ़ें- गजब प्रेम! अपने से 42 साल बड़े पुरुष के प्यार में पड़ी महिला, उसके बच्चों की मां बनने के लिए कर रही है डेट

कोर्ट ने ओल्गा को बच्चों की कस्टडी के अधिकार से भी वंचित कर दिया है. अदालत ने आदेश दिया कि अब उसका बड़ा बेटा (Son) और बेटी अपनी दादी की देखभाल में रहेंगे. खबरों के मुताबिक इस घटना के समय ओल्गा का पति लियोनिद बाजरोव जेल में था.  

बच्चे की मौत पर अब पछतावा

अपनी दारू पार्टी के चक्कर में 11 महीने के बेटे की दर्दनाक मौत पर Olga Bazarova अब पछतावा कर रही है. उसने कोर्ट में कहा कि उसे अपने बच्चों को छोड़ने का “पछतावा” है, लेकिन बच्चों को मारने का उसका कोई इरादा नहीं था. ओल्गा ने कहा कि वह शादीशुदा जिंदगी के तनावों से छुटकारा पाने के लिए पार्टी में गई थी. उसे अहसास नहीं था कि ऐसा करने से बच्चों के साथ ऐसी घटना हो जाएगी. 

LIVE TV





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular