Sunday, April 11, 2021
Home भारत बिहार: कैसे एक हत्या की वारदात ने नीतीश कुमार सरकार के लिए...

बिहार: कैसे एक हत्या की वारदात ने नीतीश कुमार सरकार के लिए मुश्किलें बढ़ा दीं


बिहार: कैसे एक हत्या की वारदात ने नीतीश कुमार सरकार के लिए मुश्किलें बढ़ा दीं

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो).

पटना:

पटना (Patna) में मंगलवार की शाम को इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन हेड रूपेश कुमार (Rupesh Kumar) की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी. उनकी हत्या तब हुई जब वे दफ़्तर से घर लौटकर आए थे. उनके अपार्टमेंट के नीचे उन्हें गोली मारी गई. इस मामले की जांच के लिए राज्य सरकार ने एसआईटी का गठन किया है लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की सहयोगी पार्टी बीजेपी (BJP) के दो सांसदों ने इस हत्या के बाद नीतीश कुमार से सवाल पूछे हैं.

यह भी पढ़ें

मंगलवार की शाम को पटना के पुनाईचक इलाके में रूपेश कुमार जब गाड़ी से अपार्टमेंट के गेट के अंदर जाने वाले थे तभी उनकी हत्या कर दी गई. वे मंगलवार को दिनभर पटना एयरपोर्ट पर कोरोना वैक्सीन के आने पर अधिकारियों और मंत्री के साथ काफ़ी व्यस्त रहे थे.

रूपेश कुमार को बिहार के सभी राजनेता, अधिकारी और पत्रकार जानते थे. उनकी हत्या के बाद सत्तारूढ़ भाजपा के दो सांसद गोपाल नारायण सिंह और विवेक ठाकुर ने सीबीआई जांच की मांग की तो विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार से इस्तीफ़े की मांग की है.

इस घटना की जांच का अंजाम जो हो, लोगों में अब नीतीश कुमार के बारे में धारणा यही बन रही है कि विधि व्यवस्था पर उनकी बैठक का अपराधियों पर कोई असर नहीं होता.

Newsbeep

‘बिहार में अपराधी ही सरकार चला रहे’, एयरपोर्ट मैनेजर की हत्या पर तेजस्वी यादव का तंज

हालांकि नीतीश कुमार ने बुधवार को स्वयं पुलिस महानिदेशक से रूपेश कुमार की हत्या के मामले में ताजा जानकारी ली. उन्हें डीजीपी ने बताया कि इस मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित कर दी गई है. मुख्यमंत्री ने उन्हें निर्देश दिए कि इस मामले में जल्द से जल्द अपराधियों को गिरफ्तार किया जाए और तेजी से ट्रायल कराकर दोषियों को कठोर सजा दिलाई जाए. राज्य में अपराध की घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular