Wednesday, October 20, 2021
Home खेल भयानक दौर से गुजरा है Ben Stokes का परिवार, सौतेले पिता ने...

भयानक दौर से गुजरा है Ben Stokes का परिवार, सौतेले पिता ने गोली मारकर की भाई-बहन की हत्या


नई दिल्ली: दुनिया के बेस्ट ऑलराउंडरों में शुमार इंग्लैंड के बेन स्टोक्स आज 30 साल के हो गए हैं. बेन स्टोक्स ने अपने दम पर इंग्लैंड को साल 2019 में पहली बार वर्ल्ड कप की ट्रॉफी जिताई थी. बेन स्टोक्स की बात करें तो उनकी पर्सनल लाइफ बेहद मुश्किल रही थी. स्टोक्स जब छोटे थे तो उनके माता-पिता उन्हें न्यूजीलैंड से इंग्लैंड लेकर आ गए. 

क्या था पूरा मामला?

बेन स्टोक्स के परिवार के भयानक अतीत पर इंग्लैंड के मशहूर टेबलॉयड ‘द सन’ ने रिपोर्ट दी थी. रिपोर्ट में कहा गया था कि बेन स्टोक्स के पिता से शादी करने से पहले उनकी मां डेब की पहली शादी से दो बच्चे थे, लेकिन 1988 में उनके जन्म से पहले उनके सौतेले भाई, चार साल के एंड्रयू और आठ वर्षीय बहन ट्रेसी की उनके सौतेले पिता रिचर्ड डन ने हत्या कर दी थी. इस घटना के बाद स्टोक्स की मां डेब ने रग्बी कोच गेरार्ड स्टोक्स से शादी की थी. 

स्टोक्स को लेकर इंग्लैंड में बस गए माता-पिता

गेरार्ड स्टोक्स बेन स्टोक्स के पिता थे. स्टोक्स का जन्म 1991 में हुआ था. बता दें कि रिचर्ड डन को पता चला कि उनकी पत्नी डेब की बेन स्टोक्स के पिता रग्बी कोच गेरार्ड स्टोक्स से मित्रता हो गई है. इसी के बाद रिचर्ड डन ने इस वारदात को अंजाम दिया. रिपोर्ट में आगे कहा गया कि 12 साल के बेन स्टोक्स लेकर उनके माता-पिता न्यूजीलैंड से इंग्लैंड चले गए थे. वहां गेरार्ड ने रग्बी लीग क्लब में नौकरी शुरू कर दी थी. 

पिता ने जलन में बच्चों की हत्या की थी

स्टोक्स की मां डेब का पहले पति रिचर्ड डन से तलाक हो गया था, लेकिन जब रिचर्ड को पता चला कि डेब रग्बी कोच गेरार्ड स्टोक्स के साथ रिश्ते में हैं तो वह आपा खो बैठे. सप्ताह के अंत में दोनों बच्चे रिचर्ड के पास क्राइस्टचर्च स्थित घर गए हुए थे. तनाव में डन ने ट्रेसी और एंड्रयू को गोली मार दी और खुद भी आत्महत्या कर ली. रिचर्ड उस वक्त बेरोजगार थे. इससे पहले उन्होंने घर को आग के हवाले कर दिया था. इस घटना से डेब को गहरा आघात लगा.

हत्यारे की बेटी ने बताया सच

इंग्लैंड के मशहूर टेबलॉयड ‘द सन’ ने रिचर्ड की 49 वर्षीय बेटी जैकी डन के हवाले से रिपोर्ट की. जैकी ने कहा, मैं उस वक्त 18 साल की थी. मैं हैरान थी कि मेरे पिता ने उन दोनों मासूम बच्चों की हत्या कर दी थी. इसकी याद भी भयावह है. टेबलॉयड ने न्यूजीलैंड के अखबार की लीड खबरों के फोटो भी प्रकाशित किए.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular