Thursday, December 2, 2021
Homeराजनीतिभाजपा नेता की मौत की जिम्मेदार पत्नी गिरफ्तार: पत्नी के अवैध संबंध...

भाजपा नेता की मौत की जिम्मेदार पत्नी गिरफ्तार: पत्नी के अवैध संबंध से तंग आकर दी थी जान, पत्नी समेत चार लोगों के खिलाफ दर्ज हुई FIR


लखनऊ31 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
मृतक अभिषेक शुक्ल की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar

मृतक अभिषेक शुक्ल की फाइल फोटो।

लखनऊ सुशांत गोल्फ सिटी थाना क्षेत्र स्थित नंदिनी एन्क्लेव निवासी भाजपा नेता व रिलायंस जियो के डीजीएम अभिषेक शुक्ल (39) की मौत की जिम्मेदार पत्नी कुमुद सिंह को मंगलवार शाम पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। सोमवार को अभिषेक ने अपने घर में पिस्टल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। उनके पिता रामजी शुक्ला ने पत्नी कुमुद सहित चार लोगों को खुदकुशी के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज कराया था। उन्हें इसके पीछे कुमुद के अपने ही रिश्तेदार युवक से अवैध संबंध होने का आरोप लगाया था। जैसा कि अभिषेक ने अपने सुसाइड नोट में लिखा था और जिसे अपनी मां के मोबाइल पर भी भी भेजा था। पुलिस अन्य तीन आरोपियों की तलाश कर रही है।
प्रभारी निरीक्षक सुशांत गोल्फ सिटी विजयेंद्र सिंह के मुताबिक मूलरूप से गोरखपुर कूड़ाघाट गोरक्ष कॉलोनी निवासी अभिषेक शुक्ल की पत्नी कुमुद को शाम को पूछताछ के लिए हिरासत में लेने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। रिलायंस जियो में डीजीएम अभिषेक गोरखपुर विश्वविद्यालय की छात्र राजनीति से लंबे समय तक जुड़े रहने के दौरान कुमुद से लवमैरिज की थी। जिसके बाद नंदिनी एन्क्लेव में परिवार सहित रहते थे। परिवार में पत्नी व एक तीन साल की बेटी है। घटना की रात घर पर केवल अभिषेक का गोरखपुर के कूड़ाघाट निवासी मित्र पवन पांडेय ही थी। जिसने सोमवार को शव देखकर पुलिस को सूचना दी थी। आजकल पत्नी घर छोड़कर बेटी के साथ ओमेक्स सिटी स्थित फ्लैट में रह रही है।
पत्नी से परेशान होकर दो माह पहले छोड़ दिया था घर
दोस्त पवन के मुताबिक घटना की रात उसकी फोन पर किसी से बात हुई। उसके बाद से बहुत परेशान था। अभिषेक लगातार सिगरेट पी रहा था। देर रात कमरे में सिगरेट के धुंए के चलते दूसरे कमरे में जाकर सो गया। सोमवार सुबह अभिषेक के रिश्तेदार ऋषि के फोन पर नींद खुली। ऋषि ने बताया कि अभिषेक फोन नहीं उठा रहा है, क्या बात है। जब अभिषेक के कमरे की तरफ गया तो देखा ड्राइंग रूम में उसका शव कुर्सी पर पड़ा था। जमीन पर लाइसेंसी पिस्टल और मोबाइल पड़ा था। वहीं पास ही अभिषेक के पास से सात पन्ने का सुसाइड नोट बरामद किया। अभिषेक दो महीने पहले पत्नी से विवाद के बाद से ओमेक्स सिटी वाला फ्लैट छोड़कर यहां रहने लगा था।
हैंडराइटिंग एक्सपर्ट की रिपोर्ट पर होगी कार्रवाई
रिलायंस के डीजीएम अभिषेक शुक्ला की खुदकुशी के मामले में पुलिस ने मौके से एक सात पन्ने का सुसाइड नोट, पिस्टल और मोबाइल बरामद किया था। पुलिस ने मौके से मिले पिस्तौल, मोबाइल, सुसाइड नोट व अन्य दस्तावेज जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा दिया है। सुसाइड नोट में अभिषेक ने अपने दस साल की वैवाहिक जीवन के विषय में लिखा था। कैसे उसका प्यार भरा परिवार एक युवक के चलते टूट गया। सुसाइड नोट अभिषेक ने ही लिखा इसकी जांच के लिए अभिषेक के अन्य दस्तावेज को कब्जे में लेकर हैंडराइटिंग एक्सपर्ट के पास जांच के लिए भेजा गया है। वहीं पिस्तौल भी बैलेस्टिक जांच और मोबाइल डाटा रिकवर के लिए भेजा गया है।
अवैध संबंधों के चलते ले ली मेरे बेटे की जान, पिता ने लगाया आरोप
अभिषेक के पिता राम शुक्ल ने सुसाइड नोट और अभिषेक से हुई बातचीत के आधार पर गोल्फ सिटी थाने में मुकदमा दर्ज कराया। जिसमें उन्होंने कहा है कि अभिषेक ने 2010 में प्रेम विवाह किया। इसके बाद उसकी परिवार से रिश्ता तोड़ अभिषेक को लेकर कुमुद लखनऊ आ गई। कुमुद ने अभिषेक का परिवारीजनों से सारे रिश्ते खत्म करवा दिये। अभिषेक पत्नी से छिपकर घर पर बात करता तो घर में मारपीट करती। अभिषेक खुद रिलायंस में डीजीएम होने के चलते पत्नी के नाम से एयरटेल के टावर का काम लेता था। कुमुद उसकी पूरी कमाई पर कब्जा कर लिया था। साथ ही अपनी बहन के बेटे अपूर्व सिंह उर्फ शुभम को भी शामिल कर लिया था। कुमुद और अपूर्व के संबंधों से अभिषेक मानसिक तनाव में रहने लगा था। अभिषेक के विरोध पर बेटी के साथ अलग रहने और उसको सुसाइड करने की बात कहती। कुमुद व उसके बहन के बेटे अपूर्व उर्फ शुभम, बहन कशिश सिंह और शुभम का सुगंध नाम का एक युवक प्रताड़ित करने लगे। इसमें कुमुद की सहेली पूजा का भी हाथ है। पत्नी की हरकतों से तंग आकर दो महीने पहले ही वह पत्नी से अलग नंदनी एन्क्लेव में रहने लगा था।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular