Sunday, September 26, 2021
Home खेल भारतीय सेना के कर्नल का विदेश में बड़ा सम्मान, ओलम्पिक खेलों के...

भारतीय सेना के कर्नल का विदेश में बड़ा सम्मान, ओलम्पिक खेलों के लिए मिली ये जिम्मेदारी


नई दिल्ली: भारतीय सेना के कर्नल (डॉ.) बिभु कल्याण नायक (Dr Bibhu Kalyan Nayak) को इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशन ने टोक्यो ओलम्पिक के लिए मेडिकल ऑफिसर नियुक्त किया है. कर्नल नायक ने इससे पहले 2010 में कॉमनवेल्थ खेलों, 2010 के ही एशियाई खेलों और इसी साल दिल्ली में हुए हॉकी वर्ल्ड कप में मेडिकल ऑफिसर रह चुके हैं.

कर्नल नायक टोक्यो ओलम्पिक के लिए मेडिकल ऑफिसर नियुक्त

ओलम्पिक के लिए मेडिकल ऑफिसर नियुक्त होने वाले पहले भारतीय हैं डॉ. बिभु कल्याण नायक(Dr Bibhu Kalyan Nayak) . कर्नल नायक 1995 में भारतीय सेना की मेडिकल कोर में अफसर बने थे और उसके बाद उन्होंने पुणे के आर्मी स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट में 6 सालों तक प्रमुख भारतीय खिलाड़ियों की फिटनेस और स्वास्थ्य की देखभाल की.

कर्नल नायक ऐसा करने वाले पहले भारतीय 

मेडिकल ऑफसर के तौर पर कर्नल नायक (Dr Bibhu Kalyan Nayak)  की जिम्मेदारी मौसम के हिसाब से पूरे ओलम्पिक में पूरी दुनिया के खिलाड़ियों के स्वास्थ्य की होगी. इतने महत्वपूर्ण खेल महाकुंभ में किसी एक खिलाड़ी की फिटनेस या चोट का असर किसी देश के प्रदर्शन पर पड़ सकता है. इसलिए अतिरिक्त खिलाड़ी को खेलने की अनुमति देने से लेकर खेल के बीच ज्यादा ब्रेक देने तक का फैसला मेडिकल ऑफिसर के विवेक और अनुभव पर होता है.

इसलिए मेडिकल ऑफिसर नियुक्त करने में इंटरनेशनल हॉकी फैडरेशन बेहद सतर्कता और बारीकी से जांच करती है. कर्नल नायक का कहना है कि पहले के अंतर्राष्ट्रीय खेलों में उनके योगदान को आंककर इंटनेशनल हॉकी फैडरेशन ने उन्हें ये मौका दिया है. कर्नल नायक ने स्पोर्ट्स डॉक्टर के तौर पर क्यूबा और स्पेन के प्रसिद्ध स्पोर्ट्स इंजरी संस्थानों में ट्रेनिंग की है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular