Thursday, December 2, 2021
Homeभारतमुंबई के अस्पताल बच्चों के कोरोना वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, सरकार...

मुंबई के अस्पताल बच्चों के कोरोना वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, सरकार से अनुमति मिलने के बाद लगेगा टीका


मुंबई .  देश में कोरोना महामारी (Corona epidemic) के बढ़ते प्रकोप के बीच मुंबई (Mumbai) का अस्पताल बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू करने की तैयारी कर रहा है. इस हॉस्पिटल ने अभिभावकों को बच्चों के कोविड-19 वैक्सीनेशन (Covid-19 Vaccination) के रजिस्ट्रेशन के लिए बुलाया है. सूत्रों के अनुसार, एसआरसीसीचिल्ड्रन हॉस्पिटल ने 2 से 17 वर्ष की आयु के बच्चों के माता-पिता को उनके बच्चों के मुफ्त कोरोना (Corona) टीकाकरण के पंजीकरण के लिए बुलाया है. हालांकि अस्पताल प्रबंधन ने कहा कि, वैक्सीनेशन की तारीख सरकार से अनुमति मिलने के बाद घोषित की जाएगी. यह खबर ऐसे समय पर आई है जब मुंबई में नगरीय निकाय केंद्र सरकार से बच्चों के टीकाकरण की शुरुआत करने के लिए गाइडलाइंस का इंतजार कर रहा है.

एक महीने पहले, मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा था कि बृह्नमुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन (BMC) 2 से 17 साल के आयु वर्ग वाले 33 लाख बच्चों के कोविड-19 वैक्सीनेशन की शुरुआत करने के लिए तैयार है लेकिन इसे लेकर हमें केंद्र सरकार की गाइडलाइंस का इंतजार है. एक मीडिया इवेंट में किशोरी पेडनेकर ने कहा कि, केंद्र सरकार की ओर से गाइडलाइंस और पर्याप्त वैक्सीन मिलने के बाद बच्चों का टीकाकरण शुरू हो जाएगा. चूंकि मुंबई में क्लास 8 से 12 क्लासेज के लिए स्कूल दोबारा से खुल चुके हैं और बीएमसी ने पहले ही इस बात का संकेत दिया था कि वे बच्चों के कोरोना वैक्सीनेशन के लिए तैयार हैं.

ये भी पढ़ें :   Oxygen की कमी से दिल्ली में हुई मौतों के मामले की जांच को LG से मिली मंजूरी, खुलेंगे बड़े राज

ये भी पढ़ें :   यह ‘मुझ पर नहीं बल्कि हिंदू धर्म पर’ हमला है, घर में तोड़फोड़ पर बोले सलमान खुर्शीद

जैसे ही इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) से अनुमति मिलती है, हम बच्चों का टीकाकरण शुरू कर देंगे और इसके लिए किसी भी प्रकार से मौजूद इंफ्रास्ट्रक्चर को अपग्रेड करने की जरुरत नहीं है. बता दें कि 12 अक्टूबर को सरकार द्वारा गठित सबजेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (Subject Expert Committee) ने कोविड वैक्सीनेशन अभियान में बच्चों को शामिल करने के लिए भारत बायोटेक की को‍वैक्सिन (Covaxin) को 2 से 17 साल के बच्चों पर इमरजेंसी यूज की अनुमति दे दी थी. जानकारी के अनुसार देश में दिसंबर के पहले हफ्ते से बच्चों को कोरोना का टीका लगाए जाने की शुरुआत हो सकती है. देश में 18 साल से कम उम्र के 44 करोड़ बच्चे हैं लेकिन सबसे पहले लगभग 6 करोड़ बच्चों के वैक्सीनेशन से शुरुआत की जाएगी. जिसके लिए डीटेल प्लान तैयार किया जा रहा है.

बताया गया है कि सबसे पहले ऐसे 6 करोड़ बच्चों का टीका दिया जाएगा जिन्हें कोई बड़ी बीमारी है. इसके लिए बीमारी का सर्टिफिकेट दिखाना होगा. बच्चों की वैक्सीन के लिए जायकोव डी, कोवैक्सिन, बायोलॉजिकल ई और सीरम इंस्टिट्यूट की कोवोवैक्स कतार में है. लेकिन दिसंबर की शुरुआत में बच्चों को जायकोव डी और कोवैक्सिन लगाने की योजना है. केंद्र सरकार के मुताबिक कई देशों में बच्चों को कोरोना का टीका दिया जा रहा है जिसपर वह नजर बनाए हुए है. बता दें फिलहाल अमेरिका, डेनमार्क, जर्मनी, ऑस्ट्रिया, हंगरी, इटली, स्पेन, स्वीडन, ग्रीस, फिनलैंड, पोलैण्ड, ब्रिटेन, स्विट्जरलैंड, इजरायल, संयुक्त अरब अमीरात, इंडोनेशनिया, ऑस्ट्रेलिया और चीन में बच्चों को टीका दिया जा रहा है. इन देशों में हो रहे वैक्सीनेशन पर केंद्र सरकार की नजर है. जिनसे बच्चों के वैक्सीनेशन के लिए सुझाव भी लिए जा रहे हैं.

Tags: Corona epidemic, COVID 19, Covid 19 vaccination, Mumbai





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular