Friday, May 20, 2022
Homeविश्वयूक्रेनी लड़कियों को रेप के बाद मार रहे रूसी सैनिक, सांसद ने...

यूक्रेनी लड़कियों को रेप के बाद मार रहे रूसी सैनिक, सांसद ने ट्वीट की खौफनाक तस्वीरें


Russia-Ukraine Crisis: रूस और यूक्रेन के बीच पिछले छह सप्ताह से जारी जंग रुकने का नाम नहीं ले रही. इस जंग ने यूक्रेन के नागरिकों का सबकुछ उजाड़ दिया है. अब दावा किया जा रहा है कि रूसी सैनिकों ने मासूम बच्चियों और कम उम्र की लड़कियों के साथ दरिंदगी की है. यूक्रेन की सांसद लेसिया वासिलेंक ने दावा किया है कि रूसी सैनिकों ने 10 साल की उम्र की लड़कियों का रेप किया और उनके शरीर पर स्वास्तिक जैसे निशान बनाए. उन्होंने इन अपराधों की पुष्टि के लिए कई तस्वीरें भी ट्वीट की हैं.

‘यूक्रेन की लड़कियों से दरिंदगी कर रहे रूसी सैनिक’

लेसिया वासिलेंक ने दावा किया है कि जिन लड़कियों को रूसी सैनिकों ने अपना शिकार बनाया उनके शरीर पर स्वास्तिक के आकार के जलने के निशान पाए गए हैं. उन्होंने हैशटैग #StopGenocide #StopPutinNOW के साथ अपने वेरिफाइड ट्विटर हैंडल से रूसी सैनिकों के ज्यादती की तस्वीरें शेयर की हैं. उन्होंने ट्वीट किया, ‘रूसी सैनिक लूटते हैं, बलात्कार करते हैं और मारते हैं.’

हर तरफ हो रही रूस की आलोचना

बता दें कि यूक्रेन में नागरिकों की जानबूझकर हत्या करने के सबूत सामने आने के बाद रूस को सोमवार को चारों तरफ से आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. इस बीच एक बार फिर कुछ पश्चिमी नेताओं ने रूस के खिलाफ और प्रतिबंधों का आह्वान किया है. जर्मनी के रक्षा मंत्री ने सुझाव दिया कि यूरोपीय संघ रूसी गैस आयात पर प्रतिबंध पर चर्चा करे. 

बेरहमी से मौत के घाट उतार रहे यूक्रेनियों को

यूक्रेन के अधिकारियों ने कहा कि 410 नागरिकों के शव राजधानी कीव के आसपास के शहरों में पाए गए, जिन्हें हाल के दिनों में रूसी सेना से फिर से कब्जे में लिया गया था. राजधानी के पश्चिमोत्तर में बूचा में एसोसिएटेड प्रेस के पत्रकारों ने 21 शव देखे. नौ लोगों का शव एक साथ देखा गया. ऐसा लग रहा था कि उन्हें काफी नजदीक से गोली मारी गई हो. उनमें से दो के हाथ उनकी पीठ के पीछे बंधे हुए थे. कीव के पश्चिम में मोतिजिन में न्यूज एजेंसी एपी के पत्रकारों ने चार शव देखे, जिन्हें पास से गोली मारकर गड्ढे में फेंक दिया गया था. इन शवों में मेयर, उनके बेटे और पति का शव शामिल था. शव बंधे हुए थे और उनकी आंखों पर भी पट्टी बंधी हुई थी.

रूस पर नरसंहार का आरोप

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की और कुछ पश्चिमी नेताओं ने रूस पर नरसंहार का आरोप लगाया है. संगीतकारों और अन्य कलाकारों के लिए लास वेगास में ग्रैमी अवार्ड्स के दौरान दिखाए गए एक वीडियो में, जेलेंस्की ने उनसे अपने राष्ट्र का समर्थन करने और ‘मौन को अपने संगीत से भरने’ के लिए कहा. 

‘युद्ध अपराधों के स्पष्ट सबूत’

यूरोपीय संघ की विदेश नीति के प्रमुख जोसेप बोरेल ने कहा, ‘रूसी अधिकारी इन अत्याचारों के लिए जिम्मेदार हैं.’ उन्होंने कहा, ‘युद्ध अपराधों और अन्य गंभीर उल्लंघनों के अपराधियों के साथ-साथ जिम्मेदार सरकारी अधिकारियों और सैन्य नेताओं को जवाबदेह ठहराया जाएगा.’ फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने सोमवार को कहा कि बूचा में ‘युद्ध अपराधों के स्पष्ट सबूत’ हैं जो नए उपायों की मांग करते हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं प्रतिबंधों के एक नए दौर के पक्ष में हूं और विशेष रूप से कोयले और पेट्रोल पर. हमें कार्रवाई करने की जरूरत है.’ 

‘रूस अधिनायकवादी-फासीवादी राज्य’

पोलैंड के प्रधानमंत्री माटुस्ज़ मोरवीकी ने रूस को ‘अधिनायकवादी-फासीवादी राज्य’ के रूप में वर्णित करते हुए कहा, ‘रूसी सैनिकों द्वारा किए गए खूनी नरसंहार इस नाम से बुलाए जाने योग्य हैं: यह नरसंहार है.’ इस बीच, अमेरिका और उसके सहयोगियों ने व्यापक आर्थिक प्रतिबंध लगाकर रूस को आक्रमण के लिए दंडित करने की मांग की है.

LIVE TV





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular