Monday, June 27, 2022
Homeविश्वयूक्रेन संकट पर ऐसा क्या बोल गए ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन कि...

यूक्रेन संकट पर ऐसा क्या बोल गए ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन कि मच गया बवाल


लंदन: ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (British PM Boris Johnson) यूक्रेन संकट की तुलना ब्रेक्जिट (Brexit) वोटिंग से करने को लेकर घिर गए हैं. विपक्ष के साथ-साथ अपने भी उनकी आलोचना कर रहे हैं. जॉनसन ने इंग्लैंड के ब्लैकपूल में अपनी कंजरवेटिव पार्टी के सम्मेलन को संबोधित करते हुए युद्ध की तुलना ब्रेक्जिट की थी. उन्होंने कहा था कि यूक्रेन के लोगों की तरह ब्रिटेन के लोगों की भी स्वतंत्रता को चुनने की प्रवृत्ति है.

ये कहा था बोरिस जॉनसन ने 

हमारी सहयोगी वेबसाइट WION में छपी खबर के अनुसार, बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने कहा, ‘मैं जानता हूं कि इस देश के लोगों की स्वभाविक प्रवृत्ति यूक्रेन के लोगों की ही तरह हर समय आजाद रहने की है. मैं आपको अपनी बात के आधार के लिए हाल ही के कुछ उदाहरण भी दे सकता हूं. जब ब्रिटिश लोगों ने इतनी बड़ी संख्या में ब्रेक्जिट के पक्ष में मतदान किया तो मुझे नहीं लगता कि यह केवल इसलिए हुआ कि वह दूर से ही सही, लेकिन विदेशियों के गुलाम बनकर नहीं रहना चाहते थे. बल्कि वे चीजें अलग तरीके से करने के लिए आजाद रहना चाहते थे और इस देश को अपने तरीके से चलाना चाहते थे’.

ये भी पढ़ें -दुनिया को दहशत में डालने वाले पुतिन को सता रहा हत्या का डर, अपने स्टाफ के साथ उठाया ये बड़ा कदम

‘आपके शब्द ठेस पहुंचाने वाले’

जॉनसन के इस बयान पर बवाल मच गया है. कंजरवेटिव लॉर्ड बारवेल ने उनके इस बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा कि किसी जनमत संग्रह में मतदान करने की तुलना किसी भी तरह से युद्ध में जीवन पर हर समय मंडराने वाले खतरे से नहीं की जा सकती है. वहीं, यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क ने ट्वीट कर कहा कि बोरिस, आपके शब्द यूक्रेन-ब्रिटिश लोगों और सामान्य ज्ञान को भी ठेस पहुंचाने वाले हैं. 

‘तुलना पागलपन से कम नहीं’ 

उधर, बेल्जियम के पूर्व प्रधानमंत्री गे वेरहॉफस्टेट ने कहा कि इस तरह की तुलना किसी पागलपन से कम नहीं है. जबकि लिबरल डेमोक्रेट नेता सर एडकॉल्ड ने कहा कि ब्रेक्जिट में मतदान की रूसी हमले का सामना कर रहे लोगों से तुलना करना हर यूक्रेनी का अपमान है. प्रधानमंत्री जॉनसन ने पूरे देश को शर्मिंदा किया है. बता दें कि जून 2016 में ब्रिटेन के लोगों ने यूरोपीय संघ छोड़ने के लिए 52 से 48 प्रतिशत के मार्जिन से मतदान किया था. जबकि रूस के हमले के चार दिन बार यूक्रेन ने 28 फरवरी को इसमें शामिल होने का औपचारिक अनुरोध किया था.

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular