Sunday, January 23, 2022
Homeराजनीतियूपी: जानिए कौन हैं अमित शाह के राजनीतिक जीवन के मार्गदर्शक, कासगंज...

यूपी: जानिए कौन हैं अमित शाह के राजनीतिक जीवन के मार्गदर्शक, कासगंज की रैली में याद कर किया नमन


कासगंज में जनसभा को संबोधित करते केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह
– फोटो : अमर उजाला

शनिवार को कासगंज में आए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की जुबां पर बार-बार पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का नाम था। दोनों ही दिग्गजों ने प्रदेश में भाजपा को शिखर पर पहुंचाने का श्रेय पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को दिया। अमित शाह ने अपने सफल राजनीतिक जीवन का मार्गदर्शक कल्याण सिंह को बताया। 

अमित शाह की जनसभा में प्रदर्शन: कासंगज हिंसा में मारे गए चंदन गुप्ता को न्याय दिलाने की उठी मांग

जन विश्वास रैली में अपने संबोधन की शुरुआत करते ही केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सबसे पहले पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को याद करते हुए उन्हें नमन किया। भीड़ की ओर इशारा करते हुए बोले कि जो जन सैलाब उमड़ा है, वह यह बता रहा है कि बाबूजी का स्मरण जस का तस बना हुआ है। बाबूजी के बाद पहली बार कासगंज आया हूं। ब्रज में ही नहीं बल्कि प्रदेश में भाजपा को शिखर तक बाबूजी ने ही पहुंचाया। 

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह
– फोटो : अमर उजाला

बाबूजी का आशीर्वाद आज भी मेरे साथ: शाह

अमित शाह ने कहा कि कासगंज की धरा पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की कर्मस्थली है। यही कल्याण सिंह थे, जब समय आया कि रामजन्म भूमि पर मंदिर बने या कुर्सी जाए। तो उन्होंने दो मिनट में कुर्सी को ठुकराकर प्रभु श्रीराम के मंदिर का रास्ता साफ कर दिया था। शाह ने कहा कि आज इस कार्यक्रम स्थल पर जगह-जगह पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के साथ मेरे पोस्टर लगे हैं। यह स्पष्ट कर रहा है कि बाबूजी का आशीर्वाद आज भी मेरे साथ है।

 

जनसभा को संबोधित करते उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य
– फोटो : अमर उजाला

कल्याण सिंह को याद कर भावुक हुए केशव प्रसाद

केंद्रीय गृहमंत्री के संबोधन से पहले उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की जुबां पर भी कल्याण सिंह रहे। उन्होंने कासगंज को पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की कर्मभूमि बताई और पूर्व मुख्यमंत्री को यादकर भावुक दिखाई दिए। कहा कि राम मंदिर का सपना साकार करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन पर पूरा देश शोक में डूबा। उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए जन सैलाब उमड़ा, लेकिन सपा मुखिया अखिलेश यादव ने उन्हें श्रद्धांजलि भी नहीं दी। 

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य
– फोटो : अमर उजाला

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि बाबूजी के सम्मान में सिर्फ यही अपील है कि कासगंज जिले की सभी सीटों पर भाजपा प्रत्याशी को आप जिताएं। सही मायने में बाबूजी को सच्ची श्रद्धांजलि तब ही मिलेगी जब सपा प्रत्याशियों की जमानत जब्त कर देंगे।

जनसभा में भीड़
– फोटो : अमर उजाला

मौर्य ने कहा कि विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहा है। आप लोगों को सावधान रहना है। जिन्ना को आदर्श बताने वाले चुनावी हिंदू बनकर आएंगे। इन्हें सबक सिखाना है। उन्होंने दोहराया कि 100 फीसद वोट में 60 हमारा है जो 40 बचा उसमें भी हमारा बंटवारा है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular