Saturday, May 28, 2022
Homeविश्वये हैं दुनिया के सबसे साफ देश, जानें लिस्ट में कौन-कौन शामिल,...

ये हैं दुनिया के सबसे साफ देश, जानें लिस्ट में कौन-कौन शामिल, देखें पूरी रिपोर्ट


नई दिल्ली: दुनिया के सबसे प्रदूषित देश (Most Polluted Countries) और सबसे प्रदूषित शहर बहुत ज्यादा खतरनाक साबित हो सकते हैं. वायु प्रदूषण (Air Pollution) यानी हवा में मौजूद जहरीले कण इंसान के फेफड़ों, खून और दिमाग में प्रवेश कर जाते हैं. जहां-जहां ये कण पहुंचते हैं, वहां आर्टरीज, नर्व्स और मसल्स ब्लॉक हो सकती हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की रिपोर्ट के मुताबिक 70 लाख लोग हर साल प्रदूषण से मारे जाते हैं. 

कैसे की गई रैंकिंग?

सबसे प्रदूषित और सबसे शुद्ध हवा (The Purest Air) वाले शहरों की रैंकिंग 117 देशों और शहरों के PM 2.5 के स्तर के आधार पर तैयार की गई है. हो सकता है कि इनमें से बहुत से शहरों या कुछ देशों के नाम भी आपने सुने ना हों. लेकिन इन शहरों की हवा में सांस लेने पर आपके जीवन के कुछ दिन बढ़ सकते हैं.  

सबसे प्रदूषित देश

  • बांग्लादेश- 76.9 

  • चाड- 75.9 

  • पाकिस्तान- 66.8  

  • ताजिकिस्तान- 59.4 

  • भारत- 58.1

ये भी पढें: 70 साल के इस आदमी के पास 50 साल से नहीं था ड्राइविंग लाइसेंस, ऐसे पकड़ा गया

सबसे प्रदूषित शहर

  • नई दिल्ली (भारत)             85.0 

  • ढाका (बांग्लादेश)              78.1 

  • अनजमेना (चैड)                77.6 

  • दुशानबे (ताजिकिस्तान)      59.5 

  • मस्कट (ओमान)                53.9 

बिना प्रदूषण वाले केवल तीन देशों का एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 5 से कम है

  • न्यू कैलेडोनिया (New Caledonia)- 3.8 AQI

  • यू एस वर्जिन आइलैंड्स (U S Virgin Islands)- 4.5 AQI

  • प्यूरटो रिको (Puerto Rico)- 4.8 AQI

बिना प्रदूषण वाले केवल चार शहरों का एयर क्वालिटी इंडेक्स 5 से कम है

  • नौमिया (Noumea, New Caledonia)- 3.8 

  • शैरोलेट एमली (Charlette Amalie, U S Virgin Islands)- 4.5 

  • सैन जुआन (San Juan, Puerto Rico)- 4.8 

  • कैनबरा (Canberra, Australia)- 4.8 

(Source- World Air Quality Report 2021- IQ Air)

ये भी पढें: दार्जिलिंग की ये 5 जगह नहीं देखीं तो कुछ नहीं देखा, बार-बार जाएंगे घूमने

WHO 2021 की एयर क्वॉलिटी गाइडलाइंस के हिसाब से साफ और शुद्ध हवा के मानक   

PM 2.5– 24 घंटे का औसत 15 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक ना हो और साल का औसत 5 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक ना हो.

PM10– 24 घंटे का औसत 15 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक ना हो.

एक वर्ष का औसत 45 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक ना हो.

NO2– नाइट्रोजन डाइऑक्साइड 24 घंटे का औसत 25 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक ना हो.

एक वर्ष का औसत 10 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक ना हो.

अगर आपके शहर में प्रदूषित कणों और गैसों का स्तर इतना या इससे कम रहता है, तभी उस शहर की हवा को साफ माना जा सकता है.

LIVE TV





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular