Saturday, May 28, 2022
Homeबिजनेसरुचि सोया और पतंजलि के लिए स्वामी रामदेव के पास है ये...

रुचि सोया और पतंजलि के लिए स्वामी रामदेव के पास है ये प्लान, कहा ऐसे बनेंगे नंबर 1


नई दिल्ली: पतंजलि ग्रुप के स्वामित्व वाली रुचि सोया (Ruchi Soya) का 4,300 करोड़ रुपये की फॉलो ऑन पब्लिक ऑफर (FPO) आज से रिटेल इन्वेस्टर्स के लिए खुल चुका है. यह FPO पब्लिक सब्सक्रिप्शन के लिए 24 मार्च से लेकर 28 मार्च तक खुली रहेगी. 

कंपनी ने जुटाए 1290 करोड़ रुपये

डायवर्सिफाइड FMCG कंपनी रुचि सोया इंडस्ट्रीज (Ruchi Soya Industries) ने अपने पब्लिक सब्सक्रिप्शन खुलने के पहले अपने एंकर निवेशकों (anchor investors) से 1290 करोड़ रुपये जुटाए हैं. कंपनी ने एंकर निवेशकों को 650 रुपये प्रति इक्विटी शेयर की कीमत पर 1.98 करोड़ इक्विटी शेयरों की पेशकश की.

स्वामी रामदेव का प्लान कुछ ऐसा है

इस दौरान स्वामी रामदेव ने कहा कि हम सुपर पॉवर भारत बनाना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘पतंजलि के पास कॉस्मेटिक का कारोबार रहेगा और रुचि सोया के पास फूड प्रोडक्ट का कारोबार रहेगा. उन्होंने कहा कि रुचि सोया पर लोगों का भरोसा है.’

यह भी पढ़ें: Google पर कभी न Search करें ये 10 चीजें, खाली हो सकता है आपका बैंक अकाउंट

कॉर्पोरेट पारदर्शिता पर ज्यादा जोर

स्वामी रामदेव का लक्ष्य है कि रुचि सोया को विश्व की नंबर वन कंपनी बनाया जाए. उनका मानना है कि मार्केट में पहले पैसा लगाना पड़ता है, फिर मिलता है. साथ ही उनका ये भी कहना है कि रुचि सोया के प्रति लोगों का भरोसा लगातार बढ़ रहा है.’ स्वामी रामदेव का यह भी कहना है कि हमारे लिए राष्ट्रहित सर्वोपरि है. मैं लोगों को कस्टमर में कन्वर्ट करने की ताकत रखता हूं. उन्होंने कहा कि पहली बार किसी कंपनी का FPO एक संन्यासी लेकर आ रहा है. युद्ध के डर के बीच में भी हम FPO लेकर आ रहे हैं.

 

2019 में पतंजलि ने किया रुचि सोया का अधिग्रहण

आपको बता दें कि बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि ने 2019 में एक इन्सॉल्वेंसी प्रोसेस में 4,350 करोड़ रुपये में Ruchi Soya का अधिग्रहण किया था, यह स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड कंपनी है.

9 फीसदी हिस्सेदारी बेचेंगे प्रमोटर्स

कंपनी के प्रमोटर्स के पास फिलहाल कंपनी के 99 फीसदी हिस्सेदारी है. कंपनी अपने इस FPO में करीब 9 फीसदी हिस्सेदारी बेचने जा रही है.

SEBI के नियमों के मुताबिक, कंपनी को कम-से-कम 25 फीसदी पब्लिक शेयर होल्डिंग हासिल करने के लिए प्रमोटर्स की हिस्सेदारी कम करनी होगी. प्रमोटर्स की हिस्सेदारी को घटाकर 75 फीसदी करने के लिए उसके पास करीब 3 साल का समय है.

LIVE TV





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular