Sunday, January 23, 2022
Homeराजनीतिलखीमपुर खीरी कांड पर आक्रोश: पश्चिमी यूपी में बारिश के बावजूद रेल...

लखीमपुर खीरी कांड पर आक्रोश: पश्चिमी यूपी में बारिश के बावजूद रेल रोकने पहुंचे किसान, पुलिस बल तैनात


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मेरठ
Published by: Dimple Sirohi
Updated Mon, 18 Oct 2021 11:13 AM IST

सार

किसानों के रेल रोको कार्यक्रम के तहत पश्चिमी यूपी के किसान नेताओं का कहना है कि वेस्ट यूपी के सभी जिलों में आज शाम 4 बजे तक रेल यातायात ठप किया जाएगा। वहीं सुबह 10 बजे से ही किसान तेज बारिश के बावजूद रेलवे स्टेशनों पर पहुंचे हैं। इसे लेकर पुलिस बल अलर्ट हो गया है।
 

रोको कार्यक्रम को देखते हुए स्टेशन पर पहुंचे किसान
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

लखीमपुर खीरी कांड के विरोध में और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी को लेकर सोमवार को देशभर के किसान छह घंटे तक रेल रोकने का एलान किया है। इसे लेकर आज सुबह दस बजे किसान कार्यकर्ता बारिश होने के बावजूद स्टेशनों पर पहुंच गए और धरना दिया। मेरठ के अलावा मुजफ्फरनगर, बागपत, शामली बिजनौर व सहारनपुर में किसान कार्यकर्ताओं ने रेल रोकने के लिए किसानों को स्टेशनों पर पहुंचने का आह्वान किया है। 

संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर मेरठ जनपद में तीन जगह कंकरखड़ा फ्लाईओवर, सकौती रेलवे स्टेशन और परतापुर स्टेशन पर रेल रोकी जाएगी।

किसान नेताओं का कहना है कि वेस्ट यूपी के सभी जिलों में आज शाम 4 बजे तक रेल यातायात ठप किया जाएगा। भाकियू के निवर्तमान जिलाध्यक्ष मनोज त्यागी व प्रवक्ता बबलू जिटौली ने बताया कि इस बार सिटी व कैंट स्टेशन पर रेल रोकने का कार्यक्रम नहीं है। कंकरखेड़ा फ्लाईओवर के नीचे फाटक पर ट्रेन रोकी जाएगी। वहीं आरपीएफ अलर्ट हो गया है। अतिरिक्त बल तैनात किया है। 

यह भी पढ़ें: मिशन 2022: चंद्रशेखर आजाद बोले- सत्ता में आए तो मुस्लिमो को देंगे आरक्षण और किसानों को एमएसपी की गारंटी

मुजफ्फरनगर के खतौली स्टेशन पर भी किसान नेता व कार्यकर्ता पहुंचने शुरू हो गए हैं। भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता प्लेटफार्म पर बैठे हैं। नारेबाजी कर रहे हैं। किसानों का लगातार स्टेशन पर आना जारी है। वहीं सुरक्षा के मद्देनजर खतौली रेलवे स्टेशन पर भारी पुलिस बल मौजूद है। वहीं मंसूरपुर रेलवे स्टेशन पर भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं द्वारा रेल रोकी गई। मंसूरपुर रेलवे स्टेशन पर अमृतसर दिल्ली एक्सप्रेस खड़ी हुई है।

बागपत जनपद के अग्रवाल मंडी टटीरी कस्बे में बागपत रोड रेलवे स्टेशन पर शामली से दिल्ली जाने वाली पैसेंजर ट्रेन अपने निर्धारित समय से दिल्ली के लिए रवाना हुई। ट्रेन के समय रेलवे स्टेशन पर भारतीय किसान यूनियन का कोई कार्यकर्ता उपस्थित नहीं रहा। हालांकि यहां भारी संख्या में पुलिसकर्मी मौजूद रहे।

शामली रेलवे स्टेशन पर भारी फोर्स तैनात है। गिनती के किसान नेता स्टेशन पहुंचे हैं, जिन्हें पुलिस ने बाहर ही रोक दिया गया। रेलवे फाटक पर भी पुलिस तैनात है।

बिजनौर में भी किसान नेताओं का रेल रोकने का कार्यक्रम है। लखनऊ से चलकर चंडीगढ़ जाने वाली ट्रेन नंबर 5011 को फिलहाल रेलवे कंट्रोल रूम ने बिजनौर स्टेशन पर रोक दिया है। बताया गया कि किसानों के आंदोलन को देखते हुए ट्रेन को रोका गया है। हालांकि किसान तो स्टेशन पर नहीं हैं लेकिन ट्रेन रुकी है। पुलिस ने अपनी मौजूदगी में कोटद्वार, दिल्ली और नजीबाबाद, गजरौला ट्रेन को स्टेशन से पास रुकवाया है।

विस्तार

लखीमपुर खीरी कांड के विरोध में और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी को लेकर सोमवार को देशभर के किसान छह घंटे तक रेल रोकने का एलान किया है। इसे लेकर आज सुबह दस बजे किसान कार्यकर्ता बारिश होने के बावजूद स्टेशनों पर पहुंच गए और धरना दिया। मेरठ के अलावा मुजफ्फरनगर, बागपत, शामली बिजनौर व सहारनपुर में किसान कार्यकर्ताओं ने रेल रोकने के लिए किसानों को स्टेशनों पर पहुंचने का आह्वान किया है। 

संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर मेरठ जनपद में तीन जगह कंकरखड़ा फ्लाईओवर, सकौती रेलवे स्टेशन और परतापुर स्टेशन पर रेल रोकी जाएगी।

किसान नेताओं का कहना है कि वेस्ट यूपी के सभी जिलों में आज शाम 4 बजे तक रेल यातायात ठप किया जाएगा। भाकियू के निवर्तमान जिलाध्यक्ष मनोज त्यागी व प्रवक्ता बबलू जिटौली ने बताया कि इस बार सिटी व कैंट स्टेशन पर रेल रोकने का कार्यक्रम नहीं है। कंकरखेड़ा फ्लाईओवर के नीचे फाटक पर ट्रेन रोकी जाएगी। वहीं आरपीएफ अलर्ट हो गया है। अतिरिक्त बल तैनात किया है। 

यह भी पढ़ें: मिशन 2022: चंद्रशेखर आजाद बोले- सत्ता में आए तो मुस्लिमो को देंगे आरक्षण और किसानों को एमएसपी की गारंटी



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular