Friday, September 17, 2021
Home राजनीति लेटलतीफी: कोरोना की आरटीपीसीआर और ट्रू नेट जांच के तीन सेंटर, फिर...

लेटलतीफी: कोरोना की आरटीपीसीआर और ट्रू नेट जांच के तीन सेंटर, फिर भी जिले में 500 रिपोर्ट पेंडिंग


भागलपुरएक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
टीबी विभाग में बंद पड़ा कोरोना जांच सेंटर। - Dainik Bhaskar

टीबी विभाग में बंद पड़ा कोरोना जांच सेंटर।

आरटीपीसीआर व ट्रू नेट मशीन से जिले में तीन सेंटर पर जांच हो रही है। इसके बाद भी 500 से ज्यादा रिपोर्ट पेंडिंग है। कोरोना की दूसरी लहर का पीक खत्म होने के बाद जांच का दबाव कम हो गया है। इसके बाद भी रिपोर्ट नहीं मिल रहे हैं। इतना ही नहीं, जिस ट्रू नेट मशीन का जिला यक्ष्मा कार्यालय में सीएस डॉ. उमेश शर्मा ने उद्धाटन किया, वह भी 7 जून से बंद है।

यहां तो टेक्नीशियन तक नहीं आ रहे। दो मशीन भी खराब हो चुकी है। इस बीच पटना से आई मोबाइल वैन को सदर अस्पताल से ही 400 सैंपल दिए गए, लेकिन यह रिपोर्ट भी नहीं मिली। जिला यक्ष्मा कार्यालय परिसर स्थित काेराेना जांच सेंटर में ताला बंद है। यहां चार दिन से जांच नहीं हो रही। जिले से जांच को सैंपल तक नहीं मिले। ऐसे में यहां तैनात 6 टेक्नीशियन भी ड्यूटी पर नहीं आ रहे हैं। 29 मई काे लैब का उद्घाटन सीएस ने किया था। 29 से 6 जून तक 304 सैंपलाें की जांच में 24 की रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई, लेकिन निगेटिव पाए गए मरीजों को सूचना नहीं दी। इसे पोर्टल पर अपलोड भी नहीं किया गया।

यहां मुंगेर, बांका के सैंपल की भी होगी जांच
शहर में मोबाइल वैन आने से मेडिकल कॉलेज की आरटीपीसीआर लैब का दबाव कम हुआ तो 24 घंटे में रिपोर्ट जारी होने लगी है। हालांकि मोबाइल वैन की रिपोर्ट अभी भी पेंडिंग है। मेडिकल कॉलेज में भी पहले सप्ताहभर तक रिपाेर्ट पेंडिंग थे। अब यहां बांका, भागलपुर और मुंगेर के सैंपलाें की जांच हाेगी। प्राचार्य डाॅ. हेमंत कुमार सिन्हा ने बताया, फिलहाल यहां रोज करीब 2500 जांच हो रही है।

हमारे यहां 4 दिन से सैंपल ही नहीं आ रहे। इसलिए जांच नहीं हाे रही। सैंपल न आने का कारण नहीं पता। हमने टेक्नीशियन से कहा है कि सैंपल आने पर जांच करें।
– डाॅ. दीनानाथ, संचारी राेग पदाधिकारी
मोबाइल वैन से देर से मिल रही रिपोर्ट की जानकारी प्रधान सचिव से की है। 2-4 दिन में सुधार नहीं हुआ ताे सरकार से कह कर वैन वापस कर देंगे। बार-बार कहने के बाद भी एजेंसी समय से रिपाेर्ट नहीं दे रही है। जिला यक्ष्मा कार्यालय में दाे ट्रू नेट मशीन खराब है। इसे ठीक कराने को कहा है।
– डाॅ. उमेश शर्मा, सिविल सर्जन

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular