Monday, April 12, 2021
Home भारत वैष्णो देवी में बर्फबारी, कश्‍मीर के गुलमर्ग में पारा -7.2; दिल्‍ली समेत...

वैष्णो देवी में बर्फबारी, कश्‍मीर के गुलमर्ग में पारा -7.2; दिल्‍ली समेत उत्‍तर भारत में कड़ाके की ठंड के आसार


पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी होने से मैदानी इलाकों में ठिठुरन बढ़ने के आसार हैं.

Weather Updates: भारत मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय पूर्वानुमान के अनुसार, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के ऊपरी इलाकों में ताजा पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण बर्फबारी की स्थिति बन सकती है. विभाग के अनुसार शीत लहर का दौर 29 दिसंबर के बाद लौटेगा.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 27, 2020, 8:36 PM IST

नई दिल्ली. दिसंबर का महीना खत्म होने वाला है और पूरे उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप जारी है. रविवार को वैष्णों देवी में बर्फवारी होने से मौसम में और बदलाव आने की आशंका जताई जा रही है. भारत मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय पूर्वानुमान के अनुसार, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के ऊपरी इलाकों में ताजा पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण बर्फबारी की स्थिति बन सकती है. विभाग के अनुसार शीत लहर का दौर 29 दिसंबर के बाद लौटेगा. भारतीय मौसम विभाग ने आशंका जताई है कि पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी होने से दिल्ली, पंजाब, हरियाण, उत्तर प्रदेश बिहार और राजस्थान जैसे राज्यों में सर्दी का सितम बढ़ेगा.

जम्मू कश्मीर में रविवार को शीतलहर और तेज हो गई तथा समूची घाटी में न्यूनतम तापमान शून्य से कई डिग्री सेल्सियस नीचे गिर गया. मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि 12 दिसंबर को हुई बर्फबारी के बाद से कश्मीर में मौसम शुष्क और सर्द बना हुआ है, जबकि रात का तापमान शून्य से नीचे रहा है. इस बीच, मौसम विभाग का अनुमान है कि घाटी में अगले तीन दिनों में हल्की बारिश और बर्फबारी हो सकती है.

बर्फीली पछुआ हवा ने बढ़ाएगी सर्दी
बर्फीली पछुआ हवा ने उत्त्तर प्रदेश में सर्दी बढ़ा दी है और पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के ज्यादातर मंडलों में न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहा. आंचलिक मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ हिस्सों में शीतलहर का प्रकोप रहा. इस अवधि में ज्यादातर मंडलों में न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे दर्ज किया गया. कुछ स्थानों पर घना कोहरा भी गिरा. इसमें कहा गया कि सर्द पछुआ हवा चलने से खासी गलन महसूस की जा रही है. हालांकि ज्यादातर इलाकों में दिन में खिली धूप निकली लेकिन बर्फीली हवा के कारण सर्दी से कुछ खास राहत नहीं मिली.

इसे भी पढ़ें :- नए साल से पहले होगी बारिश-बर्फबारी, मंडी-मनाली में माइनस में पारा

घाटी में शून्य से नीचे गया तापमान
अधिकारियों ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 5.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया जो पिछली रात शून्य से 3.7 डिग्री सेल्सियस नीचे था. दक्षिण कश्मीर के पर्यटन स्थल पहलगाम में पारा शून्य से 5.9 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया, जबकि उसके पिछली रात तापमान शून्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा था.अधिकारियों के अनुसार, उत्तरी कश्मीर में गुलमर्ग में तापमान शून्य से 7.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि उसके पिछली रात तापमान शून्य से 6.5 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा था. वर्तमान में कश्मीर ‘चिल्लई कलां’ की चपेट में है. इस दौरान 40 दिनों तक भीषण सर्दी होती है. अधिकारियों ने कहा कि इस अवधि के दौरान सबसे अधिक बर्फबारी होती है. 21 दिसंबर से शुरू हुआ ‘चिल्लई-कलां’ 31 जनवरी को समाप्त होगा.


<!–

–>

! function(f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function() {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
};
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
}(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular