Wednesday, October 20, 2021
Home बिजनेस सरकारी आंकड़ों में कम हुई महंगाई, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और...

सरकारी आंकड़ों में कम हुई महंगाई, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और…


सरकारी आंकड़ों में कम हुई महंगाई, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और...

सरकारी आंकड़ों में महंगाई कम हो रही है लेकिन आम इस्तेमाल के सामान दुकान में महंगे हो रहे

नई दिल्‍ली :

देश में थोक महंगाई दर अगस्त के मुक़ाबले सितंबर में कुछ घटी है लेकिन बीते साल सितंबर के मुक़ाबले ये काफ़ी बढ़ी हुई है. असर साफ़ दिख रहा है- घरेलू जरूरत की सारी चीज़ें महंगी हो चुकी हैं इसमें सब्ज़ियां भी शामिल हैं. भारत सरकार के आंकड़ों के मुताबिक महंगाई दर में कमी आई है लेकिन जमीनी स्तर पर सब्जियों से लेकर आम घरेलु इस्तेमाल की चीजें महंगी हुई है. सरकारी आंकड़ों में महंगाई कम हो रही है लेकिन आम इस्तेमाल के सामान दुकान में महंगे हो रहे हैं. गाजियाबाद में करीब 20 साल से परचून की दुकान चला रहे विनय के मुताबिक कॉस्मेटिक के सामान के दाम बीते एक महीने में 20 फीसदी तक महंगे हो गए हैं तो वहीं सर्फ, साबुन, तेल की कीमतों में भी इजाफा हुआ है. चीनी 38 रुपए किलो से बढ़कर 42 रुपए हो गई है. 5 किलो आटा का पैकेट 300 रुपए से 330 रुपए हो चुका है. 

यह भी पढ़ें

विनय कहते हैं, सर्फ साबुन-शैंपू सब में बीस फीसदी बढ़ोत्तरी हुई है. मस्टर्ट ऑयल पहले 150 रुपए था अब 180 रुपए में हो गया है,  कॉस्मेटिक के दाम डेली बढ़ा देते हैं.उधर गुरुवार को वाणिज्य मंत्रालय ने होलसेल के आंकड़े जारी किए जिसके मुताबिक पिछले साल के मुकाबले इस साल सितंबर महीने मंहगाई दर बढ़ी है. पिछले साल सितंबर में होल सेल मंहगाई दर 1.32 फीसदी थी जो इस साल बढ़कर 10.66 फीसदी हो गयी है. हालांकि इस साल में अगस्त 11.39 फीसदी थी जो कुछ कम होकर 10.66 फीसदी हो गयी है.

हालांकि खाने के तेल पर उपभोक्तााओं को कुछ राहत देने के लिए पाम, सोयाबीन और सूरजमुखी पर आयात शुल्क खत्म किया गया है लेकिन जानकार कहते हैं कि हाल फिलहाल में मंहगाई घटने वाली नहीं है.शेयर इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट रवि सिंह कहते हैं, ‘देखिए फिलहाल त्यौहार के सीजन के चलते खाने के तेल पर मंहगाई कम होने वाली नहीं है. अभी 7.5 मिलियन टन सरसों का उत्पादन बोता है. इंम्पोर्ट ड्यूटी कम हुई है लेकिन इसका इंम्पैक्ट आने में एक से तीन महीने का वक्त लगेगा.’

पेट्रोल, डीजल से लेकर रसोई गैस तक के दाम में लगातार इजाफा हो रहा है. जिसका असर सब्जियों के दाम पर भी पड़ रहा है. बाजार में टमाटर जहां 80 से 100 रुपए में मिल रहा है. वहीं आलू, प्याज और दूसरी सब्जियों के भाव भी लगातार बढ़े हैं. जानकार इसे डीजल के दाम बढ़ने से माल ढुलाई का भाड़ा बढ़ने से जोड़ रहे हैं. इसी के चलते महंगाई पर सरकार जो भी दावा करे, फिलहाल इसके बने रहने की संभावना ज्यादा नजर आ रही है.

– – ये भी पढ़ें – –
* नवाब मलिक के दामाद समीर खान और अन्य को मिली जमानत को हाईकोर्ट में चुनौती देगी NCB

* सीएम के बेटे की शादी में ‘नशे में थे पुलिसवाले’ : पंजाब के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी का खत

* दिल्ली के CM की LG को चिट्ठी – छठ पूजा सार्वजनिक रूप से मनाने की अनुमति दें



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular