Thursday, September 23, 2021
Home राजनीति सहरसा में 5 बच्चों की डूबकर मौत: गड्ढे में मछली मारने के...

सहरसा में 5 बच्चों की डूबकर मौत: गड्ढे में मछली मारने के लिए गए थे पांचों, पहले एक डूबा फिर उसे बचाने के लिए चारों कूदे; जिंदगी से हारे जंग


सहरसा3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
घटना के बाद रोते-बिलखते परिजन। - Dainik Bhaskar

घटना के बाद रोते-बिलखते परिजन।

सहरसा से एक बड़ी खबर सामने आ रही है, जहां ईंट भट्ठे के गड्ढे में 5 बच्चों की डूबने से मौत हो गई। लगातार बारिश की वजह से गड्ढे में पानी जमा हो गया था। शनिवार दोपहर पांचों बच्चों मछली मछली मारने गए थे। गड्ढा लबालब होने के कारण बच्चों को गहराई का पता नहीं चला। पहले एक बच्चा गड्ढा में गिरा फिर उसे बचाने के चक्कर में एक-एक कर सभी बच्चे गहराई में चले गए।

पानी में डूब रहे बच्चों ने मदद के लिए शोच मचाया लेकिन जब तक लोग वहां पहुंचते बच्चे डूब चुके थे। घटना सदर थाना क्षेत्र के वार्ड नंबर 31 में हुई। मृतकों की पहचान मो. आरिफ (8), मो. महफूज (13), मो. दानिश (13), मो. इसराइल रहमान (11) और मो. अबू बकर (10) के रूप में हुई है।

बच्चों की मौत की खबर से इलाके में सनसनी फैल गई है। ईंट भट्ठा के पास लोगों की भीड़ जुट गई। स्थानीय लोगों ने तैराकों की मदद से सभी बच्चों की लाश को गड्ढे से बाहर निकला। मरने वाले सभी बच्चे 8 से 13 साल के थे। इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस व प्रशासन मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने सभी बच्चों की लाशों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

सदर DSP संतोष कुमार ने बताया ने बताया कि पांचों बच्चे ईंट भट्ठे के गड्ढे में मछली मारने गए थे, इसी दौरान डूबकर पांचों की मौत हो गई। पीड़ित परिवार को 4 लाख का मुआवजा प्रदान किया जाएगा। घटना के बाद मृत बच्चों के घर में कोहराम मच गया है। घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल है।

परिजनों का कहना था कि ईंट भट्ठा के पास कुछ दिन पहले ही JCB से मिट्‌टी का कटाव हुआ था। इस कारण वहां करीब 12 फीट गहरा गड्ढा हो गया था। पिछले तीन दिनों से हो रही बारिश के कारण गड्ढा लबालब हो गया। शनिवार दोपहर बच्चे अचानक मछली मारने के लिए निकल गए। उन्हें गड्ढे की गहराई का अंदाजा नहीं लगा, जिस वजह से हादसा हो गया। स्थानीय लोगों का कहना है कि ईंट भट्‌ठा संचालक को गड्ढा खोदने के बाद उसे भरवा देना चाहिए था। गांव में कई जगह ऐसे गड्ढे बन गए जो बरसात के दिनों लबालब हो जाते हैं। लोगों को उसकी गहराई का अंदाजा नहीं लगता है, जिस कारण से लगातार हादसा होता है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular