Sunday, April 11, 2021
Home राजनीति स्पीकर के पद पर हॉर्स ट्रेडिंग: सुमो ने नंबर के साथ बताया...

स्पीकर के पद पर हॉर्स ट्रेडिंग: सुमो ने नंबर के साथ बताया – लालू कर रहे NDA विधायकों को कॉल, भाजपा परेशान, हारी तो जाएगी सरकार


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Vidhan Sabha Speaker Election News Update : Sushil Modi Tweet Alleges Lalu Yadav Calling NDA MLAs

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना30 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए वोटिंग से पहले की रात सुशील मोदी ने राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है।

  • बिहार विधानसभा अध्यक्ष पद चुनाव के एक रात पहले सियासी सरगर्मी तेज
  • सुशील मोदी ने लालू यादव पर NDA विधायकों को लालच देने का आरोप लगाया

बिहार विधानसभा के अध्यक्ष पद के लिए वोटिंग से 24 घंटे पहले बिहार की राजनीति में खासी हलचल रही। महागठबंधन अपने उम्मीदवार के लिए अपने विधायकों को एकजुट रखकर और सत्ता पक्ष के विधायकों से अंतरात्मा की आवाज पर वोटिंग करने की अपील कर चुका है। अध्यक्ष पद के लिए अपना उम्मीदवार उतारकर भाजपा की बेचैनी बढ़ी हुई है तो जदयू खेमा शांत है। इसी क्रम में मंगलवार की देर शाम पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने एक ट्वीट कर राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है। उन्होंने आरोप लगाया है कि रांची में सजा काट रहे लालू यादव एनडीए विधायकों को फोन कर उन्हें लालच दे रहे हैं। इसके बाद दोनों ही पक्षों से बयानबाजी भी हो गई है।

क्या बोले सुशील मोदी

पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने देर शाम यह ट्वीट करके खलबली मचा दी कि एक खास नंबर से एनडीए के विधायकों से संपर्क किया जा रहा है। उन्हें प्रलोभन दिया जा रहा है। उन्होंने ट्वीट में कहा कि यह नंबर लालू यादव का है और जब उन्होंने उस नंबर पर फोन किया तो लालू यादव ने सीधे उसे रिसीव किया। तब सुशील मोदी ने कहा कि आप यह गंदा खेल बंद कीजिए, आप कभी सफल नहीं होंगे।

लालू के करीबी इरफान के नाम से ट्रू कॉलर पर सेव है नंबर

सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में जिस मोबाइल नंबर 8051216302 का जिक्र किया है, उसे जब ‘ट्रू कॉलर’पर जांचा गया तो यह नंबर ‘इरफान रांची लालू जी’ के नाम से सेव किया पाया गया है। इरफान लालू प्रसाद का पुराना सेवक रहा है। सुशील मोदी के इस ट्वीट से साफ पता चलता है कि बिहार की राजनीति में सब कुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है। एनडीए सरकार जादुई आंकड़े के दहलीज से थोड़ी ऊपर जरूर खड़ी है, लेकिन पूरी तरह से कंफर्टेबल नहीं है। ऐसे में एनडीए के नेताओं को यह डर अक्सर सताता है कि कहीं उनकी सरकार गिर ना जाए।

जदयू ने कहा- तेजस्वी शर्म करें, राजद के जवाब- पद से हटाए गए मोदी अनर्गल बयान दे रहे

सुशील मोदी के इस ट्वीट के बाद दोनों ओर से प्रतिक्रियाएं भी आईं। जदयू के मंत्री नीरज कुमार ने कहा – अब यह खुलासा हो चुका है कि लालू यादव जेल में बैठकर राजनीति कर रहे हैं। विधायकों को प्रलोभन दे रहे हैं। प्रमाणित हो चुका है। तेजस्वी यादव को शर्म करनी चाहिए कि वह इस तरह के खेल में शामिल हैं। यह लोग कभी सफल नहीं हो पाएंगे।

राजद के प्रदेश प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि सुशील मोदी लालू फोबिया से ग्रस्त रहे हैं और अनर्गल बयान देते रहते हैं। उप मुख्यमंत्री से हटाए गए हैं इसलिए चर्चा में बने रहने के लिए यह हथकंडा अपना रहे हैं।

पूरे दिन रही गहमागहमी

वोटिंग से पहले मंगलवार को पूरे दिन पक्ष और विपक्ष के नेता अपनी अपनी रणनीति बनाने में जुटे रहे। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने प्रोटेम स्पीकर जीतन राम मांझी से मुलाक़ात कर यह मांग तक कर दी कि उनके दो विधायकों, जीरादेई से अमरजीत कुशवाहा और मोकामा से अनंत सिंह, जो जेल में बंद हैं, उनके लिए वोटिंग की व्यवस्था वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से कराई जाए। देर शाम तक महागठबंधन के विधायकों की बैठगएक राबड़ी आवास पर चलती रही। भाकपा माले ने अवध बिहारी चौधरी के पक्ष में वोट देने के लिए अपने विधायकों पर व्हिप भी जारी कर दिया है, जो अमूमन इन चुनावों में नहीं होता है।

इस चुनाव के मायने क्या हैं

51 साल के बाद बिहार की राजनीति में विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए वोटिंग की नौबत आई है। यह चुनाव अब नीतीश कुमार बनाम तेजस्वी यादव हो चुका है। ऐसे में यदि इस चुनाव को राजद के नेता अवध बिहारी चौधरी जीत जाते हैं तो माना जाएगा कि सत्तारूढ़ दल को पूर्ण बहुमत नहीं है। ऐसे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस्तीफा भी देना पड़ सकता है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular