Monday, June 27, 2022
Homeराजनीतिहरदोई: इसरो के वैज्ञानिक की पत्नी ने रची थी लूट की झूठी...

हरदोई: इसरो के वैज्ञानिक की पत्नी ने रची थी लूट की झूठी कहानी, पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा


सार

इसरो के सहायक वैज्ञानिक के घर से लाखों की लूट का चार दिनों में पर्दाफाश करने वाली टीम की एसपी ने प्रशंसा की। एसपी ने गुडवर्क करने वाली टीम को 25 हजार का इनाम देने की घोषणा की। 

ख़बर सुनें

हरदोई में शहर कोतवाली क्षेत्र के पीतांबरगंज में इसरो के सहायक वैज्ञानिक के घर में लूटपाट नहीं हुई थी। वैज्ञानिक की पत्नी मुस्कान ने खुद घर से गहने गायब कर अपनी बहन व दोस्त को दे दिए थे। उसके बाद लूट की झूठी कहानी गढ़ी थी। यह करतूत ससुराल वालों को पता न चलेॉ इसलिए मुस्कान ने नकाबपोश बदमाशों के घर में घुसकर लूटपाट करने की बात कही थी।

शनिवार को एसपी ने लूट का खुलासा कर बहन व दोस्त को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। एसपी राजेश द्विवेदी ने पुलिस लाइन सभागार में पत्रकार वार्ता में बताया कि शहर कोतवाली केे पितांबरगंज निवासी इसरो के सहायक वैज्ञानिक शशांक उर्फ छोटू के घर में 29 मार्च को लूट हुई थी।

वैज्ञानिक की मां कांती देवी ने 29 मार्च को देर शाम पुलिस को घटना की सूचना दी थी। बताया था कि शशांक की पत्नी गर्भवती मुस्कान घर में थी। उसी दौरान तीन नकाबपोश बदमाश घर में घुसे और एक लाख रुपये और कई लाख के जेवरात लूट ले गए हैं।

कांती देवी ने कहा था कि घटना के वक्त वह बेटी के साथ किसी काम से घर के बाहर गईं थीं। एसपी ने बताया कि घटना को लेकर कांती देवी के नजदीकी लोगों पर ही संदेह हुआ। इसके चलते सर्विलांस, स्वॉट और एसओजी टीम के साथ ही कोतवाली पुलिस को घटना का खुलासा के लिए लगाया गया था।

इलाके में लगेे सीसीटीवी कैमरे चेक किए थे। इसमें किसी तरह के सबूत हाथ नहीं लगे थे। इसके बाद टीम ने मुस्कान की सीतापुर रोड निवासी बहन तनू व मुस्कान की सीतापुर निवासी दोस्त अमिता गुप्ता हिरासत में लेकर पूछताछ की तो दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। 

बताया कि मुस्कान ने अपने जेवर बहन तनू को दे दिए थे। इसकी जानकारी मुस्कान ने ससुराल वालों को नहीं दी थी। कुछ माह बाद मुस्कान के देवर और ननद की शादी है। जब शादी में ससुराल वाले उसे बिना गहनों के देखते तो उसकी पोल खुल सकती थी। इसके बाद घर में रखे बाकी जेवर पहले ही अपनी दोस्त अमिता को दे दिए थे।

इसके बाद जिस समय सास व ननद घर से बाहर गईं थी, तभी मुस्कान ने लूट की झूठी कहानी रच डाली। एसपी ने बताया तनू व अमिता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।  बताया जा रहा है कि इस साजिश में एक और महिला शामिल थी। उसकी तलाश की जा रही है।

गुडवर्क करने वाली टीम को 25 हजार का इनाम
इसरो के सहायक वैज्ञानिक के घर से लाखों की लूट का चार दिनों में पर्दाफाश करने वाली टीम एसपी ने प्रशंसा की। एसपी ने गुडवर्क करने वाली टीम को 25 हजार का इनाम देने की घोषणा की। इसी तरह पुलिस कार्य करे तो जनता के बीच पुलिस की छवि बेहतर होगी। 

विस्तार

हरदोई में शहर कोतवाली क्षेत्र के पीतांबरगंज में इसरो के सहायक वैज्ञानिक के घर में लूटपाट नहीं हुई थी। वैज्ञानिक की पत्नी मुस्कान ने खुद घर से गहने गायब कर अपनी बहन व दोस्त को दे दिए थे। उसके बाद लूट की झूठी कहानी गढ़ी थी। यह करतूत ससुराल वालों को पता न चलेॉ इसलिए मुस्कान ने नकाबपोश बदमाशों के घर में घुसकर लूटपाट करने की बात कही थी।

शनिवार को एसपी ने लूट का खुलासा कर बहन व दोस्त को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। एसपी राजेश द्विवेदी ने पुलिस लाइन सभागार में पत्रकार वार्ता में बताया कि शहर कोतवाली केे पितांबरगंज निवासी इसरो के सहायक वैज्ञानिक शशांक उर्फ छोटू के घर में 29 मार्च को लूट हुई थी।

वैज्ञानिक की मां कांती देवी ने 29 मार्च को देर शाम पुलिस को घटना की सूचना दी थी। बताया था कि शशांक की पत्नी गर्भवती मुस्कान घर में थी। उसी दौरान तीन नकाबपोश बदमाश घर में घुसे और एक लाख रुपये और कई लाख के जेवरात लूट ले गए हैं।

कांती देवी ने कहा था कि घटना के वक्त वह बेटी के साथ किसी काम से घर के बाहर गईं थीं। एसपी ने बताया कि घटना को लेकर कांती देवी के नजदीकी लोगों पर ही संदेह हुआ। इसके चलते सर्विलांस, स्वॉट और एसओजी टीम के साथ ही कोतवाली पुलिस को घटना का खुलासा के लिए लगाया गया था।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular