Friday, September 17, 2021
Home विश्व 10 सप्ताह बाद यूरोप में फिर से बढ़ने लगे कोरोना केस, WHO...

10 सप्ताह बाद यूरोप में फिर से बढ़ने लगे कोरोना केस, WHO ने जताई चिंता


जेनेवा. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर फिर से चिंता जताई है. WHO के अनुसार, यूरोप में जहां कोरोना के मामले कम हो गए थे. वहीं एक बार फिर 10 सप्ताह बाद इनमें बढ़ोतरी हो गई है. यह जानकारी न्यूज एजेंसी एएफपी ने दी.

वहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि डब्ल्यूएचओ ने कोरोना महामारी को लेकर दुनिया के सभी देशों को एक बार फिर से चेतावनी जारी की है. डब्ल्यूएचओ ने ने कहा है कि आने वाले महीनों में कोरोना वायरस का डेल्टा वैरिएंट दुनियाभर में तेजी से फैलेगा. डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि कोरोना का वैरिएंट अब लगभग 100 देशों में मौजूद है और साछ चेतावनी दी है कि आने वाले महीनों में अत्यधिक संक्रामक डेल्टा वैरिएंट वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस का प्रमुख वैरिएंट बन जाएगा.

अपने COVID-19 वीकली एपिडेमियोलॉजिकल अपडेट में WHO ने कहा कि 96 देशों ने डेल्टा वेरिएंट के मामलों की सूचना दी है, हालांकि ये आंकड़ा कम है क्योंकि वेरिएंट की पहचान करने के लिए आवश्यक अनुक्रमण क्षमता सीमित है. इनमें से कई देश इस प्रकार के संक्रमण और अस्पताल में भर्ती होने के लिए खुद जिम्मेदार हैं.

ये भी पढ़ें: अमेरिका में कोरोना के डेल्टा वेरिएंट से नई लहर की आशंका, अब ये उपाय अपना रही सरकार

कोरोना के इस वैरिएंट में तेजी को देखते हुए डब्ल्यूएचओ ने चेतावनी दी कि डेल्टा वैरिएंट आने वाले महीनों में कोरोना के अन्य वैरिएंट को तेजी से पछाड़ते हुए दुनिया का सबसे प्रमुख वैरिएंट बन जाएगा. पिछले हफ्ते, डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस ने कहा कि डेल्टा वैरिएंट अब तक पहचाने गए वैरिएंट का सबसे अधिक संक्रामक स्वरूप है और बिना टीकाकरण वाली आबादी के बीच ये तेजी से फैल रहा है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular