500 रुपए देकर बन रही थी पिस्टल: मुंगेर में किराए के घर के तहखाने में चल रही थी गन फैक्ट्री, 3 गिरफ्तार

0
9
Quiz banner


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Munger
  • Pistol Was Made By Paying 500 Rupees As Wages, Gun Factory Was Running In A Rented House In Munger, The Rent Was 50 Thousand Rupees

मुंगेर6 मिनट पहले

मुंगेर में 500 रुपए मजदूरी देकर तहखाने में पिस्टल बनवाई जा रही थी। टेटियाबंबर थाना के खपड़ा गांव में एक किराए के मकान में मिनीगन फैक्टरी चलाया जा रहा था। जहां 50 हजार प्रतिमाह मकान का किराया था। पुलिस और STF ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए शुक्रवार को यह खुलासा किया। साथ ही तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

कारीगरों को प्रति पिस्टल 500 से 1000 रूपए मजदूरी दी जाती थी। हथियार बनाने के लिए उपकरण और अन्य कच्चा माल की आपूर्ति एक कारोबारी करता था और निर्मित हथियार खुद ले जाता था। अभी वह फरार है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

पुलिस अधीक्षक जगुनाथरेड्डी जलारेड्डी ने बताया कि पुलिस ने मौके पर से तीन हथियार कारोबारियों को गिरफ्तार किया गया है। जिसमें गृहस्वामी खपड़ा गांव के 45 वर्षीय सुरेंद्र मंडल, कासिम बाजार थाना क्षेत्र के मोकबीरा निवासी 19 वर्षीय राहुल कुमार एवं 42 वर्षीय संजय कुमार साह शामिल है। पुलिस की पूछताछ में सभी ने अपनी संलिप्तता स्वीकार किया है। साथ ही जो व्यक्ति हथियार बनवाता था उसके संबंध में भी जानकारी दी है।

पिस्टल बनाने के सामान।

पिस्टल बनाने के सामान।

एसपी ने बताया कि गिरफ्तार सुरेंद्र मंडल ने उक्त व्यक्ति का नाम लेते हुए बताया कि उसने किराए पर उसका मकान लिया था। प्रतिमाह 50 हजार किराया दिया जाता था। पिछले दो माह से यहां हथियार बनाने का खेल चल रहा था। एक ही घर में एक तहखाना बनाया गया था। उसके अंदर लेंथ मशीन, मिलिंग मशीन सहित अन्य उपकरण का बैठाए गए थे। सीढ़ी से कारीगर नीचे उतरते थे और वहां पर हथियार बनाने का काम करते थे।

पिस्टल बनाने की मशीन।

पिस्टल बनाने की मशीन।

हथियार माफिया के बारे में सवाल पर एसपी ने कहा गिरफ्तारी के बाद ही खुलासा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि स्थानीय हथियार माफिया मिनीगन फैक्टरी में तैयार हथियार खुद ले जाता था जो अपने स्तर से हथियारों को बेचता था।

छापेमारी में ड्रिल मशीन और मिलिंग मशीन सहित कई तरह के उपकरण मिले हैं।

छापेमारी में ड्रिल मशीन और मिलिंग मशीन सहित कई तरह के उपकरण मिले हैं।

एसपी जगुनाथरेड्डी जलारेड्डी ने बताया कि पुलिस ने मिनीगन फैक्टरी से भारी मात्रा में सामानों की बरामदगी की है। पुलिस ने मौके पर से लेंथ मशीन-01, ड्रिल मशीन -01, मिलिंग मशीन-01, ग्राइंडर मशीन-01, ड्रिल मशीन (छोटा)-02, बेस मशीन-04, अर्धनिर्मित पिस्टल का बॉडी, अर्धनिर्मित पिस्टल का पीठीया- 84, अर्धनिर्मित पिस्टल बॉडी बनाने का लोहा का पट्टा-08, पिस्टल सलाइट बनाने के लिए लोहा का पट्टा-48, हैंड ड्रीलय मशीन-02, पिस्टल ग्रिप -32, गोली(7.65 एमएम)-02, गोली(9 एमएम)-01 सहित हथियार बनाने का सामान जैसे रेती, स्प्रिंग, छेनी, पिस्टल बनाने का रॉड अन्य सामन बरामद किया गया है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here