Sunday, May 9, 2021
Home गैजेट्स 8 फरवरी के बाद डिलीट करना पड़ सकता है आपको अपना WhatsApp...

8 फरवरी के बाद डिलीट करना पड़ सकता है आपको अपना WhatsApp Account, बचने के लिए समय रहते कर लें ये काम


नए साल में पॉपुलर इंस्टेंट मैसेजिंग एप व्हाट्सएप (WhatsApp) की पॉलिसी में बदलाव होने जा रहा है। इसके संदर्भ में करोड़ों भारतीय यूजर्स को व्हाट्सएप की ओर से एक नोटिफिकेशन (WhatsApp Notification) मिला है। इस नोटिफिकेषन में यूजर्स को सेवा की शर्तों और गोपनीयता नीति में बदलावों को स्वीकार करने के लिए कहा गया है। 8 फरवरी तक ऐसा न करने पर यूजर के खाते को हटा दिया जाएगा।

ऐप नोटिफिकेशन के बहुत अधिक विवरण नहीं मिले हैं, लेकिन लिंक पर क्लिक करने पर यह बताया गया है कि व्हाट्सएप उपयोगकर्ताओं की जानकारी को मूल कंपनी फेसबुक के साथ आगे बढ़ाने और प्रोसेस करने को लेकर बदलाव किए गए हैं।

यह लिखा है अपडेट पॉलिसी में
व्हाट्सएप की अपडेटेड पॉलिसी में लिखा है, जब आप हमारी सेवाओं को इंस्टॉल करते हैं या उपयोग करते हैं तो व्हाट्सएप को अपनी सेवाओं को संचालित करने, उपलब्ध कराने, सुधारने, समझने, कस्टमाइज करने, सपोर्ट करने और मार्केटिंग की कुछ जानकारी इकट्ठा करनी होती है। हमारी सेवाओं का उपयोग करने वाले और आपस में बातचीत करने वाले व्यवसायों को अपनी बातचीत की जानकारी हमें देने की जरूरत है। व्हाट्सएप की ये नई सेवा शर्तें और गोपनीयता नीति 8 फरवरी से लागू होंगी।

मोबाइल मैसेजिंग प्लेटफॉर्म ने कहा कि वह अपनी सेवाओं को संचालित करने, उपलब्ध करने, सुधारने, समझने, कस्टमाइज करने, सपोर्ट करने और मार्केटिंग में मदद करने के लिए थर्ड-पार्टी सर्विस प्रोवाइडर और अन्य फेसबुक कंपनियों के साथ काम करता है।

मैसेंजर चैट, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप को करना चाहते हैं मर्ज
इसमें आगे कहा गया है, ये कंपनियां हमें कुछ खास परिस्थितियों में आपके बारे में जानकारी प्रदान कर सकती हैं। उदाहरण के लिए ऐप स्टोर हमें सेवा की समस्याओं को समझने और उन्हें ठीक करने में मदद करने के लिए रिपोर्ट प्रदान कर सकते हैं।

बता दें कि अक्टूबर में फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कहा था कि कंपनी मैसेंजर चैट, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप को मर्ज करने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं। ताकि वे एक तरीके से जुड़े इंटरऑपरेबल सिस्टम की तरह काम करना शुरू कर सकें।

यह भी पढ़ें-अगर नहीं किया ये काम तो 2021 से पुराने स्मार्टफोन में नहीं चला पाएंगे इंटरनेट, यहां जानें डिटेल

whatsapp_2.png

व्हाट्सएप को लाना चाहते हैं इंटरऑपरेबिलिटी में
जुकरबर्ग ने विश्लेषकों को बताया था, यहां और काम करना है। हम निश्चित रूप से व्हाट्सएप को उस इंटरऑपरेबिलिटी में लाना चाहते हैं। इसके अलावा ऐसी और भी विशेषताएं हैं जो हम मैसेंजर, इंस्टाग्राम इंटरऑपरेबिलिटी में भी जोड़ना चाहते हैं। अपनी नई नीति में व्हाट्सएप ने कहा है कि यदि आप हमारी सेवाओं का उपयोग ऐसी थर्ड-पार्टी सेवाओं या फेसबुक कंपनी के प्रोडक्ट्स के साथ करते हैं, तो हम आपसे उनके बारे में जानकारी ले सकते हैं।

उदाहरण के लिए यदि आप न्यूज सर्विस पर व्हाट्सएप शेयर बटन का उपयोग उसे अपने व्हाट्सएप कॉन्टैक्ट्स, ग्रुप्स या ब्रॉडकास्ट लिस्ट के साथ साझा करते हैं, यदि आप मोबाइल कैरियर या डिवाइस प्रोवाइडर के प्रचार के जरिए हमारी सेवाओं का उपयोग करने का विकल्प चुनते हैं।

यह भी पढ़ें-नए साल में WhatsApp में होंगे ये 3 बड़े बदलाव, जानिए क्या बदल जाएगा इसमें

यूजर्स को होंगे ये फायदे
साथ ही व्हाट्सएप फेसबुक कंपनियों के हिस्से के रूप में आपको दोस्तों, समूहों, कंन्टेंट आदि को लेकर सुझाव भी दे सकता है। आपको शॉपिंग करने, संबंधित ऑफर दिखाने, फेसबुक कंपनियों के प्रोडक्ट के विज्ञापन दिखाने जैसे काम कर सकता है। उदाहरण के लिए यह आपको व्हाट्सएप पर चीजों का भुगतान करने के लिए अपने फेसबुक पे अकाउंट को कनेक्ट करने की अनुमति देता है। साथ ही नए व्हाट्सएप अकाउंट को कनेक्ट करके आपको अन्य फेसबुक कंपनी प्रोडक्ट्स जैसे पोर्टल पर अपने दोस्तों के साथ चौट करने की अनुमति देता है।












Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular