Tuesday, April 13, 2021
Home राजनीति Agra Pollution: शहर की हवा और हुई खतरनाक, एक्यूआई 383 पर पहुंचा

Agra Pollution: शहर की हवा और हुई खतरनाक, एक्यूआई 383 पर पहुंचा


आगरा में वायु प्रदूषण
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

मंगलवार को शहर की हवा और खतरनाक हो गई। संजय प्लेस क्षेत्र में आगरा का एयर क्वालिटी इंडेक्स 383 दर्ज किया गया। हालांकि शहर में उन जगहों पर प्रदूषण स्तर और ज्यादा रहा, जहां पर सीवर लाइन की खोदाई का काम जारी है। दिवाली के बाद बारिश से मिट्टी के कण दब गए, लेकिन अब खोदाई फिर से शुरू होने के बाद हालात फिर से खराब हो रहे हैं। शहर में प्रदूषण स्तर में फिर से लगातार इजाफा हो रहा है। मंगलवार को आगरा की हवा की गुणवत्ता बेहद खराब स्तर पर रही। 

शहर में इन जगहों पर ज्यादा जहरीली हवा
जगह                                           एक्यूआई
आईएसबीटी                                  446
ईदगाह                                         437
विभव नगर                                    411
आगरा फोर्ट स्टेशन                         411
शमशान घाट                                414
तहसील चौराहा                             406
कलाकृति तिराहा                           406

डामर चलाने से उठा धुआं 
उत्तर प्रदेश सेतु निगम यूपीएसआईडीसी साइट सी रुनकता के बीच रेलवे पुल का निर्माण कर रहा है। निर्माण के दौरान धूल नियंत्रण के उपाय नहीं किए गए, वहीं लिंक रोड बनाने के काम में मंगलवार को डामर जलाया गया। डामर जलाने से पूरे क्षेत्र में काला धुआं उठता रहा। यूपीएसआईडीसी रोड पर तीन मैरिज होम और पांच बड़ी आवासीय अपार्टमेंट हैं, जिनमें छह हजार से ज्यादा परिवार रह रहे हैं। डामर जलाने के कारण काले धुएं से लोगों को सांस लेने में परेशानी होती रही। चार महीने से पुल के निर्माण के दौरान सेतु निगम के इंजीनियरों ने धूल नियंत्रण के उपाय नहीं किए, जिस वजह से यूपीएसआईडीसी साइट सी रोड पर दिन भर धूल के गुबार उठते रहे हैं। 

जल्द शीतलहर की दस्तक
मंगलवार को भी शहर में तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम रहा। शीतलहर के कारण दिन का तापमान सामान्य से तीन डिग्री नीचे 25 डिग्री पर और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री पर पहुंच गया है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान केंद्र के मुताबिक गुरुवार से सुबह धुंध और हल्का कोहरा बने रहने के आसार बन रहे हैं। इस दौरान तापमान में दो से तीन डिग्री की गिरावट दर्ज की जा सकती है। पश्चिमी विक्षोभ की दस्तक के कारण गुरुवार से शीतलहर दस्तक देगी, जिससे तापमान में लगातार गिरावट का सिलसिला शुरू हो जाएगा।

मंगलवार को शहर की हवा और खतरनाक हो गई। संजय प्लेस क्षेत्र में आगरा का एयर क्वालिटी इंडेक्स 383 दर्ज किया गया। हालांकि शहर में उन जगहों पर प्रदूषण स्तर और ज्यादा रहा, जहां पर सीवर लाइन की खोदाई का काम जारी है। दिवाली के बाद बारिश से मिट्टी के कण दब गए, लेकिन अब खोदाई फिर से शुरू होने के बाद हालात फिर से खराब हो रहे हैं। शहर में प्रदूषण स्तर में फिर से लगातार इजाफा हो रहा है। मंगलवार को आगरा की हवा की गुणवत्ता बेहद खराब स्तर पर रही। 

शहर में इन जगहों पर ज्यादा जहरीली हवा

जगह                                           एक्यूआई

आईएसबीटी                                  446
ईदगाह                                         437
विभव नगर                                    411
आगरा फोर्ट स्टेशन                         411
शमशान घाट                                414
तहसील चौराहा                             406
कलाकृति तिराहा                           406

डामर चलाने से उठा धुआं 
उत्तर प्रदेश सेतु निगम यूपीएसआईडीसी साइट सी रुनकता के बीच रेलवे पुल का निर्माण कर रहा है। निर्माण के दौरान धूल नियंत्रण के उपाय नहीं किए गए, वहीं लिंक रोड बनाने के काम में मंगलवार को डामर जलाया गया। डामर जलाने से पूरे क्षेत्र में काला धुआं उठता रहा। यूपीएसआईडीसी रोड पर तीन मैरिज होम और पांच बड़ी आवासीय अपार्टमेंट हैं, जिनमें छह हजार से ज्यादा परिवार रह रहे हैं। डामर जलाने के कारण काले धुएं से लोगों को सांस लेने में परेशानी होती रही। चार महीने से पुल के निर्माण के दौरान सेतु निगम के इंजीनियरों ने धूल नियंत्रण के उपाय नहीं किए, जिस वजह से यूपीएसआईडीसी साइट सी रोड पर दिन भर धूल के गुबार उठते रहे हैं। 

जल्द शीतलहर की दस्तक
मंगलवार को भी शहर में तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम रहा। शीतलहर के कारण दिन का तापमान सामान्य से तीन डिग्री नीचे 25 डिग्री पर और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री पर पहुंच गया है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान केंद्र के मुताबिक गुरुवार से सुबह धुंध और हल्का कोहरा बने रहने के आसार बन रहे हैं। इस दौरान तापमान में दो से तीन डिग्री की गिरावट दर्ज की जा सकती है। पश्चिमी विक्षोभ की दस्तक के कारण गुरुवार से शीतलहर दस्तक देगी, जिससे तापमान में लगातार गिरावट का सिलसिला शुरू हो जाएगा।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular