Sunday, September 26, 2021
Home राजनीति AKTU में बायोटेक्नोलॉजी पर जोर: 6 करोड़ की लागत से सेंटर फॉर...

AKTU में बायोटेक्नोलॉजी पर जोर: 6 करोड़ की लागत से सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज में खुलेगा बायोटेक का सेंटर फॉर एक्सीलेंस, वित्त समिति की 58 वीं बैठक लिया गया फैसला


लखनऊएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक यूनिवर्सिटी (एकेटीयू) में शनिवार के कुलपति प्रो विनय कुमार पाठक की अध्यक्षता में वित्त समिति की 58 वीं बैठक हुई। बैठक में आईईटी में बीटेक बायोटेक का पाठ्यक्रम सेल्फ फाइनेंसिंग मोड में संचालित किये जाने को हरी झंडी प्रदान की गयी।

इसके साथ ही बायोटेक के क्षेत्र में उच्च स्तरीय शोध कार्यों को बढ़ावा देने के लिए एक सेंटर फॉर एक्सीलेस की स्थापना किये जाने का भी निर्णय लिया गया है। यह सेंटर फॉर एक्सीलेंस विवि के सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज में स्थापित किया जायेगा। सेंटर को स्थापित करने के लिए लगभग 6 करोड़ रूपये के बजट का प्रावधान किया गया है।

कोरोना से माता-पिता को खोने वाले स्टूडेंट्स की फीस खुद देगा AKTU

कुलपति प्रो पाठक के अनुसार कोरोना 19 महामारी के कारण जिन विद्यार्थियों के माता/पिता का निधन हुआ है, ऐसे सभी विद्यार्थियों की शेष बचे सभी सत्रों के शुल्क का वहन विवि द्वारा किये जाने का निर्णय लिया गया है। यह लाभ विवि के निजी एवं शासकीय दोनों क्षेत्रों के संस्थानों के विद्यार्थियों को दिए जाने का निर्णय लिया गया है।

शासकीय एवं निजी संस्थानों में कार्यरत जिन शिक्षकों की मृत्यु कोविड-19 संक्रमण से हुई है, उनके परिवारी जनों को पांच लाख रुपये की सहायता धनराशि विवि की ओर से दी जाएगी।

डॉ आयुष श्रीवास्तव को पुरुस्कार के तौर पर पचास हजार रुपये , तुलसीराम एवं अशोक कुमार को दस-दस हजार रूपये की पुरुस्कार धनराशि प्रदान किये जाने का निर्णय लिया गया है। बैठक में विशेष सचिव, प्राविधिक शिक्षा कृपाशंकर, प्रतिकुलपति प्रो विनीत कसंल, विवि के वित्त अधिकारी जीपी सिंह, कुलसचिव नन्द लाल सिंह, परीक्षा नियंत्रक प्रो राजीव कुमार, डीन एफओए प्रो वंदना सहगल समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular