Saturday, May 28, 2022
HomeखेलCSK की गेंदबाजी और KKR की बैटिंग में होगा मुकाबला, एक-दूसरे से...

CSK की गेंदबाजी और KKR की बैटिंग में होगा मुकाबला, एक-दूसरे से ‘जंग’ करेंगे दिग्गज


नई दिल्ली: आईपीएल 2022 की शुरुआत 26 मार्च से हो रही है. पहला मैच चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच होना है. दोनों ही टीमें पिछले सीजन के फाइनल में भिड़ चुकी हैं. दोनों ही टीमों में कई स्टार प्लेयर्स शामिल हैं, जो मैच पलटने का माद्दा रखते हैं. पहले मैच में सीएसके की गेंदबाजी और केकेआर की बल्लेबाजी के बीच मुकाबला होगा. ऐसे में इन टीमों के प्लेयर्स एक-दूसरे से रोमांचक जंग करते हुए दिखाई दे सकते हैं. 

श्रेयस अय्यर और रवींद्र जडेजा 

श्रेयस अय्यर बहुत ही शानदार फॉर्म में चल रहे हैं. उन्होंने हाल में खत्म हुई श्रीलंका सीरीज और वेस्टइंडीज के खिलाफ शानदार पारियां खेली हैं. उनके तरकश में हर वो तीर मौजूद है, जो किसी भी विरोधी टीम को धराशाई कर सके. ऐसे में उनकी टक्कर चेन्नई सुपर किंग्स के नए कप्तान बने रवींद्र जडेजा से होगी. जडेजा की गेंदों को खेलना किसी के लिए भी आसान नहीं है. वह अपना ओवर बहुत ही जल्दी पूरा कर लेते हैं और काफी किफायती भी साबित होते हैं. ऐसे में इन दोनों की रोमांचक जंग देखने के लिए दर्शक बहुत ही लालायित हैं. 

ड्वेन ब्रावो और आंद्रे रसेल 

केकेआर की तरफ से खेलने वाले आंद्रे रसेल बहुत ही आक्रामक बैटिंग करने के लिए जाने जाते हैं. वह क्रीज पर आते ही चौकों और छक्कों की बरसात कर देते हैं. वह डेथ ओवर्स में खूब रन कूटते हैं. वहीं, दूसरी तरफ चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से खेलने वाले ड्वेन ब्रावो डेथ ओवर्स में शानदार गेंदबाजी करते हैं. पिछले सीजन चेन्नई सुपर किंग्स को चैंपियन बनाने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी. ब्रावो की धीमी गति पर विकेट लेने की कला से सभी अच्छी तरह से वाकिफ हैं. ब्रावो के नाम आईपीएल के एक सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड है. 

ऋतुराज गायकवाड़ और वरुण चक्रवर्ती 

ऋतुराज गायकवाड़ ने आईपीएल में अपने खेल से सभी का दिल जीत लिया है. उन्होंने आईपीएल 2021 के 16 मैचों में 636 रन बनाए हैं. उन्होंने अपने बल्ले के दम पर सारी दुनिया में नाम कमाया है. जब वह अपनी लय में हों तो किसी भी गेंदबाजी क्रम की धज्जियां उड़ा सकते हैं. वहीं, वरुण चक्रवर्ती आईपीएल 2021 की खोज रहे हैं. उनकी गुगली को पढ़ पाना बड़े से बड़े बल्लेबाज के लिए भी आसान नहीं है. वरुण अपने ओवर्स में बहुत ही कम रन देते हैं. वह गेंद को बहुत ही धीमी गति से छोड़ते हैं, जिससे बल्लेबाज उनकी गेंदों को पढ़ नहीं पाता है और आउट हो जाता है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular