Tuesday, May 18, 2021
Home विश्व Honeytrap: चीनी जासूस की सुंदरता के जाल फंसे कई अमेरिकी राजनेता, खुफिया...

Honeytrap: चीनी जासूस की सुंदरता के जाल फंसे कई अमेरिकी राजनेता, खुफिया जानकारी लीक होने का खतरा


वॉशिंगटन: अमेरिका (America) को चीन (China) की एक ऐसी जासूस के बारे में पता चला है जिसने अपनी सुंदरता के जाल में कई बड़े अमेरिकी राजनेताओं को फंसाया. अमेरिका को शक है कि चीनी जासूस इन नेताओं से कुछ खुफिया जानकारी हासिल करने में सफल रही है. क्रिस्टीन फांग (Christine Fang) नामक चीनी जासूस 4 साल तक यूएस में रही और 2015 में वापस लौट गई. इस दौरान, उसने कई नेताओं से शारीरिक संबंध भी बनाए. 

Student बनकर आई थी

‘द सन’ की रिपोर्ट के मुताबिक, क्रिस्टीन फांग अमेरिका (America) में स्टूडेंट बनकर आई थी और उसने कई अमेरिकी राजनेताओं को अपने जाल में फंसाया. इसमें डेमोक्रेटिक सांसद और यूएस सीनेट के इंटेलिजेंस कमेटी के मेंबर एरिक स्वैलवेल भी शामिल हैं. आरोप यह भी है कि स्वैलवेल और क्रिस्टीन के बीच शारीरिक संबंध थे. हालांकि, अमेरिकी सांसद ने सार्वजनिक रूप से इस रिश्ते को कभी स्वीकार नहीं किया.

ये भी पढ़ें -Donald Trump के समर्थकों का हिंसक प्रदर्शन, Twitter-Instagram अकाउंट सस्पेंड; महिला की मौत के बाद कर्फ्यू

सांसद के लिए जुटाया था पैसा

रिपोर्ट में यह दावा भी किया गया है कि 2014 में चीनी जासूस ने एरिक स्वैलवेल के चुनाव लड़ने के लिए फंडिंग की थी. एरिक क्रिस्टीन फांग की सुंदरता देखकर फिदा हो गए थे. जिसके बाद इन दोनों के बीच मुलाकातों का सिलसिला शुरू हो गया और दोनों नजदीक आते गए. हालांकि, जब अमेरिकी खुफिया एजेंसी FBI ने एरिक को उसके चीनी जासूस होने की जानकारी दी, तब उन्होंने क्रिस्टीन से दूरी बना ली.

VIDEO

FBI को दिया चकमा
रिपोर्ट में कहा गया है कि 2015 में FBI ने क्रिस्टीन फांग को रंगे हाथ पकड़ने के लिए जाल भी बिछाया था, लेकिन वो उसे चकमा देने में कामयाब रही. अमेरिकी एजेंसी के हाथों में आने से पहले ही क्रिस्टीन देश छोड़कर फरार हो गई. बताया जाता है कि उसे अमेरिका से फरार करवाने में कई अमेरिकी राजनेताओं का भी हाथ था. वैसे, क्रिस्टीन फांग अकेली ऐसी जासूस नहीं है जो अमेरिका में चीन के लिए जानकारी जुटा रही थी. अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के पूर्व अधिकारी डेनियल हॉफमैन ने हाल ही में एक इंटरव्यू में कहा कि चीन के हजारों की संख्या में हनीट्रैप जासूस हमारे देश में सक्रिय हैं. ये जासूस गुप्त सूचनाओं को चीन तक पहुंचाने का काम करते हैं. 

Social Media का करते हैं इस्तेमाल  

डेनियल हॉफमैन के अनुसार, चीन हर साल सैकड़ों की संख्या में अपने जासूसों को छात्र के रूप में अमेरिकी विश्वविद्यालयों में दाखिला दिलवाता है. यहां से ये जासूस अमेरिकी राजनेताओं और अधिकारियों को अपने जाल में फंसाकर खुफिया सूचनाएं निकलवाते हैं. चीनी जासूस हनीट्रैप में फंसाने के लिए सोशल मीडिया का खूब उपयोग करते हैं. इसके जरिए ये अमेरिकी राजनेताओं और अधिकारियों के साथ संपर्क स्थापित करते हैं. उन्होंने आगे कहा कि क्रिस्टीन फांग को अमेरिका में जासूसी के लिए भेजा गया था. मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि अब भी बड़ी संख्या में चीनी जासूस अमेरिका में सक्रिय हैं.

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular