Friday, April 16, 2021
Home गैजेट्स HT Codeathon: कोडिंग प्रतियोगिता का 23 दिसंबर को फाइनल, 400 प्रतिभागियों में...

HT Codeathon: कोडिंग प्रतियोगिता का 23 दिसंबर को फाइनल, 400 प्रतिभागियों में से चुना जाएगा चैंपियन


ऐसे समय में जब टीचर्स छात्रों को टेक्नोलॉजी, कंप्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग के महत्व को समझा रहे हैं, जरूरी है कि उन्हें कोडिंग भी सिखाई जाए। इससे बच्चों की तार्किक समझ का तो विकास होगा ही, साथ ही उनकी प्रोब्लम-सॉल्विंग स्किल भी बेहतर होगी। 

दिल्ली सरकार के साथ मिलकर शुरू हुआ HT Codeathon भारत के सबसे बड़े कोडिंग अभियानों में से एक है। इसे देशभर के 10 हजार स्कूलों से करीब 61 हजार रजिस्ट्रेशन मिले हैं। मुश्किल असेसमेंट, प्रैक्टिस मोड्स और कोर्स क्विज़ के बाद, 23 दिसंबर को होने वाले फाइनल में 400 फाइनलिस्ट में से Codeathon चैंपियन का ऐलान किया जाएगा। 

HT Codeathon को पेश करने वाले Cuemath के सीईओ और को-फाउंडर मनन खुरमा ने कहा, ‘गणित और कोडिंग भविष्य की भाषा होगी… क्यूमेथ में आप स्वत: ही गणित और कोडिंग सीखते हैं। हमारा इरादा मजबूत गणितीय नींव के साथ बच्चों में समस्या सुलझाने की मानसिकता तैयार करना है।’

इस इवेंट के कोडिंग फॉर कॉज़ पार्टनर IBM के वाइस प्रेसिडेंट और इंडिया व साउथ अफ्रीका के एचआर हेड चैतन्य श्रीनिवास ने कहा, ”ऐसी न्यू-कॉलर जॉब्स जिनमें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, क्लाउड, सिक्योरिटी, डेटा साइंस जैसे क्षेत्रों की तकनीकी स्किल्स की जरूरत पड़ती है; उन्हें बढ़ावा मिलना भारत के युवाओं और खासकर छात्राओं के लिए एक शानदार अवसर की तरह है।”

एचटी कोडेथॉन के तहत दिल्ली सरकार के स्कूलों के 13,461 छात्रों को कोडिंग और प्रोग्रामिंग बेसिक सिखाए गए। छात्रों की प्रशंसा करते हुए दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया बोले, ‘कोडिंग में शानदार प्रदर्शन के लिए दिल्ली सरकार के स्कूली छात्रों पर गर्व है। उनमें से 28 ने एचटी कोडेथॉन में 100 फाइनलिस्ट में जगह बनाई है। उन छात्रों और उनके शिक्षकों को एक बधाई।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular